अच्छे दिन आएंगे

अच्छे दिन आएंगे

बचपन में अक्सर पिताजी भाई से कहा करते थे, 'पढ़ोगे-लिखोगे तो अच्छे दिन आएंगे। उस समय मैं सोचती थी, अच्छे दिन का पढ़ाई से क्या मतलब है।...

दादाजी की दाढ़ी-मूंछें काट डाली

दादाजी की दाढ़ी-मूंछें काट डाली...

तब मैं बहुत छोटी थी। मेरी दादी को मेरे दादाजी का दाढ़ी-मूंछें रखना बिल्कुल पसंद नहीं था। अक्सर बातचीत के दौरान वे दादाजी से इस बात...

ढक्कन तो है ही नहीं

ढक्कन तो है ही नहीं

बात बहुत पुरानी है। मेरा प्यारा भतीजा पंकज बचपन में बहुत प्यारी-प्यारी बातें किया करता था। एक दिन उसे हर थोड़ी देर में बाथरूम जाना...

मैं अपनी मम्मी को बूढ़ी नहीं होने दूंगा

मैं अपनी मम्मी को बूढ़ी नहीं होने...

बात अब से 22-23 साल पहले की है। हम संयुक्त परिवार में रहते थे। मेरे बेटे को मुझ से बहुत ज्यादा प्यार था इसलिए वह हमेशा मेरे आसपास रहता...

फ्रिज में सेब का पेड़

फ्रिज में सेब का पेड़

बात तब की है जब मैं चार वर्ष का था। मुझे सेब बहुत अच्छे लगते थे। मैंने पापा से कहा, पापा क्यों न हम अपने बाग में सेब का एक पेड़ लगवा...

जिसने बांधा, वही खोले

जिसने बांधा, वही खोले

बात तब की है, जब मैं तकरीबन तीन-चार साल की थी। मेरे पिताजी रोज सुबह 'दुर्गा सप्तशती का पाठ करके ही ऑफिस जाया करते थे। एक दिन उनकी पूजा...

इतना खाते हैं शर्म नहीं आती

इतना खाते हैं शर्म नहीं आती

हमारे घर पर पापा के कुछ दोस्त आए हुए थे तो मम्मी ने तरह-तरह के पकवान बनाए। मैं भी मम्मी का हाथ बंटा रही थी। जब मेहमान खाने पर आए तो...

मुझे जहन्नुम जाना है

मुझे जहन्नुम जाना है

बचपन में मुझे घूमने का बहुत शौक था, खासकर पापा के स्कूटर पर पीछे बैठ कर। पापा भी मेरी इस पसंद से अच्छी तरह से वाकिफ थे इसलिए वो अक्सर...

खूब पड़ी बारिश की मार

खूब पड़ी बारिश की मार

जब मैं 7-8 साल का था, मुझे बारिश में नहाना बहुत पसंद था। एक दिन की बात है, मैं स्कूल के लिए निकला। मैंने देखा बहुत जोर की बारिश आ रही...

पोल

देश भर में लागू हुए समान कर प्रणाली (GST) से क्या आप सहमत हैं ?

गृहलक्ष्मी गपशप

मैं अपनी बेटी को यौन दुर्व्यवहार के खिलाफ कैसे तैयार करूं?

मैं अपनी बेटी को...

संस्कृति शर्मा सिंह, क्लीनिकल साइकोलोजिस्ट, एनएमसी...

बॉडी लैंग्वेज के ट्रिक्स सीखने के लिए करें गृहलक्ष्मी किटी पार्टी में रेजिस्टर

बॉडी लैंग्वेज के...

क्या आप ये जानती हैं कि किसी के बिना कुछ बोले ही उसकी...

संपादक की पसंद

घर की लक्ष्मी

घर की लक्ष्मी

माया को उसके सास-ससुर बात-बात पर ताने मारते। उसका पति...

जब तुम बड़ी हो जाओगी...

जब तुम बड़ी हो जाओगी......

  प्यारी बेटी, जब तुम बड़ी हो जाओगी, दुनिया...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription