GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जरूरी है सुहागरात की प्लानिंग

नीलम शुक्ला

26th June 2017

सुहागरात को लेकर हर नए जोड़े के मन में सवाल होते हैं। हर नवदंपती के जीवन का अनिवार्य हिस्सा है शारीरिक संबंध, लेकिन अवचेतन में बैठी आशंकाओं के चलते कई लोग इसका भरपूर आनंद उठा नहीं पाते। थोड़ी सी सावधानी बरतकर इस सुनहरे पल का भरपूर आनंद उठाया जा सकता है।

जरूरी है सुहागरात की प्लानिंग

रिलेशनशिप एक्सपर्ट डॉ. गीतांजलि शर्मा कहती हैं कि जहां एक तरफ सुहागरात नई जिंदगी की शुरूआत है वहीं जिस्‍मानी संबंध भी इस रात का अहम हिस्‍सा माने जाते हैं। शादी की पहली रात को महिला हो या पुरुष शारीरिक संबंध के प्रति बेहद चिंतित रहते हैं। यही वो रात होती है जब आप अपने भावी जीवन का ताना बाना भी बुनते हैं। इसे यादगार बनाने के लिए हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं।

ना करें जल्दबाजी
याद रखिए सुहागरात में कोई ऐसी नादानी न करें जिसकी टीस जीवनभर आपके दांपत्य जीवन में बनी रहे। कुछ ऐसा करें कि आपकी सुहागरात यादगार बने। इस मौके पर जल्‍दबाजी आपके लिए अच्‍छी नहीं। सेक्स क्रिया शुरू करने से पहले जरूरी है कि अपने साथी का भरोसा हासिल किया जाए। एक-दूसरे को बेहतर तरीके से समझा जाए। एक दूसरे के दिल की बातों को सुना जाए। अपने विचारों को साझा किया जाए।

खुलकर करें बात
जरूरी नही कि सुहागरात का मतलब केवल सेक्स है। इस रात की यादें जीवनभर के लिए होती हैं। इस रात को यादगार बनाने के लिए देर तक बातें कीजिए। बात करने से आप एक-दूसरे को समझेंगे और पति-पत्नी के बीच में समझ होना बहुत जरूरी है। आजकल लड़के-लड़कियां दोनों ही नौकरीपेशा होते हैं और इसलिए उनके लिए उनकी महत्वाकांक्षाएं व लक्ष्य बहुत जरूरी होते हैं। ऐसे में शादी से पहले एक दूसरे के लिए समय न निकाल पाने की वजह से विवाह से जुड़े मुद्दों पर बात करने का मौका नहीं मिलता। कम्यूनिकेट न करने की वजह से साथी को समझना मुश्किल लग सकता है। तो सुहागरात के दिन कुछ जरूरी मसलों पर साथी की बातें सुनना व अपनी बातें शेयर करना दोनों ही जरूरी हैं। शेयरिंग प्यार को बनाए रखती है और आपसी समझ व भावनात्मक रिश्ता भी बढ़ाती है। कम्यूनिकेशन के जरिए ही आप दोनों एक-दूसरे की परेशानियां व जरूरतें समझ सकेंगे। बेहतर होगा कि शेयरिंग और केयरिंग को ही रिश्ते का आधार बनाएं।

 

सेक्स पर बात
सुहागरात के दिन अपने साथी से सेक्स से जुड़ी पसंद-नापसंद जानें, रोमांटिक वातावरण बनाएं और पहल आपको करनी पड़े, तो भी हिचकिचाएं नहीं। हमारे समाज में आज भी सेक्स पर बात करना, खासकर लड़कियों के लिए वर्जित ही माना जाता है। यही वजह है कि शादी से पहले तो क्या शादी के बाद भी सेक्स पर आपस में पति-पत्नी कोई बात ही नहीं करते, जबकि सेक्स आपके रिश्ते में एक मजबूत कड़ी की तरह काम करता है। शादी के बाद अगर खुलकर सेक्स संबंधों पर डिस्कस न किया जाए तो परिणाम सुखद नहीं होते हैं। सेक्स के लिए प्लानिंग करना बुरी बात नहीं है। अगर इस पर ध्यान न दिया जाए तो आप सेक्स को एंजॉय नहीं कर पाएंगे और यह समस्या शादी के बाद जटिल रूप ले सकती है। ऐसा मौका ना आने दें और सुहागरात से इस टॉपिक पर बात करना शुरू करें।

फैमिली प्लानिंग
प्रेग्नेंसी का राइट टाइम क्या है यह कोई निश्चित रूप से कभी भी तय नहीं कर सकता। यदि शादी से पहले इस बारे में बात नहीं हुई तो सुहागरात के दिन, कपल्स को इस मामले पर बात करके उसके अनुसार ही फैमिली प्लानिंग करनी चाहिए क्योंकि शादी का यह सबसे बड़ा साइड इफेक्ट होता है। अक्सर युगल न तो शादी से पहले और न ही शादी के बाद इस पर बात करते हैं। नतीजा कई बार अनचाही प्रेग्नेंसी के रूप में सामने आता है।

सोशल और बायोलॉजिकल कारणों की वजह से स्त्री बच्चा जल्दी चाहती है, जबकि पुरुष फाइनेंशियली और इमोशनली खुद को पहले तैयार करने के बाद पिता बनना चाहता है। कई बार बच्चे के मामले में हुई देरी या जल्दी रिश्ते में दरार पैदा करने का कारण बन जाती है।

 


रोमांस भी जरूरी
इस रात केवल फैमिली और फ्यूचर प्लानिंग की बातें न करें। पार्टनर से रोमांस की बातें करें, उसकी पसंद और नापसंद को जानिए और सबसे खास बात तारीफ जरूर कीजिए। ऐसा करने से आप एक-दूसरे के नजदीक आएंगे और दोनों के बीच प्यार बढ़ेगा। ध्यान रहे कि एकाएक सेक् स मत कीजिए, सेक्स करने से पहले फोरप्ले कीजिए। फोरप्ले में ऐसी क्रियाएं कीजिए जो आपको और आपके पार्टनर को उत्तेजित करें। सेक्स के दौरान ऐसे आसन अपनाएं, जो सुविधाजनक हों। नए एक् सपेरीमेंट करने से बचें।

 

ना भूलें गिफ्ट
एक-दूसरे को गिफ्ट देने से प्यार और बढ़ता है। पार्टनर को सरप्राइज गिफ्ट भी दे सकते हैं। इसके लिए रोमैंटिक हनीमून पैकेज, सेक्सी ड्रेस और ग्लैमरस परिधान अच्‍छे ऑप्शन हो सकते हैं। महिलाओं को गहने सबसे ज्‍यादा पसंद आते हैं। शादी की पहली रात है लिहाजा कोई न कोई गिफ्ट जरूर दें। आप जो भी गिफ्ट देंगे वह हमेशा के लिए यादगार बन जाएगी। 
याद रहे

 

  •  सुहागरात में शारीरिक संबंध बनाने से पहले रोमांटिक माहौल बनाइए। इसके लिए अरोमा कैंडल जलाइए, हल्‍का संगीत बजाइए, हल्‍की रोशनी रखिए।
  •  इस रात एक-दूसरे को समझने की कोशिश कीजिए। ऐसा करने से दोनों के एक-दूसरे के करीब आएंगे और सेक्स करने में ज्‍यादा झिझक नही होगी।
  •  सेक्स से पहले फोरप्ले बहुत जरूरी है। फोरप्ले करने से सेक्स करने का आनंद बढ़ जाता है।
  •  सुहागरात में पार्टनर से सेक्सी बातें करें, इससे दोनों उत्तेजित होंगे और सेक्स की इच्‍छा बढ़ेगी।
  •  सुहागरात में एल्‍कोहल और सिगरेट बिलकुल न पियें।
  •  सुहागरात में सेक्स करने से पहले सुरक्षा का ध्यान दीजिए। इसके लिए कंडोम का प्रयोग करें।
  •  मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक तौर पर फिट रहें। अंतरंग पलों से पहले अपने साथी की पसंदीदा ड्रेस पहनें।
  •  सुहागरात में सेक्स संबंध बनाते वक्त ऐसे आसनों को अपनाएं जो आसान हों और जिनको करने में कोई दिक्कत न हो। प्रयोग करने से बचें।

इन्हें भी देखें- 

सेक्स रूल्स - क्या करें और कैसे...

सेक्स मिथक- जानें, क्या सच है और क्या नहीं

गर्भावस्था और सेक्स

कुछ ऐसे पहुंचें क्लाइमेक्स तक

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

पोल

स्कूलों की सुरक्षा गाइडलाइन को जांचने के बाद ही मिलनी चाहिए मान्यता, क्या आप इससे सहमत हैं?

गृहलक्ष्मी गपशप

अपने इस ऐप के जरिए डॉ. अंजली हूडा सांगवान लोगों को रखती हैं फिट

अपने इस ऐप के जरिए डॉ....

"गृहलक्ष्मी ऑफ द डे"- डॉ. अंजली हूडा सांगवान

रिंग सेरेमनी से दें रिश्ते को पहचान

रिंग सेरेमनी से...

रिंग सेरेमनी, ये एकमात्रा रस्म नहीं बल्कि एक ऐसा मौका...

संपादक की पसंद

आओ, हम ही श्रीगणेश करें

आओ, हम ही श्रीगणेश...

“मम्मी गर्मी से मैं जला जा रहा हूं, मुझे बचा लो” मां...

रिदम और रूद्राक्ष की प्रेम कहानी

रिदम और रूद्राक्ष...

अक्सर जब किताबों में कोई प्रेम कहानी पढ़ती थी, तब मन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription