गर्मियों के सुपर कूल फ्रूट्स

शीतल गौड़

16th June 2015

जरूरी है कि गर्मी में ऐसा कुछ खाएं, जो स्वादिष्ट होने के साथ-साथ शरीर को पोषण भी प्रदान करे...

गर्मियां शुरू होते ही खरबूज, तरबूज जैसे रसदार फलों, आलूबुखारे, बेरीज और कुछ बेहतरीन सब्जियां खाने की चाहत बढऩे लगती है। इस मौसम में तुरंत राहत देने वाले सॉफ्ट ड्रिंक्स, आइसक्रीम जैसी उन तमाम चीजों का इस्तेमाल बढ़ जाता है, जो शरीर के तापमान से ठंडी होती हैं। पर क्या आप जानते हैं कि इन सब खाद्य पदार्थों से भारीपन और एसीडिटी, डायरिया और कुछ  मामलों में फ्लुइड और इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी के साथ-साथ भूख की कमी जैसी समस्यायें हो सकती हैं? इसलिए यह जरूरी है कि गर्मी में ऐसा कुछ खाएं, जो स्वादिष्ट होने के साथ-साथ शरीर को पोषण भी प्रदान करे।

श्री बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टिट्यूट, दिल्ली आहार  विशेषज्ञ डॉ. स्वयं गोयल, कहते हैं कि ऐसे आहार का चयन करें, जो शरीर का उचित तापमान बरकरार रखते हुए गर्मी से राहत देने वाले हों और देर तक हमें तृप्त एवं ठंडा रख सकें।सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि गर्मी के मौसम में कभी भी खाली पेट बाहर नहीं निकलें, क्योंकि इससे लू लगने की आशंका बढ़ जाती है। दरअसल, गर्मी का मुकाबला करने के अनेक सामान्य तरीके हैं। इस मौसम में मिलने वाले ताजा फलों और सब्जियों को खाने में शामिल करें जो गर्मियों के सुपर फूड होते हैं, जिनका सेवन करने से मन भी नहीं ऊबता और तन भी स्वस्थ रहता है, जैसे-

टमाटर
गर्मियों में सनबर्न सबसे आम समस्या है। टमाटर के सेवन से सनबर्न से बचा जा सकता है। टमाटर में लाइकोपीन होता है। लाइकोपीन एक पिगमेंट है, जिसके कारण इसका रंग लाल होता है। आमतौर पर यह केचअप आदि में पाया जाता है। लाइकोपीन अंदरूनी सनस्क्रीन के रूप में कार्य करके त्वचा को सनबर्न से बचाता है।

 

अनानास

हम सभी जानते हैं कि अनानास एक रसदार फल है। इसमें पाया जाने वाला पिगमेंट ब्रोमीलेन एक तरह का पाचक एंजाइम है, जो अमाश्य में आहार को टुकड़ों में बदलने में मदद करता है 

फ्लुइड्स

फ्लुइड्स यानी तरल पदार्थों का भी काफी महत्व है। अपनी दिनचर्या में इनका अधिक से अधिक इस्तेमाल करना चाहिए। नींबूपानी, दूध और दही या लस्सी में चुटकी भर इलायची मिलाकर पीने के अपने अलग फायदे हैं। नारियल पानी में पोटेशियम पर्याप्त मात्रा में होता है, इसलिए इसके सेवन से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का उचित स्तर बना रहता है। यदि इसमें कुछ बूंद नींबू का रस मिला दिया जाए तो यह शरीर का तापमान संतुलित रखने में भी बड़ा काम आता है।

तरबूज़

चिलचिलाती धूप में तरबूज़ एक उत्तम विकल्प है। इस शानदार फल में शरीर का जलीय स्तर बनाए रखने के लिए काफी पानी होता है, जबकि इसमें मौजूद लाइकोपीन नामक तत्व त्वचा की कोशिकाओं को धूप में झुलसने से बचाता है। गर्मी के दिनों में तरबूज का एक गिलास रस आपको पूरे दिन तरोताजा और ऊर्जावान बनाये रखने में मदद करेगा।

 

 चुकंदर

गर्मियों में अत्यधिक पसीना निकलने के कारण शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी हो जाती है। ऐसी स्थिति में चुकंदर का सेवन करना ताकत बढ़ाने में काफी उपयोगी हो सकता है। चुकंदर का रस पीने या इसे साबुत खाने से रक्त में नाइट्रेट की मात्रा दोगुनी हो जाती है और मांसपेशियों की ऊर्जा खपत में कमी आती है।

 

हरी पत्तीदार सब्जियां
पत्तीदार सब्जियां जैसे- पालक या काले भी गर्मियों के लिए उपयोगी हैं। काले में प्रोटीन, विटामिन और फाइबर तत्वों की प्रचुर मात्रा होती है। इसका ज्यादातर इस्तेमाल सूप बनाने में किया जाता है। इसी तरह फाइबर एवं पानी की मात्रा अधिक होने के कारण पालक भी बेहद फायदेमंद है।

हरी चाय
हरी चाय (ग्रीन टी) का अपना अलग फायदा है क्योंकि इसमें कुदरती एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो मुख्यत: शरीर से हानिकारक विषैले तत्वों को बाहर निकालते हैं।

खीरा
खीरे और इसके बीज गर्मियों के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं, क्योंकि इसमें प्राकृतिक रूप से ठंडा करने का तत्व होता है। यह शरीर के तापमान को बरकरार रखता है। खीरे में फाइबर की उच्च मात्रा होती है। साथ ही इसमें एंटीऑक्सिडेंट, पोटेशियम, विटामिन के और अन्य विटामिन भी प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं।

संतरा
संतरा या नारंगी पोटेशियम से भरपूर एक रसदार फल है। पसीना बहने के कारण शरीर से काफी मात्रा में पोटेशियम निकल जाता है और इस स्थिति में अन्य पोषक तत्वों का संतुलन बनाए रखते हुए पोटेशियम का स्तर बरकरार रखना बेहद जरूरी हो जाता है।

बेरीज
ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी गर्मियों के सीजन में बहुत फायदेमंद होते हैं, क्योंकि इनमें एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइटोफ्लैवानॉइड्स नामक तत्व पाए जाते हैं। इनमें विटामिन सी की मात्रा भी काफी अधिक होती है जोकि गर्मियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण तत्व है।

कम कैलोरी और अन्य स्वास्थ्यवद्र्धक कारणों से सेहत के लिए फायदेमंद उपरोक्त खाद्य पदार्थों के अलावा कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ भी हैं, जिन्हें खाने के साथ-साथ त्वचा पर लगाया भी जा सकता है। चेहरे पर पपीते का गूदा लगाने से त्वचा चमकीली और ठंडी बनी रहती है। गुलाब की पंखुडिय़ों को चेहरे पर लगाया जा सकता है। लस्सी या दही में गुलाब की पंखुडिय़ों का रस मिलाकर सेवन करने से शीतलता मिलती है।

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

रम जाइए 'कच्...

रम जाइए 'कच्छ के...

गुजरात का कच्छ इन दिनों फिर चर्चा में है और यह चर्चा...

घट-कुम्भ से ...

घट-कुम्भ से कलश...

वैसे तो 'कुम्भ पर्व' का समूचा रूपक ज्योतिष शास्त्र...

संपादक की पसंद

मां सरस्वती ...

मां सरस्वती के प्रसिद्ध...

ज्ञान की देवी के रूप में प्राय: हर भारतीय मां सरस्वती...

लोकगीतों में...

लोकगीतों में बसंत...

लोकगीतों में बसंत का अत्यधिक माहात्म्य है। एक तो बसंत...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription