GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

देखते नहीं, साली फ्री मिली है

जयश्री वासवानी, जबलपुर (म.प्र.)

15th September 2015

हाय मैं शर्म से लाल हुई

देखते नहीं, साली फ्री मिली है


बात उन दिनों की है जब मेरी नई-नई शादी हुई थी और मेरी छोटी बहन पहली बार मेरे ससुराल आई थी। एक दिन मेरे पति हम दोनों को लेकर बाजार गए। वहां पर मैं दुकानदार को बार-बार बता रही थी कि हमारे यहां (मायके के शहर में) इसे खरीदते समय यह स्कीम मिलती है वगैरह-वगैरह। दुकानदार फिर भी किसी सामान के साथ कोई स्कीम देने को तैयार न था। इतने में मेरे पति जो बहुत देर से हम लोगों की बातें सुन रहे थे, दुकानदार से बोले, 'भाईसाब, देखते नहीं, घरवाली के साथ साली फ्री मिली है।
इतना सुनते ही मैं बुरी तरह झेंप गई और दुकानदार ने भी मुस्कुराते हुए एक सामान पर फ्री गिफ्ट हमें थमा दिया।