GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

क्यों जरूरी है 'मी टाइम' ?

Yashodhara

5th September 2019

क्यों जरूरी है 'मी टाइम' ?
एक महिला अपने घर-परिवार के हर सदस्य के जरूरतों का ख्याल रखती है, पर इस कोशिश में उसके पास खुद का ख्याल रखने के लिए समय नहीं बचता है। पर इस बात का ख़ामियाजा उसे उसे अपनी सेहत के साथ उठाना पड़ता है।असल में, ये दिनभर की भागदौड़ महिलाओं को मानसिक और शारीरिक रूप से थका देती है, जिसका नतीजा मानसिक तनाव और शारीरिक समस्याओं के रूप में सामने आता है। ऐसे में महिलाओं के लिए मी या शी टाइम जरूरी हो जाता है।

क्या है मी टाइम या शी टाइम

असल में आपके दिमाग और बॉडी को एक नियत समय पर आराम की आवश्यकता होती है, यहां आराम का मतलब ये नहीं है कि आपको सोना है, बल्कि दिन का थोड़ा वक्त आपको खुद को देना है। दरअसल, दिन भर की भागदौड़ के बीच आपके लिए मी टाइम यानी कि खुद के लिए वक्त निकालना बेहद जरूरी है ताकी कुछ देर आप राहत और सुकून की सांस ले सकें। ये ना सिर्फ आपके मानसिक सेहत के लिए फायदेमंद साबित होता है, बल्कि ये आपको फिजिकली फिट रखता है। असल में जब आप मानसिक तौर पर शांत और बेहतर महसूस करते हैं तो ये आपके शारीरिक स्वास्थ्य को सकारात्मक रूप से प्रभावित करती है और आप अधिक उर्जावान और सेहतमंद बने रहते हैं।

करें अपना पसंदीदा काम 

इस वक्त में आप अपनी पसंद का कोई भी काम कर सकती हैं, जैसे कि अपना पसंदीदा संगीत सुन सकती हैं, किताब पढ़ सकती हैं और अगर कुछ भी ना करना चाहें तो आप चाय की एक प्याली लेकर बालकनी में बैठ जाएं और राहत की सांस लेते हुए चाय की चुस्कियों का आनंद उठाएं। इस मी टाइम के जरिए आपको नई एनर्जी मिलती है ,जो आपकी सेहत के साथ ही आपके मानसिक और व्यक्तिगत विकास के लिए फायदेमंद होती है।

सोलो ट्रिप पर जाएं

वैसे यहां परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताने और अकेले में बिताए गए मी टाइम के बीच अंतर जान लेना भी जरूरी है। जैसे कि, जब आप फैमिली के साथ किसी हॉलिडे या किसी टूर पर जाते हैं तो आप का अधिकांश वक्त परिजनों और बच्चों की देखरेख में और उनकी जरूरतों का ख्याल रखने में ही बीत जाता है, ऐसे में देखा जाए तो आप उस हॉलिडे को भी ठीक से इंज्वॉय नहीं कर पाती हैं। इसलिए अगर आप मी टाइम के लिए हॉलिडे पर जाना चाहती हैं, तो बेहतर होगा कि आप फ्रेंड्स के साथ या सोलो ट्रिप पर जाएं। 

ट्रैवेल कंपनियां दे रही हैं खास पैकेज

जी हां, आजकल महिलाओं में मी-टाइम के बढ़ते क्रेज को देखे हुए बहुत सारी ट्रैवेल कंपनियां भी महिलाओं के लिए स्पेशल ट्रैवल पैकेज देने लगी हैं, जिसमें खासतौर पर महिलाओं की सेफ्टी और कंफर्ट का ध्यान रखा जाता है। ऐसे में आप अपनी फ्रेंड्स के साथ या सोलो ट्रिप की प्लानिंग कर सकती हैं, जहां दुनियादी की सारी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर आप अपना मी टाइम इंज्वॉय कर सकती हैं। 
ये भी पढ़ें-

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

इन खाद्य पदार्थों को भूलकर भी ना पकाएं

default

आपकी चाय का प्याला खोलता है आपके व्यक्तित्व...

default

शिक्षक के लिए महान व्यक्तियों के अनमोल विचार...

default

इन मामलों में पति को भूलकर भी ना दें सलाह,...