GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सेहत से समझौता क्यों?

सुचिता माहेश्वरी

14th October 2015

कुछ महिलाएं खुद को इंसान समझकर व्यवहार नहीं करती क्योंकि शायद इसके पीछे सामाजिक मानसिकता भी है कि महिलाएं जितना काम करेगीं उतनी ही तारीफ पाएंगी और इस प्रकार वह अपनी समस्याओं को बढ़ाती चली जातीहैं। वह परिवार की सेहत, पसंद और आराम का ध्यान रखेंगी, लेकिन खुद को भूल जाएंगी या फिर खुद को सबसे आखिर में गिनेंगी। यदि वह अपने आप का ख्याल रखेंगी तो वह अपराधबोध रहेगी कि वह खुद का ख्याल कैसे रख रही हैं।

 कुछ प्रतिशत महिलाएं ऐसी तमाम बातों की जानकारी रखती हैं तथा इंटरनेट या किताबों के जरिए स्वास्थ्य से संबंधित बातें जानती रहती हैं, वे भी अक्सर सब कुछ जानते-बुझते खुद के प्रति लापरवाही बरत जाती हैं। वह यह बात भी भूल जाती है। कि वे भी एक इंसान हैं लेकिन आपको यह बात भी गंभीर रूप से जान लेनी चाहिए कि यदि आपके स्वास्थ्य में गड़बड़ी आएगी तो न केवल पूरे घर की व्यवस्था गड़बड़ा जाएगी बल्कि उतनी शिद्दत से आपकी देखभाल करने वाला कोई नहीं रहेगा, जितनी शिद्दत से आप सबके लिए जुटी रहती हैं।

आइए कुछ प्रमुख बिंदुओं पर अमल करें जो आपके स्वास्थ्य के लिहाज से जरूरी हैं -

-सुबह जब सबके लिए नाश्ता या लंचबाक्स तैयार करें तो खुद का भी ध्यान रखें। उस वक्त पांच मिनट बैठकर खुद भी नाश्ता कर लें।

-अपनी डाइट को चार से छह टुकड़ों में बांटें। बार-बार खाएं और थोड़ा-थोड़ा खाएं।

-अपने खाने में हरी सब्जियां, फल, चपाती, दही, सलाद, अंकुरित अनाज, दालों तथा अन्य पौष्टिक पदार्थों को अवश्य शामिल करें।

-बचा-खुचा खाने की बजाए पूरा तथा संतुलित भोजन करें। बहुत ज्यादा बासी खाने से बचें और अपनी पसंद का भी ध्यान रखें।

-पर्याप्त नींद लें और अपने आराम का भी ध्यान रखें। उतना ही काम करना चाहिए जितना आपसे आसानी से हो सके। जबरदस्ती के काम या वादों को ओढ़े नहीं। किसी की खुशी के लिए खुद को तकलीफ में डालने से बचें। स्पष्ट रूप से न कहना सीखें।

-किसी भी चीज को बिना जानें बुझे डाक्टर की सलाह के बिना दवाइयां न लें।

-अपने स्वास्थ्य को लेकर सजग रहने के साथ ही अपनी बिटिया को भी यह बात जरूर सिखाएं।

-यदि आपके शरीर में अतिरिक्त चर्बी बढ़ रही है तो उसे घटाने का प्रयास करना चाहिए। अतिरिक्त फैट नहीं जमना चाहिए क्योंकि यह नुकसानदायक है।

-उत्तम स्वास्थ्य के लिए जरूरी है कि आप सुबह जल्दी उठकर माॅर्निंग वाॅक, ध्यान और व्यायाम के लिए कुछ समय दें। ताकि आपका सारा दिन टेंशन फ्रि व्यतीत हो सके।

-जीवन में खुश रहने के लिए जरूरी है कि समय और जरूरतों के हिसाब से खुद को अपडेट रखें। इसके लिए आप अपना कुछ समय काम की बारीकियां सीखने में व्यतीत करें।

-कैरियर को सही दिशा देने के लिए आप हर रोज के लक्ष्य बनाने और उन्हें पूरा करने के तरीकों के लिए भी कुछ समय निकालें। ऐसा करने से आप तनावमुक्त जीवन जी पाएंगी।