GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कहीं आपकी दावत में तो नहीं हुईं ये गलतियां

विजया मिश्रा

23rd November 2015

जिंदगी की सबसे यादगार शाम होती है शादी की शाम, जब आकाश भी इस मिलन का गवाह बनता है। इस खास दिन को और खास बनाने के लिए दावत भी ऐसी की जाती है कि लोग उंगलियां चाटते रह जाएं। लेकिन कभी-कभी दावत का यही इंतजाम बन जाता है जी का जंजाल। आपके साथ ऐसा न हो, इसलिए कुछ खास बातों का रखें ख्याल...

कहीं आपकी दावत में तो नहीं हुईं ये गलतियां

बारातियों के स्वागत में कोई कोर कसर न रह जाए इसके लिए घर में लोग एड़ी चोटी का दम लगाते हैं, खान-पान का खास इंतजाम करते हैं शादी को खास बनाने के लिए जहां एक तरफ दुल्हन की तैयारी सबसे खास होती है वहीं दूसरी तरफ दूल्हे के रिश्तेदारों- दोस्तों को खुश करने के लिए तरह-तरह के इंतजाम किए जाते है इन्हीं में से जो सबसे खास इंतजाम होता है वो होती है केटरिंग सर्विस जिसमें बारातियों और मेहमानों के खानपान की व्यवस्था की जाती है शादी की दावत में सभी तरह के व्यंजन शामिल करना, अलग अलग तरह के खाद्य पदार्थों के लिए या अलग- अलग थीम के व्यंजनों के लिए अलग-अलग स्टॉल्स लगाना, वेटर्स आदि केटरिंग में आती हैं। इसके लिए आपको अच्छी तरह रिसर्च की जरूरत पड़ती है। लेकिन न चाहते हुए भी कुछ गलतियां हो ही जाती हैं जिन्हें हम थोड़ी सी सावधानी रखें तो सही कर सकते हैं।


मेन्यू को लेकर कन्फ्यूजन

शादी की पार्टी के मेन्यू में आप सभी भरपूर वेरायटी चाहते हैं चाहते हैं कि घर के इस खास फंक्शन में कोई व्यंजन न हो जो छूट जाए ताकि सभी की वाहवाही मिले खाने में वराइटी ज्यादा होने की वजह से अक्सर आप अपने मेन्यू की खासियतें भूल जाते हैं आजकल तो पार्टी मेन्यू में देसी ही नहीं, विदेशी व्यंजन की भी भरमार होती है। ऐसे में मेजबान के लिए यह तय करना मुश्किल हो जाता है कि वह पार्टी में क्या रखें और क्या न रखें। इसी कन्फ्यूजन में कई बार एक ही तरह के अनेक व्यंजन हो जाते हैं जिनका स्वाद लगभग एक जैसा होता है जबकि दूसरी तरह की डिशेज़ कम ही रह जाती हैं।

स्वाद और प्रेजेंटेशन

कई बार भोजन का स्वाद तो अच्छा होता है लेकिन अगर इसकी प्रेजेन्टेशन ठीक न हो तो पार्टी का मजा अधूरा रह जाता है। दूसरी ओर यह भी हो सकता है कि प्रेजेन्टेशन तो हो सुपर लेकिन स्वाद एकदम बेकार। यह दोनों ही स्थितियां ठीक नहीं हैं। शादी की दावत में दोनों का ही एकसमान महत्व है और स्वाद और भोजन की प्रेजेन्टेशन दोनों पर ही ध्यान देना जरूरी है। अगर आपका खाना स्वादहीन रहा तो आप जिंदगी भर के लिए डाल दिए जाएंगे शादी में बेकार खाना खिलाने वालों की कैटेगरी में।


ट्रेंड फॉलो करने का चक्कर

हम सभी शादियों में ट्रेंड को बहुत फॉलो करते हैं। मसलन अगर किसी की शादी में ये आइटम था तो फिर हमारी शादी में भी जरूर शामिल होना चाहिए। यही सोचकर हम अपने मेन्यू में कई चीजें शामिल कर लेते हैं। जिससे या तो हमारा बजट बिगड़ जाता है या फिर बाद में ढेर सारा खाना बचा रह जाता है जिसका कोई उपयोग भी नहीं हो पाता और अंत में इसे फेंकना पड़ता है। इसे ही समय और पैसे की बर्बादी कहते है।

कम्युनिटी का ध्यान न रखना

अपनी शादी को शानदार बनाने के लिए कभी-कभी आप इतने एक्साइटेड हो जाते हैं कि भूल जाते हैं कि आपकी कम्यूनिटी में कैसे लोग हैं, कैसे उनका खानपान है। ऐसे में आप उन्हें खुश करने के लिए ना जाने क्या क्या करने लगते हैं। जैसे अगर नॉनवेज की जरूरत नहीं भी है तो भी आपने उसे उपलब्ध करवा दिया जो ज्यादातर लोगों को पसंद नहीं आता। अगर आपके जानने वाले मिडिल क्लास हैं और आपने कॉन्टिनेंटल, थाई वगैरह सर्व कर दिया तो बस हो गई गड़बड़।

 वेज-नॉनवेज एक साथ

केटरिंग की सबसे बड़ी गलतियों में शामिल है वेज और नॉनवेज को एक साथ रखना कई बार शादी की तैयारियों में ध्यान ही नहीं रहता है कि वेज और नॉनवेज भोजन को अलग-अलग रखने का इंतजाम करना बेहद जरूरी होता है। अगर आप शादी में नॉनवेज की प्लानिंग कर रहे हैं तो वेजटेरियन के लिए अलग स्टॉल लगाएं क्योंकि वेजेटेरियन नॉनवेजेटेरियन्स के साथ खाना पसंद नहीं करते।

हाइजीन का ध्यान न रखना

माना कि आपने एक से बढ़कर एक व्यंजनों की फेहरिस्त है। ये भी माना कि आपने बारातियों के स्वागत के लिए कई तरह के एक्सपेरिमेंटल फूड्स भी तैयार करवाए हैं। लेकिन अगर आपने इन व्यंजन बनवाते वक्त हाइजीन का ध्यान नहीं रखा तो ऐसे में अनहाईजीनिक खाना खाने से आपके मेहमान बीमार पड़ सकते हैं और तब आपकी दावत की जो चीरफाड़ होगी, उसके बारे में भी जरा सोच लीजिएगा।

स्टार्टर ज्यादा मेनकोर्स कम

जी हां आप में से ना जाने कितने ऐसे लोग हैं जो शादी को यादगार बनाने के लिए स्टार्टर्स की खास तैयारी करते हैं लोग स्टारटर्स में इतनी वेराइटी डाल देते हैं कि मेन कोर्स की तरफ से ध्यान हट जाता है लोग स्टारटर्स से ही अपना पेट भर लेते हैं और मेन कोर्स खाना काफी बच जाता है। इस तरह शादी में खाने की बरबादी भी होती है।

 


मिठाइयां ही मिठाइयां

याद रखिए आजकल लोग कैलोरी कॉन्शियस हैं। ऐसे में बहुत कम लोगों को मिठाइयां ज्यादा पसंद आती हैं इन मिठाइयों में अगर आपने सीजन के अनुसार मिठाइयां नहीं रखी तो लोगों को पसंद बिल्कुल नहीं आतीं जैसे सर्दियों में गाजर का हलवा, गर्मियों में आइसक्रीम, पेस्ट्रीज वगैरह की जगह आपने सिर्फ रसगुल्ले, गुलाब जामुन, रसमलाई जैसी मिठाइयां ही अपने मेन्यू में शामिल की हैं तो बहुत कम लोग इन्हें पसंद करेंगे।

 सीजनल सब्जियाँ न चुनना

आज हर सीजन में हर तरह की सब्जियाँ आसानी से उपलब्ध हैं। लेकिन इन सब्जियों के स्वाद पर गौर फरमाएं तो महसूस करेंगे कि वो स्वाद नहीं मिलता जो उसके खास सीजन में होता है। नतीजा उन सब्जियों को आप चाहे जितना भी टेस्टी बनाने की कोशिश करें, वो स्वाद आ ही नहीं पाता और भोजन की उतनी तारीफ नहीं होती।

 ज्यादा वेटर्स रखना

मेहमान नवाजी के लिए ढेर सारे वेटर्स रख लिए जाते हैं। लगता है कि जितने वेटर्स होंगे उतनी अच्छी तरह सर्व होगा। ऐसा नहीं है, वेटर्स ज्यादा होने से कन्फ्यूजन और परेशानी बढ़ सकती है। अगर आपके वेटर को मेन्यू की सही जानकारी नहीं तो मेहमान नवाजी में दिक्कतें आ सकती हैं और ये भी बड़ी केटरिंग मिस्टेक हो सकती है।

 खिलाने से पहले टेस्ट न करना

आप मेहमाननवाजी के लिए कई तरह के व्यंजन तो बनवा चुके हैं लेकिन टेस्ट करना आपने मुनासिब नहीं समझा, इसके चक्कर में आप न जाने कितना खाना बरबाद कर देंगे जिसका अंदाजा भी आपको नहीं होगा।

 मेहमान ज्यादा खाना कम

मेहमानों की लिस्ट है ज्यादा और आपकी ह्रश्वलेटें हैं कम। ऐसे में यह एक बड़ी गड़बड़ी के रूप में शादी के वक्त परेशानी का सबब बन सकती है अगर आपने एक साथ कई लोगों को इन्वाइट कर लिया और लिस्ट नहीं बनाई तो प्लेट के हिसाब से खाना कम हो जाना भी बड़ी बात नहीं खाने से पहले मेहमानों की लिस्ट न बनाना आपके लिए मुसीबत बन सकती है।

 क्रॉकरी की टूट-फूट

खूबसूरत दिखने वाली क्रॉकरी के चक्कर में आप कभी-कभी गलती कर बैठते हैं शादी के माहौल में क्रॉकरी खूब टूटती है और नुकसान होता है अगर आप शादी की दावत में कुछ बातों का ध्यान रखेंगे तो छोटे-छोटे अनेक नुकसानों से बच जाएंगे। ध्यान रखें कि शादी की सारी रौनक मेहमानों से ही होती है इसलिए हर मेहमान का स्वागत स्वयं करें और भोजन के लिए जरूर पूछें। इससे अगर दावत में कोई गलती हुई भी होगी तो मेहमान आपकी मेहमाननवाजी से खुश होकर ऐसी गलतियों को जल्द ही भूल भी जाएंगे