GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

खुजली वाला डांस

योगिता गर्ग

8th August 2017

खुजली वाला डांस

बात तब की है जब मैं 12 वर्ष की थी। मेरी छोटी बहन 10 वर्ष की थी। हम गर्मी की छुट्टियां बिताने ननिहाल गए। वहां मेरे मामाजी का जड़ीबूटियों व औषधियों का व्यापार था। हमारे घर में ही एक गोदाम था, जहां पर जाने से मामाजी ने मना किया था। वहां हम उम्र बच्चे थे। एक दिन हम सभी बच्चे छिपा-छिपी खेल रहे थे। छिपने की कोई अच्छी जगह न देखकर हम सभी उस गोदाम में घुस गए। कुछ बच्चे बोरियों के ऊपर तो कुछ पीछे छिप गए। जब खेल खत्म हुआ तो हम सभी मारे खुजली के डांस करने लगे। तेल लगाने तथा नहाने के बाद भी खुजली नहीं गई। जब मामाजी घर लौटे तो हमने उनसे खुजली का कारण पूछा। उन्होंने कहा कि गोदाम में खुजली की बोरियां (ऐसी औषधि जिसे छूने से खुजली हो) पड़ी हैं। उसके बाद से हमने हमेशा बड़ों का कहा मानने की कसम खाई।

ये भी पढ़ें-
बस पुरानी तो टिकट नया क्यों

पॉपकॉर्न तो छोड़ जाए...

जलेबी मांगने चली गई