GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानिए रथ यात्रा के बारे में 10 रोचक बातें

अर्चना चतुर्वेदी

6th July 2016

एक ऐसी यात्रा जिसमें भक्त और भगवान के बीच कोई सीमा नहीं होती। जहां स्वंय भगवान जगन्नाथ खुद चलकर भक्तों के बीच आते हैं और उनके सुख-दु:ख में सहभागी बनते हैं। यह भक्त के लिए एक समय होता है जब सृष्टि के पालनहार की डोर स्वयं उसके हाथों में होती है। ब्रह्मापुराण में भी कहा गया है कि 'रथे चागमन दृष्टवां पुनर्जन्म न विद्यते' अर्थात् रथ के ऊपर भगवान जगन्नाथ जी के दर्शन करके मनुष्य पुनर्जन्म से बच जाता है। आइये जानते हैं इस भव्य जगन्नाथ यात्रा से जुड़ी ऐसी ही कुछ रोचक बातें -