GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सावधान! कहीं आप भी तो नहीं पीते गर्म-गर्म चाय

अर्चना चतुर्वेदी

6th July 2016

सावधान! कहीं आप भी तो नहीं पीते गर्म-गर्म चाय

 


अगर आप भी सुबह-सुबह अपने दिन की शुरुआत गर्म चाय पीकर ही करते हैं तो सावधान हो जाएं। गर्म खौलती चाय आपको नुकसान पहुँचा सकती है। ये गर्म चाय की चुस्कियां कैंसर का कारण भी बन सकतीं हैं। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ब्रिटिश मेडिकल रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है। यही नहीं ज्यादा गर्म चाय पीने के कारण शरीर पर भी बहुत बुरा असर पड़ता है। लेकिन चाय का नशा लोगों पर इस तरह हावी हो चुका है कि लोग उसे अपनी आदत में शामिल कर चुके हैं। विशेषज्ञों का भी कहना है कि चाय पकने और कप में डालने के बीच लगभग 8 से 10 मिनट का अंतर होना चाहिए। आइए जानते गर्म चाय किस तरह आपको पहुँचा सकती हैं नुकसान -

 

  • गर्म चाय से पेट में गैस पैदा होता है, जिससे पेट फूलता है और दर्द भी करता है।
  • गर्म-गर्म चाय शरीर में मेटाबॉलिज्म को घटा देता है और पेट की भूख खत्म कर देता है।
  • ज्यादा गर्म चाय पीने से खाने की नली या गले का भी कैंसर हो सकता है।।
  • तेज गर्म चाय गले के टिश्यूज को भी नुकसान पहुँचाती है।
  • ज्यादातर अल्सर की समस्या बनी रहती है।
  • मुँह में घाव या छाले हो जाते हैं।
  • गर्म चाय की चुस्कियां शरीर के गुप्तांग को भी कमजोर बना देती है।
  • सेक्स करने की क्षमता भी गिरावट आ जाती है।
  • भोजन नली को झुलसाकर क्षतिग्रस्त कर देती है जो कि बेहद शरीर के लिए बेहद नुकसान देय है।
  • सर्दी के मौसम खौलती चाय पीने से दांतों में भी दरार पड़ जाते हैं।

 

ये भी पढ़ें -

वेट लॉस के लिए ट्राई करें ये 7 होम रेमेडीज़

जब कॉन्स्टिपेशन हो, तो ट्राई करें ये 7 टिप्स

मुंह के छालों को इन 10 टिप्स से करें ठीक

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

 

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

सुख शांति बन...

सुख शांति बनाए रखनी...

कई बार ऐसा होता है कि घर में रखी बहुत सी सीआई चीज़ें...

आलिया भट्ट क...

आलिया भट्ट कि तरह...

लॉकडाउन में लगभग सभी सेलेब्स घर पर अपने परिवार के साथ...

संपादक की पसंद

क्या है  COV...

क्या है COVID-19...

दुनियाभर में कोरोना वायरस का मुद्दा बना हुआ है। हर...

लॉकडाउन के द...

लॉकडाउन के दौरान...

आज देश की स्थिति कोरोना की वजह से बेहद चिंताजनक हो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription