GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

'रुस्तम' देखने का इरादा है तो पढ़ें ये रिव्यू

गरिमा अनुराग

12th August 2016

'स्पेशल 26', 'बेबी' और 'एयरलिफ्ट' के बाद अक्षय कुमार ने 'रुस्तम' जैसे क्राइम थ्रिलर में भी देशप्रेम का तड़का लगाया है और इतना बढ़िया लगाया है कि उनके किरदार से आपको भी प्यार हो जाएगा। फिल्म में कुछ कमियां भी रही हैं, लेकिन फिल्म एक बार जरूर देखी जा सकती है। पढ़िए-

 

निर्देशन- टीनू सुरेश देसाई

कलाकार- अक्षय कुमार, इलियाना डिक्रूज, ईशा गुप्ता ओर अर्जन बजवा।

अवधि- 2 घंटे 30 मिनट

 

कहानी

फिल्म की कहानी 1959 में मुम्बई के एलीट क्लास से जुड़े एक नौसेना के अधिकारी रुस्तम पावरी (अक्षय कुमार), उसकी पत्नी सिंथिया पावरी (इलियाना डिक्रूज) और पत्नी के प्रेमी विक्रम मखीजा (अर्जन बजवा) की कहानी है। अपना ईमानदारी के लिए ढ़ेरों मेडल से सुसज्जित रुस्तम को जब ये पता चलता है कि उसके पत्नी के संबंध उसके दोस्त और शहर के अमीर बिज़नेस मैन विक्रम मखीजा से हैं तो वो खुद उसके घर जाकर उसे गोलियों से मार देता है। कोर्ट में रुस्तम पावरी अपना केस खुद लड़ता है और खुद को नॉट गिल्टी प्लीड करता है ओर यही से कहानी मेें थ्रिल की एंट्री होती है। बता दें फिल्म की कहानी 1960 के सामय देश में तहलका मचा देने वाली नानावटी केस पर आधारित है। इस दौर में कोर्ट में कोई भी निर्णय जज के साथ जूरी के सदस्य भी लेते थे। 

इन वजहों से अच्छी लगेगी ये फिल्म...

  • फिल्म में 1959 का बॉम्बे, उस समय की मीडिया और एलीट क्लास के लाइफस्टाइल को बिलकुल सटीक अंदाज में पेश किया गया है।
  • फिल्म में अक्षय कुमार की एक्टिंग जबरदस्त है, इलियाना डिक्रूज ने जो भी मौके मिले हैं उनमें अपनी दमदार मौजूदगी दर्ज कराई है। 
  • फिल्म से पारसी परिवारों के रहन-सहन से लोग रुबरु हो सकते हैं।
  • फिल्म के सेकंड हाफ में कई जगह बोरियत शुरू होते ही निर्देशक ने संभाला लिया है।
  • फिल्म के कुछ सीन में उस दौर में नौसेना में मौजूद भ्रष्टाचार पर भी हल्का प्रकश डाला गया है। 

क्या चीजें करती हैं मायूस...

  • आमतौर पर अक्षय की फिल्मों में स्क्रीनप्ले बहुत टाइट और दर्शक को पकड़ने वाला होता है, लेकिन इस फिल्म में ऐसा नहीं है।
  • ये फिल्म क्राइम थ्रिलर है, लेकिन फिल्म की कहानी बहुत चर्चित है। यही वजह है कि फिल्म में क्या होगा ये पहले से दर्शकों को पता रहेगा।
  • फिल्म के सेकंड हाफ में सिर्फ कोर्ट रूम के सीन्स हैं और यहां कोर्टरूम सीन्स के मुकाबले काफी हल्के ओर औसत डायलॉग्स हैं। 
  • कहानी को रोचक बनाने के लिए ओरिजनल कहानी से हटकर फिल्म में डाला गया ट्विस्ट ही कहानी को डल बना देता है। 

फाइनल डिसिज़न...

अगर आपने नानावटी केस के बारे में पहले पढ़ा है और ये केस आपको आकर्षित करती रही है, या फिर आप अक्षय कुमार के फैन हैं, तो ये फिल्म जरूर देखें। 

 

ये भी पढ़े-

'मोहनजो दारो' में ऋतिक ने किए हैं अनोखे एक्शन सीन्स 

'मोहनजो दारो' में दिखेगी ऋतिक और पूजा की हॉट केमेस्ट्री

जानिए क्यों इस हीरोइन को मिली ऋतिक के साथ ग्रैंड डेब्यू

 

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

 

 

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription