GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

दीवाली पर कुछ ग्रेट आइडियाज

अर्पणारितेश यादव

26th October 2016

दिवाली तोहफे, सजावट और शॉपिंग का अहम हिस्सा हैं। हम आपके लिए कुछ टिप्स लाए हैं, जिनसे आप अपनी दिवाली और भी खुशहाल बना सकेंगे।

दीपावली एक बड़ा पर्व है जो धनतेरस से शुरू होकर भाईदूज पर खत्म होता है। गेंदे के फूलों की लडिय़ां, रंगबिरंगी रंगोली, तेल के दिए और पटाखे इसकी शोभा को और बढ़ा देते हैं। दीपकों के इस त्योहार को और बेहतर बनाने के लिए आपको कुछ चीजों को पहले से प्लान करने की जरूरत है, ताकि यह पर्व और भी रंगीन बन जाए। वो कैसे? आइए जानें-

दीवारों को जब सजना हो :-  माना जाता है कि दीवाली पर घर पर रंग रोगन कराने से मां लक्ष्मी की कृपा होगी, जिससे हमारा जीवन सुख- समृद्धिशाली हो, इसलिए लोग घर में रंग करवाते हैं। सालभर घर के कई हिस्सों में सफाई नहीं की जाती है, जिससे हमारे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। घर में नकारात्मक ऊर्जा भी सक्रिय हो जाती है। इन्ही बातों को ध्यान में रखकर दीपावली पर घर की साफ सफाई और सजावट की परंपरा है। घर में व्हाइट वॉश करवाते वक्त कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है।

क्या करें :-

  • दीवाली के कुछ पहले ही रंग-रोगन का काम पूरा कर लें। इससे पैसों की बचत के साथ-साथ काम भी अच्छा होगा।
  • घर की पुताई के लिए अच्छे ब्रांड का कलर लगवाएं। इससे फिनिशिंग अच्छी आती है और कलर लंबे समय तक रहता है।
  • घर के सदस्यों की पसंद-नापसंद के अनुसार ही रंग करवाएं। पुताई से पहले घर में टूट-फूट की मरम्मत करवा लें।
  • यदि आप घर में सकारात्मकता ऊर्जा चाहते हैं तो इसके लिए आप वास्तुशास्त्र के अनुसार सफेदी करवा सकते हैं, जैसे शयन कक्ष में गुलाबी, आसमानी या हल्का हरा रंग, ड्राइंग रूम में गुलाबी, क्रीम, सफेद रंग और रसोई घर के लिए लाल, गुलाबी और नारंगी रंग शुभ माना जाता है।
  • पढऩे लिखने के कमरे में गुलाबी, हल्का हरा या आसमानी रंग की पुताई करवानी चाहिए। अपना बजट बनाने के बाद ही पुताई का सामान खरीदें। इससे अनावश्यक खर्च से बचा जा सकता है।

कुछ इस तरह करें घर की सजावट :-  दीवाली पर मात्र पेंट करवाने से ही घर की सुंदरता नहीं निखरती, जब तक कि उसको सजाया ना जाए। वैसे घर की सजावट से जुड़ी 3 चीजें अहम होती हैं जैसे- आप की पसंद, घर का साइज और आप का बजट, जिसके अनुरूप आप घर को सजा सकती हैं। जरूरी नहीं है कि सजावट में सिर्फ नई चीजें ही इस्तेमाल की जाएं, बल्कि कुछ पुरानी चीजें भी आप के घर को एकदम नया लुक दे सकती हैं।

क्या करें :-

  • दीवारों को वाल पेपर्स और सीनरी के जरिए नया लुक दें।
  • फर्नीचर के साथ आप कई क्रिएटिव एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं, जैसे- एंटीक लुक का फर्नीचर। आप नक्काशीदार सामान के जरिए भी घर को डिफरेंट लुक दे सकते हैं।
  • कोई कलर थीम चुन लें और उसी के अनुसार घर की साजसज्जा करें। मैचिंग का विशेष ध्यान रखें।
  • घर के पायदान बदल कर नए लगाएं, सोफों के कुशन कवर बदलें, फर्नीचर को रिअरेंज करें, इनडोर प्लांट्स के गमले पेंट करें, परदों की कलर थीम बदलें।
  • घर को फूलों से सजाएं जैसे- किसी पानी भरे पॉट में किनारों पर फूल या पंखुडिय़ां बिछा कर बीचोंबीच तैरते दीये रखें।
  • बाजार से ताजे फूल खरीदें और अपने घर के हर कोने को गुलाब, सूरजमुखी और चमेली से सजाएं। अरेंजमेंट के बाद फूलों पर स्पे से पानी छिड़कते रहें ताकि फूलों की नमी बनी रहे।
  • कुछ लैम्पस खरीदें और उन पर सुंदर रंगों से कलाकारी करें। जरूरी नहीं कि दीवारों पर महंगी पेंटिंग्स लगाएं, टोकरी या परात पर डिजाइन भी इसे दीवारों पर सजाया जा सकता है।
  • दीवाली की सजावट में लाइटिंग काफी महत्वपूर्ण है, यह खूबसूरत हो लेकिन भारी- भरकम व चुभने वाले प्रकाश वाली न हों।
  • रंग-बिरंगे कंदील से भी आप अपनी बालकनी को रौशन कर सकती हैं।