GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानिए कैसा रहेगा वृश्चिक राशि के लिए साल 2018

-पं. रमेश द्विवेदी

9th January 2018

नववर्ष सभी के जीवन में एक रंग, तरंग एवं उमंग लेकर आता है और सभी चाहते हैं कि हमारा नववर्ष हमारे लिए अच्छा रहे, इसी आशा में सभी लोग अपना आने वाला समय कैसा होगा यह जानने की इच्छा करते हैं और अपने ग्रह-नक्षत्रों को अपने पक्ष में करने की बात सोचते हैं। कैसा रहेगा नववर्ष में आपका भाग्य जानिए नए वार्षिक भविष्यफल 2018 में।

 
वृश्चिक राशि वालों के लिए यह साल 2018 खास अच्छा नहीं रहेगा। वर्ष में शारीरिक स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। शनि की साढ़ेसाती अंतिम चरण में चल रही है। वर्ष पर्यंत शनि आपकी राशि से दूसरे स्थान में रहेंगे। यात्राओं पर जोर रहेगा। यात्राओं में धन हानि व स्वास्थ्य हानि के संकेत हैं। इस साल दीर्घकालीन बिमारियां, डायबिटीज, रक्तचाप, माइग्रेन, हृदय संबंधी बिमारियां,कब्ज आदि से समस्या रहेगी। स्त्री जातकों को स्त्री जन्य रोगों से परेशानी रहेगी। मौसमी बिमारियों सर्दी, जुकाम, खांसी आदि से सम्बन्धित समस्या रहेगी। इस वर्ष धार्मिक व सामाजिक महत्त्व के कई काम आपके हाथों से सम्पन्न होंगे। व्यापार में योजनाएं तो आप बनाएंगे, परंतु उन योजनाओं पर काम विधिवत रूप से नहीं हो पाएगा। व्यापारी व कारोबार के लिए माहौल व परिस्थितियां इतनी अनुकूल नहीं हैं। कोई बड़ा करार या अनुबन्ध रद्द हो सकता है। आप अगर किसी भी काम को जुनूनी हद तक जाकर करेंगे तो निश्चय ही सफलता आपके कदम चूमेगी। नौकरी में बॉस व अधिकारियों से संवाद तो कायम होगा, परंतु उस संवाद का लाभ नहीं मिल पाएगा। सहकर्मी आपसे ईष्र्या व द्वेष रखेंगे। अर्थ प्राप्ति के लिए आप जी तोड़ मेहनत करेंगे। दूसरे स्थान में शुक्रशनि तथा बुध के कारण पैसा पास में टिक नहीं पाएगा। पैसा आने से पहले जाने का रास्ता तैयार रहेगा। शनि की साढ़ेसाती आपकी राशि पर चल रही है, अत: भागीदार, पार्टनर व कर्मचारी की हर गतिविधि व कार्यकलाप पर नजर रखें, विभागीय सूचनाएं व जानकारियां लीक हो सकती हैं, जिसका लाभ आपके व्यावसायिक प्रतिद्वन्द्वी को मिल सकता है। परिवार में कोई शुभ प्रसंग या मांगलिक आयोजन होने की संभावना है। विद्यार्थी इस साल जमकर मेहनत करेंगे, हालांकि मेहनत का लाभ उतना नहीं मिल पाएगा, परंतु नींव तैयार होगी व लाभ आपको आगे चलकर मिलेगा। प्रतियोगी परीक्षा, कैरियर से सम्बन्धित परीक्षा, नौकरी से सम्बन्धित परीक्षा में मेहनत के उपरान्त सफलता मिल जाएगी। शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव शत्रुओं और विरोधियों के हौसलों को बढ़ाएगा ही। बारहवें भाव में मंगल गुरु की युति वर्षारम्भ में है। अत: जितनी तेजी से पैसा आएगा, उतनी ही तेजी से खर्च भी हो जाएगा। शत्रु इस साल सक्रिय रहेंगे, येन-केन, प्रकारेण आपको नुकसान या हानि पहुंचाने की चेष्टा करेंगे। शत्रु जन्य तंत्र बाधा, अभिचार कर्म, षट्कर्म व षड्यंत्र्रों से सावधान रहें। 
 
 
 
अपने अनुचित व दो नम्बर के कार्यों को फिलहाल बंद कर दें। टैक्स से जुड़ी या अन्य किसी सरकार से जुड़ी परेशानी को मैं इस वर्ष देख पा रहा हूं। सरकारी नौकरी में कार्यरत लोगों को अजनबी व्यक्तियों से सावधान व सतर्क रहना चाहिए। कोई झूठा आरोप या कलंक आप पर लग सकता है। कोर्ट-केस जो पिछले काफी समय से चल रहा है, उसमें आपको सफलता मिल ही जाएगी। हालांकि इसके लिए आपको काफी प्रयास करना पड़ेगा। राहु नवम स्थान में वर्ष पर्यन्त रहेंगे। अत: व्यापार व काम-काज में विस्तार की जो योजना आप बना रहे थे, उसमें शुरुआत में परेशानी तो आएगी, परंतु परेशानी व तकलीफों के उपरान्त वह लागू हो जाएगी। भूमि, भवन, वाहन व भूखण्ड आदि के खरीद के योग तो बने हुए हैं, परंतु मकान के लिए ऋण लेना पड़ सकता है। भाइयों से सम्पत्ति व बंटवारे सम्बन्धी विवाद मध्यस्थता से हल हो जाएंगे। संतान के अध्ययन, पढ़ाई, इच्छित शिक्षण संस्थान में प्रवेश, कैरियर विषय के चयन को लेकर कुछ-न-कुछ चिंता व असमंजस बना हुआ रहेगा। कोई व्यावसायिक विवाद इस वर्ष समाप्त हो जाएगा। इस साल आपको मेहनत व परिश्रम पहले की अपेक्षा अधिक करना पड़ेगा। वर्षारम्भ में आपकी राशि का स्वामी बारहवें स्थान में है। कामकाज को लेकर  पर जोर रहेगा।
 
शारीरिक सुख एवं स्वास्थ्य
शारीरिक सुख व स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष मध्यम फलप्रद है। कामकाज की व्यस्तताओं के बीच आप अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाएंगे। इस साल मौसमी बिमारियां, सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार, पेट दर्द, एसिडिटी, गैस जैसी बिमारियों से परेशान रहेंगे। अप्रैल से सितम्बर के मध्य शनि के वक्रत्व काल में रक्तचाप, मधुमेह जैसी बिमारियों से भी परेशानी रहेगी। इस साल रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम ही रहेगी। व्यायाम, शारीरिक श्रम, प्राणायोग, योग, डाइट कन्ट्रोल पर आपको ध्यान देना चाहिए। इस वर्ष यात्राओं पर जोर रहेगा। यात्राओं में खान-पान का विशेष ध्यान रखें।आत्मविश्वास फुर्ती इस साल आपमें गजब की रहेगी। वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं विशेषकर अप्रैल से सितम्बर के मध्य।वाहन चलाते समय ट्रैफिक नियमों की अनदेखी नहीं करें।
 
व्यापार, व्यवसाय व धन
व्यापार व कारोबार को लेकर इस साल संघर्ष तो रहेगा, परंतु संघर्ष के उपरांत आपको धन लाभ प्राप्त होगा। इस वर्ष शनि दूसरे स्थान में साढ़ेसाती कारक रहेगा। मेहनत व परिश्रम आपको करना पड़ेगा। कारोबार में विस्तार की योजनाएं बनेंगी और उसे आपको कार्यरूप में परिणित करने के लिए काफी प्रयास करने पड़ेंगे। छोटीमोटी समस्याएं और परेशानियां आएंगी, परंतु आप उन सभी को सुलझा लेंगे। व्यावसायिक प्रतिद्वन्द्वियों और प्रतिस्पर्दि्धयों से इस वर्ष आपको कड़ी चुनौती मिल सकती है। परिश्रम व मेहनत से आप जीवन में हर वह चीज प्राप्त करेंगे, जिसकी आपने तमन्ना की है। आप अपनी सूझ-बूझ, होशियारी, विवेक व बुद्धिमत्ता का इस्तेमाल करकेे अपने मुनाफे व आय के स्रोतों को बढ़ाने का प्रयास करेंगे। व्यावसायिक, प्रतिद्वन्द्वी व प्रतिस्पर्द्धी आपके सामने एक मुश्किल लक्ष्य रख देंगे। व्यापार में हल्की-फुल्की शिथिलता व लापरवाही से आपको भीषण नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। आप वृश्चिक राशि के जातक हैं, वृश्चिक राशि वाले मेहनत से नहीं घबराते और शत्रुन्जयी होते हैं। व्यापार में नया अनुबन्धन या करार सोच-विचार कर अमल में लाएं। मंगल वर्षारम्भ में बारहवें स्थान में है, अत: कोई गलत निर्णय आपसे करवा सकता है। भूमि, भवन, वाहन, फ्लैट, चल या अचल सम्पत्ति की खरीद से पूर्व अच्छी तरह से पड़ताल कर लें। कागजों को अच्छी तरह से जांच लें। आपके साथ कोई धोखा या विश्वासघात हो सकता है। सम्पत्ति की देखभाल व रख रखाव पर खर्चा होगा, जहां तक बैंक बैलेंस की बात है, धन संचय नहीं हो पाएगा। 
 
घर, परिवार व संतान 
आप इस साल यह महसूस करेंगे कि हर प्रकार की विपरीत परिस्थिति में आपका पूरा परिवार कन्धे-से-कन्धा मिलाकर आपके साथ खड़ा है। दाम्पत्य सम्बन्धों में मधुरता की स्थितियां रहेंगी। मंगल व बृहस्पति बारहवें स्थान में स्थित है, अत: कभी कभार स्वभाव में उद्विग्नता रहेगी। पति-पत्नी व बच्चों से सकारात्मक सहयोग मिलेगा। जीवनसाथी आपकी भावनाओं को समझ कर उसके अनुरूप आचरण व व्यवहार करेगा। भाइयों से हल्की-फुल्की तकरार हो सकती है। माता-पिता व घर के बड़े-बुजुर्गों का स्नेह और आशीर्वाद प्राप्त होगा। संतान के कैरियर सम्बन्धी चिंता समाप्त हो जाएगी। परिवार के लोग अपने खर्चों में कटौती कर आपको सहयोग प्रदान करेंगे। उदारता व लचीलेपन से आप परिवार में सभी के चहेते रहेंगे। यदा-कदा 
पिता-पुत्र में वैचारिक मतभेद रह सकते हैं। ससुराल वालों से मतभेद रहेंगे। स्त्री जातकों का जेठानी, ननद व सास से कहासुनी बोलचाल हो सकती है। 
 
विद्याध्ययन,पढ़ाई व कॅरियर
बृहस्पति का  स्थान में परिभ्रमण अत: अध्ययन व के दृष्टिकोण से समय गति ठीक नहीं है। आप मन लगाकर पढ़ाई करेंगे, परंतु परिणाम व प्रतिफल उतने सकारात्मक आएंगे। कभी-कभार ध्यान में भटकाव रहेगा। लक्ष्य के प्रति एकाग्रचित्तता और लक्ष्य के प्रति समर्पण आपको आगे चलकर सफलता दिलाएगा। मेडिकल क्षेत्र से जुड़े विद्यार्थियों के लिए समय व ग्रह स्थिति ठीक है। प्रेम-प्रसंगों के अवसर मिलेंगे। प्रेमी-प्रेमिका से मेल मुलाकात होगी। प्रेम-प्रसंगों में पड़कर अपने अध्ययन व कैरियर को चौपट नहीं करें, नई जॉब के ऑफर्स मिलेंगे। बॉस व वरिष्ठ अधिकारी आपके काम से प्रसन्न रहेंगे। आपकी योग्यता व क्षमताएं खुलकर लोगों के सामने आएंगी। नौकरी या जॉब में स्थान परिवर्तन की संभावना दिखलाई पड़ रही है। विभागीय परीक्षा, कैरियर सम्बन्धी परीक्षा, इंटरव्यू आदि का परिणाम पक्ष में ही आएगा।
विद्याध्ययन में बेहतर फल की प्राप्ति के लिए 'विद्या निद्यये नम:'मंत्र का जाप करें।
 
प्रेम-प्रसंग व मित्र
यह साल प्रेम-प्रसंगों के लिहाज से उपयुक्त नहीं है। गुप्त प्रेम सम्बन्ध उजागर होंगे। प्रेम प्रसंगों के उजागर होने से आपकी छवि व प्रतिष्ठा पर गहरा आघात लग सकता है। मित्रों से कोई खास सहयोग नहीं मिल पाएगा। पति-पत्नी में प्रेम सम्बन्धों में प्रगाढ़ता आएगी। इस वर्ष आपके सम्बन्धों व सम्पर्कों का दायरा काफी विस्तृत रहेगा। इस वर्ष नए-नए मित्र  भी बनेंगे। मित्र आपसे फायदा निकालने व स्वार्थ निकालने की सोचेंगे। सीमाविहीन व अमर्यादित प्रेम-सम्बन्धों से आपकी आलोचना होगी।
 
वाहन खर्च व शुभ कार्य
इस वर्ष आपकी कमाई का बड़ा हिस्सा या जमाबंदी घर के किसी बीमार सदस्य की दवाओं व उसके इलाज पर खर्च होगी। ग्रह स्थिति के अनुसार नवम भाव का राहु भागयोन्नति में बाधा पैदा करेगा। वाहन को सदैव अच्छी हालत में रखें।
मंगल बारहवें स्थान में अन्यथा वाहन आपको बीच रास्ते में खड़ा कर सकता है। किसी भी शुभ प्रसंग की संभावना कम ही है। आय कम व खर्च अधिक की स्थिति इस साल रहेगी। आय को बढ़ाना आपके नियंत्रण व अधिकार में नहीं है, परंतु खर्चों में कटौती करके आप अपनी आर्थिक स्थिति को संतुलित कर सकते हैं। फिजूलखर्ची पर नियंत्रण रखें। वाहन चलाते समय सुरक्षा के नियमों का पालन करें, हैलमेट, सीट बेल्ट आदि नियमों का पालन करें। अन्यथा कोई दुर्घटना या अप्रिय घटना घटित होने की संभावना है।
 
हानि, कर्ज व अनहोनी
इस वर्ष शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव आपकी राशि पर है। धन हानि के प्रबल योग हैं। व्यापार में कोई निर्णय गलत हो जाएगा, जिसके कारण आपको धनहानि उठानी पड़ सकती है। नौकरी में महत्त्वपूर्ण पदभार आपके हाथों से निकल जाएंगे। कर्ज की स्थिति रहेगी। व्यापार को चलाने के लिए आपको ऋण लेना पड़ सकता है। भूमि, भवन, वाहन, भूखण्ड आदि के लिए बैंक से कर्ज ले सकते हैं। घर के किसी वरिष्ठ सदस्य व बुजुर्ग व्यक्ति के साथ कोई अनहोनी घटित हो सकती है।
 
यात्राएं
इस वर्ष आप लम्बी दूरी की व कम दूरी की यात्राएं काफी करेंगे। मंगल आपकी राशि का अधिपति वर्षारम्भ में बारहवें स्थान में है, जो निरंतर रूप से यात्रएं रखेगा। यात्रएं ज्यादा लाभप्रद नहीं रहेंगी। परिवार के सदस्यों के साथ आप किसी धार्मिक स्थल या तीर्थ स्थान की यात्रा कर सकते हैं।
 
उपाय
वर्ष की शुभता में वृद्धि करने के लिए त्रिकोणा मूंगा 'मंगलयंत्र' में जड़वाकर गले में धारण करें। हनुमान जी की आराधना करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें। एक तांबे का बिना जोड़ का छल्ला (बेजोड़ छल्ला) अनामिका अंगुली में धारण करें।
 
 
 

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription