GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

ल्यूकोरिया से न हों परेशान, अपनाएं ये 5 घरेलू उपचार 

गीता सिंह

7th June 2018

सभी महिलाओं को हल्का-फुल्का वैजाइनल डिस्चार्ज होना साधारण सी बात मानी जाती है। क्योंकि हल्का वैजाइनल डिस्चार्ज होना कहीं ना कहीं इस बात की तरफ इशारा करता हैं कि शरीर के अंदर मौजूद ग्लैंड अच्छी तरह से काम कर रहे हैं। किंतु वहीं बहुत अधिक मात्रा में वैजाइनल डिस्चार्ज होना किसी बीमारी की तरफ संकेत भी देते हैं।

ल्यूकोरिया से न हों परेशान, अपनाएं ये 5 घरेलू उपचार 
महिलाओं को Vaginal Discharge अथवा योनि से सफेद पदार्थ निकलने को सामान्य शारीरिक प्रक्रिया समझकर इग्नोर नहीं करना चाहिए। उन्हें कुछ संकेतों को ध्यान में रखना चाहिए जैसे डिस्चार्ज का रंग पारदर्शी सफेद से पीला, हरा या लाल होना व डिस्चार्ज से तेज बदबू आने लगना। क्योंकि ये सभी लक्षण ल्यूकोरिया के होते हैं और यदि इस पर समय रहते ध्यान ना दिया जाए तो फ्यूचर में किसी गंभीर गुप्त रोग का कारण बन सकता है। इसलिए हम आपकों बता रहे हैं ल्यूकोरिया से जुड़ी समस्त जानकारी। ताकि आप स्वयं और अपने से जुड़ी सभी महिलाओं को इस रोग से बचा सकें। 
 
जानें ल्यूकोरिया क्या होता है और ये क्यों होता है
 
ल्यूकोरिया यानी वजाइना मार्ग से आने वाला सफेद व चिपचिपा पदार्थ होता है, जिसमें से अजीब तरह की गंध आती है। शादीशुदा महिलाओ में ये ल्यूकोरिया बार-बार गर्भपात होना, यूरिन एरिया में इंफेक्शन, रोगप्रतिरोध क्षमता में कमी और डायबिटीज होने के चलते होता है। वहीं जिन लड़कियों की शादी नहीं हुई है उनमें यह समस्या पोषक तत्वों की कमी होने, प्राइवेट पार्ट की अस्वच्छता, खून की कमी, अधिक स्पाइसी खाने का सेवन करना, स्थानीय ग्रंथियों की अति सक्रियता  इत्यादि कारणों से उत्पन्न होती है। 
 
ल्यूकोरिया के लक्षण
 
  • पिंडलियों में खिंचवा होना
  • चिडचिड़ापन और चक्कर आना
  • भूख  न लगना
  • बार-बार पेशाब जाना
  • प्राइवेट पार्ट में खुजली होना।
  • हाथ-पैरों और कमर में दर्द होना।
  • कभी-कभी पेट में दर्द होना।
  • वजाइना से बदबू आना।
  • शरीर में भारीपन महसूस होना।
  • जी मिचलाना इत्यादि। 
 
कैसे करें उपचार
 
डाॅक्टर्स के अनुसार जब ल्यूकोरिया की शुरूआत हो तो कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर इस समस्या पर काबू पाया जा सकता है। किंतु समस्या बढ़ जाए तो  ल्यूकोरिया की जांच किसी अच्छी महिला रोग विशेषज्ञ से अवश्य करवानी चाहिए अन्यथा लापरवाही से रोग भयंकर रूप धारण कर सकता है। 
 
घरेलू उपचार
 
  1. ल्यूकोरिया का देसी इलाज करने के लिए दिन में 2 बार 1 पके केले को घी या मक्खन के साथ खाना चाहिए। इससे शरीर की कमजोरी दूर होती है साथ ही वजाइना से सफेद पदार्थ निकलना कम हो जाता है।  
  2. योनि से बदबू और खुज़ली हटाने के लिए फिटकरी के पानी से वजाइना को दिन में साफ करना चाहिए।
  3. गुलाब के पत्तों को पीस कर दिन में दो बार इसका 1/2 चम्मच दूध के साथ लेना चाहिए। इस उपाय से सफेद पानी की बीमारी से छुटकारा मिल जाता है।
  4. सफेद पानी की समस्या के दिनों में प्रतिदिन भुने हुए चने खाना चाहिए। 
  5. एक चम्मच आंवला पाउडर दो चम्मच शहद में मिलाकर लेने से सफेद पानी आना को रोकने में मदद मिलती है।                                           

ये भी पढ़ें -

जरूरी है गर्भावस्था में एलर्जी की पहचान और निदान

गर्भावस्था में आम है खर्राटे लेना

गर्भावस्था के दौरान सांस की तकलीफ 

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।