GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

इरफान खान ने लिखा अपने दर्द को बयां करता एक इमोशन खत

आभा यादव

19th June 2018

पान सिंह तोमर के नाम से पहचान बनाने वाले  इरफान खान एक ऐसे भारतीय फिल्‍म अभिनेता हैं जो बॉलीवुड में अपने दमदार अभिनय के लिए जाने जाते हैं।  इसके अलावा वे अपने हॉलीवुड फिल्‍मों में किए गए कामों की वजह से भी जाने जाते हैं। उन्‍हें तीन बार फिल्‍मफेयर पुरस्‍कार और सर्वश्रेष्‍ठ अभिनेता के तौर पर फिल्‍म 'पान सिंह तोमर' के लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार भी मिल चुका हैा उन्‍हें पद्मश्री सम्‍मान से भी नवाजा जा चुका है। दर्शक ऐसा मानते हैं उनकी आंखों में ऐसा जादू है कि वे अपनी आंखों से ही पूरा अभिनय कर देते हैं, उनकी संवाद अदायगी का कहना ही क्या। जो उन्हें खास बनाती है। वे लीक से हटकर फिल्‍में करने की वजह से मशहूर है। लेकिन कुछ महीनों से इरफान न्‍यूरोएन्‍डोक्राइन कैंसर से जूझ रहे हैं। इरफान लंदन में अपनी इस बीमारी का इलाज करा रहे हैं और उन्‍होंने लोगों से उनकी निजता का सम्‍मान करने की अपील की थी। लेकिन ऐसे में अब इरफान खान ने खुद लंदन से एक पत्र लिखकर अपनी बीमारी और इससे जूझते हुए अपने भीतर के तनाव और सारी परेशानी को एक भावनात्मक पत्र में लिखा है। 


इरफान खान ने लिखा है, 'कुछ महीने पहले अचानक मुझे पता चला कि मैं न्यूरोएन्डोक्राइन कैंसर से जूझ रहा हूं, मेरी शब्‍दावली के लिए यह बेहद नया शब्‍द था, इसके बारे में जानकारी लेने पर पता चला कि यह एक दुर्लभ बीमारी है और इसपर अधिक शोध नहीं हुए हैं। अभी तक मैं एक बेहद अलग खेल का हिस्‍सा था। मैं एक तेज भागती ट्रेन पर सवार था, मेरे सपने थे, योजनाएं थीं, अकांक्षाएं थीं और मैं पूरी तरह इस सब में बिजी था। तभी ऐसा लगा जैसे किसी ने मेरे कंथे पर हाथ रखते हुए मुझे रोका। वह टीसी था। 'आपका स्‍टेशन आने वाला है। कृपया नीचे उतर जाएं।' मैं परेशान हो गया, 'नहीं-नहीं मेरा स्‍टेशन अभी नहीं आया है.' तो उसने कहा, 'नहीं, आपका सफर यहीं तक था। कभी-कभी यह सफर ऐसे ही खत्‍म होता है।' इस सब के बीच मुझे बेइंतहां दर्द हुआ।
इरफान ने इस पत्र में आगे लिखा, 'इस सारे हंगामे, आश्‍चर्य, डर और घबराहट के बीच, एक बार अस्‍पताल में मैंने अपने बेटे से कहा, 'मैं इस वक्‍त अपने आप से बस यही उम्‍मीद करता था कि इस हालत में मैं इस संकट से न गुजरूं। मुझे किसी भी तरह अपने पैरों पर खड़े होना है। मैं डर और घरबाहट को खुद पर हावी नहीं होने दे सकता। यही मेरी मंशा थी... और तभी मुझे बेइंतहां दर्द हुआ।'
'मुझे नहीं पता मेरे पास कितना समय है, लेकिन...', 'जब मैं दर्द में, थका हुआ अस्‍पताल में घुस रहा था, तब मुझे एहसास हुआ कि मेरा अस्‍पताल लॉर्ड्स स्‍टेडियम के ठीक सामने है। यह मेरे बचपन के सपनों के 'मक्‍का' जैसा था।"
कुछ महीनों पहले इरफान खान ने जैसे ही अपनी दुर्लभ बीमारी के बारे में बताया, उनके फैन्‍स से लेकर पूरी इंडस्‍ट्री में खलबली मच गई। हर कोई इरफान खान की तबियत और उनकी बेहतरी के लिए दुआएं मांगने लगा। इरफान खान न्‍यूरोएन्‍डोक्राइन कैसर से जूझ रहे हैं।  

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription