GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

गुड़हल की चाय से पेट की चर्बी करे कम, ऐसे बनाए गुड़हल की चाय 

शिखा पटेल

10th July 2018

स्वाद से भरपूर होने के साथ ही हेल्थ के लिए भी गुड़हल की चाय बहुत लाभकारी होती है।

ज्यादातर लोगों के दिन की शुरूआत चाय से होती है। आपने ग्रीन टी, तुलसी टी या जिंजर टी, लेमन टी का नाम तो सुना ही होगा और आपने ये चाय पी भी होंगी लेकिन क्या कभी गुड़हल की चाय ट्राई की है? शायद ही आपने इसका स्वाद चखा होगा? गुड़हल की चाय पीने से क्या लाभ होते हैं, इसको घर पर बनाने की विधि क्या है, इन सब की जानकारी आज हम आपको देंगे-

मोटापा होगा दूर

अगर आप अपने बढ़ते हुए मोटापे से परेशान हैं तो गुड़हल की चाय आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती है। इसमें भरपूर मात्रा में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंटस शरीर के मेटाबॉलिज्म को स्ट्रांग करते हैं। नियमित रूप से गुड़हल की चाय पीने से पेट की चर्बी कम हो जाएगी। और पढ़ें-(सावधान! कहीं आप भी तो नहीं पीते गर्म-गर्म चाय)

बीपी की समस्या

बीपी की समस्या से पीड़ित व्यक्ति अगर एक कप गुड़हल की चाय नियमित रूप से पीते हैं तो ब्लड प्रेशर आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं।

स्किन के लिए

गुड़हल की चाय पीने से स्किन में नेचुरल ग्लो आता है। आप चाहे तो इसके फूल को पीस कर फेस पर लगा सकती हैं, इससे स्किन हेल्दी होती है।

हर्बल शैंपू

गुड़हल के फूलों की चाय पीने से हेयर प्रॉब्लम्स दूर हो जाती है। हेयर फॉल और ड्राई हेयर की समस्या से निजात पाने के लिए आप चाहें तो इसके फूल से हर्बल शैंपू भी बना सकते हैं।

डिप्रेशन होगा दूर

गुड़हल की चाय में कई तरह के ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो स्ट्रेस के कारण बढ़े तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करने से रोकता है। इसके सेवन से डिप्रेशन खत्म होता है और दिमाग शांत रहता है।

चाय बनाने की विधि
 
दो कप पानी में गुड़हल की कुछ सूखी पत्त‍ियों को डालें अब इसे उबलने के लिए रख दें और 5 से 7 मिनट तक धीमी आंच पर पकाए फिर गैस बंद करके इसे कप में छान लें और ठंडी करके पिए। आप चाहे तो स्वाद के लिए इसमें शहद और नींबू मिला सकते हैं।
 
 

ये भी पढ़ें -

वेट लॉस के लिए ट्राई करें ये 7 होम रेमेडीज़

जब कॉन्स्टिपेशन हो, तो ट्राई करें ये 7 टिप्स

मुंह के छालों को इन 10 टिप्स से करें ठीक

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

 

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

पूजा में बां...

पूजा में बांधा जाने...

किसी भी पूजा की शुरुआत या समाप्ति के बाद या फिर किसी...

इन हाथों में...

इन हाथों में लिख...

हर दुल्हन अपने होने वाले पति का नाम लिखवाना पसंद करती...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription