GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

गर्दन की चर्बी घटाने के लिए कुछ आसान टिप्स

सुचि बंसल, योगा एक्सपर्ट एवं डाइटीशियन

2nd July 2019

जिन लोगों का वजन ज्यादा होता है अक्सर उनकी गर्दन के आसपास फैट जमा होने लगता है। जिसकी वजह से चेहरा भारी लगने लगता है और चेहरे की सुंदरता समाप्त होने लगती है। गर्दन के नीचे चर्बी बढ़ने से चेहरा और गर्दन एकसार सा दिखने लगने लगता है, जिसे समान्यतः डबल चिन कहा जाता है यह देखने में अच्छा प्रतीत नहीं होता। यदि आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो चिंता न करें नियमित रूप से गर्दन की एक्सर्साइज़ और खानपान में थोड़ा बदलाव करके इस चर्बी से निजात पाया जा सकता है –

योग को करें शामिल :

अपनी दिनचर्या में योग को शामिल करके आप आसानी से गर्दन की चर्बी को कम कर सकते हैं। इसके लिए ब्रह्म मुद्रा बहुत ही फायदेमंद है। इसे करने के लिए किसी आरामदायक स्थिति में बैठ जाएँ। कमर- गर्दन को सीधा रखते हुए पहले गर्दन को बाईं ओर ले जाएँ, थोड़ी देर यहीं रुकें। फिर गर्दन को दाईं ओर ले जाएँ। इसके बाद गर्दन को ऊपर की ओर ले जाएँ, फिर नीचे की ओर ले जाएँ। इसके बाद गर्दन को क्लॉक वाइस और एंटिक्लॉक वाइज़ घुमाएँ। इस तरह से 4 -5 बार करें। इससे गर्दन की चर्बी तो कम होती ही है, साथ ही गर्दन की मांसपेशियाँ भी मजबूत और लचीली होती है।

सिटिंग पोश्चर सुधारें :

बैठने- उठने का तरीका भी बढ़ती हुई चर्बी के लिए जिम्मेदार होता है। झुककर बैठकर काम करने से गर्दन के आसपास की चर्बी बढ़ती है। गर्दन झुकाकर बैठने से मांसपेशियाँ कमजोर हो जाती हैं जिससे वहाँ परर चर्बी इकट्ठा होने लगती है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि बैठते समय अपनी गर्दन सीधी रखें।

प्रोटीन और सब्जियों को करें आहार में शामिल :

अपने खानपान में थोड़ा बदलाव करके शरीर और गर्दन में जमा चर्बी को कम कर सकते हैं। अपने आहार में प्रोटीनयुक्त भोजन, सब्जियाँ, अनाज, मिल्क प्रॉडक्ट और फल शामिल करें। ये शरीर को पोषण देते हैं और शरीर में चर्बी जमा नहीं करते। यदि आप नॉन वेजिटेरियन हैं तो रेड मीट और बीफ की जगह चिकन और फिश को अपने भोजन में शामिल करें।

अधिक फैट को कहें न :

सेचुरेटेड फैट शरीर का वजन बढ़ाने का काम करते हैं। ये शरीर में किसी प्रकार का पोषण प्रदान नहीं करते हैं। इसलिए जरूरी है कि जंक फूड, ओइली फूड और पैक्ड फूड से बचें। इनका ज्यादा मात्रा में सेवन शरीर और गर्दन में चर्बी जमा होने का कारण बनता है।

ज्यादा मात्रा में पानी पिएँ :

शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी होने से त्वचा में शिथिलता या ढीलेपन की संभावना कम होती है। रोजाना कम से कम 8 -10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए। इससे भूख भी कम लगती है जिससे जरूरत से ज्यादा खाने से बच जाते हैं। इसके अलावा सोडा, कोल्ड ड्रिंक तथा ठंडे पदार्थों का सेवन कम करना चाहिए।

ये भी पढ़ें-

योग शुरू करने से पहले ये 10 बातें जाननी हैं बेहद जरूरी

योग आसन में है मां बनने के उपाय

डिप्रेशन की समस्या को कम करता है मूर्धासन

आप हमें फेसबुकट्विटर और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।