क्या आप जानते हैं कि किन रंगों से सजाना चाहिए घर का हर कोना

गरिमा अनुराग

27th March 2019

अकसर लोग एक ही रंग या बहुत तो दो रंगों से अपने पूरे घर को सजा लेते हैं और कभी-कभी अगर कोई अपने घर में एक से ज्यादा रंग करवाता भी है तो मुमकिन है वो कलर साइकलॉजी के हिसाब से नहीं होता, बल्कि खुद की च्वॉइस के अनुसार होता है। हालांकि कलर साइकोलॉजिस्ट मानते हैं कि रूम के हिसाब से ही रंगों का चयन करना सर्वोत्तम होता है।

लिविंग रूम- घर में घुसते ही लिविंग रूम ही वो जगह है जो लोग सबसे पहले देखते हैं। लिविंग रूम के लिए लाइट न्यूट्रल शेड्स या व्हाइट चुनना सही होता है क्योंकि घर और कमरे में अधिक स्पेस होने का एहसास देता है। 

 

बेडरूम- बेडरूम वो जगह है जहां लोग रिलैक्स करना और दिनभर की थकान मिटाना पसंद करते हैं। ग्रीन भी ऐसा ही रंग है जो माइंड को रिलैक्स और शांत करता है, इसलिए बेडरूम में आप ग्रीन कलर ट्राई कर सकती हैं। ये कलर बॉडी और माइंड दोनों को ही सूदिंग एहसास देता है। 

 

डायनिंग रूम- आपने गौर किया होगा कि कई फूड ब्रांड्स अपनी पैकेजिंग के लिए रेड कलर का इस्तेमाल करते हैं। रेड कलर भूख बढ़ाता है और परिवार के बीच टुगेदरनेस का एहसास भी पैदा करता है, इसलिए डायनिंग टेबल की दीवारों के लिए रेड कलर चुनें।
 
किचन- किचन में यलो के वॉर्म शेड्स यूज़ किए जाते हैं। ये कलर खुशी, एकजुटता दर्शाते हैं और यही वजह है कि आपने गौर किया होगा कि अक्सर किचन के लिए यलो के वॉर्म शेड्स देखने मिल जाते हैं।
 
  
कहां लगा सकते हैं ब्लू कलर- नीला रंग एकाग्रता बढ़ाने का काम करता है इसलिए इस रंग को अपने स्टडी रूम और ऑफिस में यूज़ करें।
 
ये भी पढ़े-
 
आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।
 

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

वोट करने क लिए धन्यवाद

सारा अली खान

अनन्या पांडे

गृहलक्ष्मी गपशप

एक बेडरूम के...

एक बेडरूम के फ्लैट...

बॉलीवुड के भाईजान सलमान खान आए दिन किसी ना किसी वजह...

क्रेश डाइट क...

क्रेश डाइट के क्या...

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि...

संपादक की पसंद

प्रेग्नेंसी ...

प्रेग्नेंसी के दौरान...

प्रेगनेंसी में अक्सर हर कोई अपने क्या पहनने क्या नहीं...

क्रेश डाइट क...

क्रेश डाइट के क्या...

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription