GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कोई भी शुभ काम या पूजा करते वक्त आती हैं छींक तो जानिए क्या होता है?

शिखा पटेल

4th May 2019

किसी भी काम की शुरुआत करते वक्त शुभ/अशुभ को बहुत माना जाता है। 

आज के समय में भी कुछ लोग शुभ, अशुभ चीजों को मानते हैं और जब बात चल रही हो शकुन/अपशकुन की, तो छींक के बारे में बात करना तो बनता ही है। कई सारे लोग हैं जो पूजा के वक्त, घर से बाहर निकलते समय छींक को बहुत ही अशुभ मानते हैं। मगर ज्योतिष और हिन्दू शास्त्रों में छींक को हर समय अशुभ नहीं बताया गया है। तो आइए जानते है किस वक्त छींक मानी जाती है शुभ या अशुभ?
  • अगर आप नए कपड़े पहन रहे हैं और उस समय कोई छींकता हैं तो ऐसा करना आपको दुगुनी खुशी देने का संकेत माना जाता हैं। माना जाता हैं कि आपको जल्द ही और नए कपड़े मिलने वाले हैं।
  • अगर आप किसी नयें व्यापार का शुभारंभ कर रहें है और उस समय छींक आ जाये तो व्यापार में सफलता मिलने के संकेत रहते है। 
  • यदि आपने नया घर बनवाया है और उसमें गृह प्रवेश करते समय कोई छींक दे तो कम से कम 4 घण्टे के लिए गृह प्रवेश को रोक दे उसके बाद गणेश जी को घर में प्रवेश कराए और फिर आप लोग घर में जाए। 
  • अगर आप घर से किसी काम के लिए निकल रहे है और कोई सामने से एक बार छींकता है तो समझो काम में बाधा आएगी और एक से अधिक बार छींकने से कार्य आसानी से बनता है।
  • यदि कोई सुबह 6 बजे से 10 बजे तक पूर्व की दिशा में छींकने की आवाज सुनता है तो उस दिन कई तरह के कष्ट झेलने पड़ सकते है। सुबह 10 बजे से 01 बजे तक छींक सुनने पर शारीरिक कष्ट, दोपहर 01 बजे से 03 बजे तक छींक सुनने पर टेस्टी भोजन प्राप्त होता है। दिन के चौथे पहर यानि 3 बजे से शाम 6 बजे तक जब कोई छींक सुनता है तो किसी मित्र से मिलने का अवसर मिलता है।
  • सोने से और जागने के तुरन्त बाद छींक का सुनना अशुभ माना जाता है
  • यदि आप कोई वस्तु की खरीद्दारी कर रहें है और उसी समय आपको छींक आ जाए या कोई सामने छींक दें तो खरीदी गई वस्तु से लाभ होने की संभावना रहती है।
  • अगर आप किसी यात्रा में या किसी जरूरी काम के लिए घर से जा रहे है और आपके बांयी ओर कोई छींकता है तो इसे अशुभ माना जाता है। हो सके तो घर से नहीं निकलना चाहिए। फिर भी अगर निकलना जरूरी है तो एक लौंग खाकर घर से निकलें। 
  • यदि आप परीक्षा देने जा रहें है या दे रहें है और उस समय कोई आपके पीछें से छींक रहा है तो परीक्षा में असफलता मिलने की सम्भावना रहती है।
  • किसी मरीज को अस्पताल ले जाते वक्त या दवा खरीदते समय छींक आ जाए तो समझो मरीज जल्दी स्वस्थ्य होने वाला है।
  • वही शुभ कार्य को करते वक्त अगर छींक आती हैं, तो यह माना जाता हैं कि काम के पूरा होने में बाधा आ सकती हैं लेकिन अगर एक छींक के बाद दूसरी छींक आती हैं तो इसे शुभ भी माना जाता हैं।
  • भोजन करने से पूर्व छींक आने पर अशुभ होता है। इसी समय यदि कोई दूसरा छींके तो किये हुये भोजन से स्वास्थ्य खराब हो सकता है।