GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

घर में केले का पेड़ लगाना शुभ या अशुभ, जानें पौधों की सही दिशा 

शिखा पटेल

7th May 2019

वास्तु शास्त्र में बताया गया है कि घर में लगे पेड़-पौधों का सीधा कनेक्शन हमारी किस्मत से जुड़ता है। 

हिन्दू धर्म में पेड़-पौधों के महत्व को बखूबी बताया गया है। तुलसी, नीम, बरगद, पीपल जैसे कई पेड़ों की तो पूजा भी होती है। ऐसा ही एक पौधा है केले का, जिसे धार्मिक दृष्टि से काफी उपयोगी माना जाता है। हालांकि कुछ लोग इसे घर में लगाना अशुभ भी बताते हैं लेकिन देखा जाए तो कोई भी पौधा अशुभ नहीं होता है, बशर्ते उसकी दिशा उचित होनी चाहिए। तो इसीलिए आज हम आपको बताएंगे कि कौन-सा पौधा किस दिशा में हो, जिससे आपको सिर्फ शुभ लाभ ही मिले।
  • घर के बगीचे या बालकनी की उत्तर-पूर्व या पूर्व दिशा में तुलसी, गेंदा, लिली, केला, आंवला, हरीदूब, पुदीना, हल्दी आदि लगाने चाहिए। 
  • उत्तर दिशा में नीले रंग के फूल देने वाले पौधें जीवन में समृद्धि लाने में सहायक सिद्ध होंगे। नीला रंग व्यक्ति के जीवन में स्थिरता व पवित्रता लाता है। 
  • ऊँचे पेड़ों को हमेशा घर की दक्षिण या पश्चिम दिशा में लगाना सही माना गया है। 
  • पीपल को घर से दूरी पर या कहीं खुली जगह में पश्चिम दिशा की तरफ लगाना शुभ परिणाम देता है। सफ़ेद रंग के फूलों के पौधे जैसे चांदनी, मोगरा, चमेली आदि को इस दिशा में लगाने से लाभ के अवसर बढ़ जाते हैं। इनसे बच्चों में रचनात्मक शक्ति का विकास होता है। 
  • भगवान शिव को प्रिय बेल का पेड़ घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में लगाना अत्यंत शुभ माना गया है। 
  • लाल रंग के फूल जीवन में ऊर्जा और उमंग भरते हैं, दक्षिण दिशा में लगे हुए लाल फूल हमें प्रसिद्धि व यश प्रदान करते हैं। 
  • अशोक का पेड़ विशेष शुभकारी होता है। इसे घर में लगाने से परिवार के सदस्यों के बीच आपसी प्रेम बढ़ता है तथा धन लाभ होता है। इसे घर की किसी भी दिशा में लगाया जा सकता है।
  • केले के पेड़ को भी तुलसी की तरह शुभ माना गया है। इसे घर में लगाने से शुभ कार्य शीघ्र पूरे होते हैं। इसे ईशान कोण में ही लगाना चाहिए। जो लोग केले के पेड़ को घर में लगाना शुभ नहीं मानते, वे इसे गमले में भी लगा सकते हैं।

ये भी पढ़ें- 

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।