GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानिए चारकोल मास्क के बेहतरीन फायदे

महिमा निगम

28th June 2019

ट्रेंडी ब्यूटी प्रोडक्ट्स में चारकोल के बारे में अभी कम ही महिलाएं जानती हैं। यह एक ऐसा ब्यूटी प्रोडक्ट है, जो देता है बैक्टीरिया फ्री स्किन और निखरी त्वचा साथ-साथ। कुछ जानकारी इसी प्रोडक्ट के बारे में। इन दिनों मार्केट में चारकोल मास्क काफी तेजी से बिक रहा है, लेकिन इसे वही लोग खरीद रहे हैं, जिन्हें चारकोल मास्क लगाने से होने वाले फायदों की जानकारी है।

जानिए चारकोल मास्क के बेहतरीन फायदे
बहुत से लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें ऐसा लगता है कि चारकोल मास्क लगाना उनकी स्किन के लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसे में  हम आपको बताने जा रहे हैं कि असल में चारकोल मास्क कितना फायदेमंद होता है। पहले जान लीजिए कि आखिर चारकोल मास्क होता क्या है।
 
क्या है चारकोल मास्क
चारकोल एक ऐसा पदार्थ है, जिसे इस तरह से गर्म किया जाता है कि इसमें बहुत सारे छोटे थान या पोर विकसित हो जाते हैं, जिसमें रसायनों को भरा जाता है। यह बहुत अधिक तापमान पर नारियल के खोल जैसे कार्बोनेसियस पदार्थों के छोटे कणों द्वारा निर्मित होता है। यह त्वचा के भीतर तक गहराई से हानिकारक पदार्थों, विषाक्त पदार्थों और अशुद्धियों को बाहर निकालता है।
 
चारकोल मास्क के फायदे
 
मुहांसे करे दूर
 
ऑयली स्किन और चेहरे पर गंदगी जमने के कारण मुंहासे (द्धद्गड्डह्ल ह्यश्चशह्ल) निकलने लगते हैं। ऐसी स्थिति में चारकोल फेसमास्क त्वचा को एक्सफोलिएट करने का काम करता है। यह त्वचा के अंदर से तेल और विषाक्त पदार्थों को सोख लेता, जिसके कारण मुंहासे पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं और किसी तरह का दाग-धब्बा भी नहीं पड़ पाता है।
 
खोले पोर्स
घर से बाहर निकलते ही किसी न किसी प्रकार से चेहरे पर गंदगी जमने लगती है। प्रदूषित वातावरण के कारण त्वचा के रोमछिद्र बंद  होने लगते हैं। इसकी वजह से त्वचा मृत पडऩे लगती है। इससे छुटकारा पाने के लिए चारकोल फेसमास्क एक बेहतरीन उपाय है। यह रोमछिद्रों से गंदगी को निकालता है और बड़े रोमछिद्रों को छोटा करता है, जिसके कारण चेहरा साफ दिखाई देता है।
 
स्किन को बनाए ऑयल फ्री
गर्मियों के दिनों में ज्यादातर लोगों की त्वचा तैलीय हो जाती है, जिसके कारण चेहरे की सुंदरता मलिन हो जाती है। इस स्थिति में चारकोल फेस पैक लगाना बेहद फायदेमंद होता है। यह त्वचा से अनचाहे अतिरिक्त तेल को खींच लेता है और त्वचा को कोमल एवं चिकना बनाता है। ऑयली स्किन वाले लोगों को हफ्ते में दो बार चारकोल फेस पेक लगाना चाहिए।
 
हटाए ब्लैकहेड्स
महिलाओं में ब्लैकहेड्स होना एक आम समस्या है। यह देखने में काफी खराब लगता है, जिसके कारण चेहरे का आकर्षण फीका पड़ जाता है। चारकोल फेसमास्क लगाने से ब्लैकहेड्स प्राकृतिक रूप से बाहर निकल आता है और हफ्ते में एक बार चारकोल फेस मास्क लगाने से दोबारा ब्लैक हेड्स नहीं होते हैं।
 
अंडरआम्र्स करे सफेद
चारकोल डार्क अंडरआम्र्स को सफेद करने का एक लोकप्रिय उपाय है। यह बांह के नीचे के हिस्से को एक्सफोलिएट करता है, अशुद्धियों  को बाहर निकालता है और गहरी मृत त्वचा को पूरी तरह हटा देता है। यहां तक कि अंडरआर्म की गंध (स्रशह्म्) को भी बेअसर करता है। चारकोल पाउडर में दो चम्मच शहद और एक चम्मच नींबू मिलाकर लगाने से काले अंडरआम्र्स सफेद हो जाते हैं।
 
चारकोल मास्क इस्तेमाल करने की विधि
  •  7 से 10 मिनट तक मास्क को सूखने दें और फिर इसे चेहरे से धीरे-धीरे छुड़ाएं 
  •  इसके बाद ब्रश की सहायता से चारकोल मास्क के पेस्ट को पूरे चेहरे पर फैलाएं।
  •  अब अपने चेहरे को साफ और एक्सफोलिएट करें।
  •  इसके बाद इसे अपने हाथ की त्वचा पर लगाकर देखें कि कहीं यह रिएक्शन तो नहीं कर रहा।
  •  सबसे पहले एक उच्च गुणवत्ता का चारकोल मास्क खरीदें या संभव हो तो घर पर बनाएं।
  • इसके बाद अपने बालों को समेटकर जूड़ा बना लें या रबरबैंड लगा लें।
  • आप इसके लिए क्लिंजर का इस्तेमाल भी कर सकती हैं, ताकि चेहरे की पूरी गंदगी (स्रद्बह्म्ह्ल) साफ हो जाए।
  •  यह ध्यान रखें कि आपकी आंखों और होंठों पर चारकोल मास्क न लगने पाए।
  •  इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें और तौलिए से पोंछकर कोई अच्छा सा मॉश्चराइजर लगा लें।