GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

चंद्र ग्रहण के दिन करें इन नियमों का पालन

पूनम रावत

10th July 2019

2 जुलाई के दिन सूर्य ग्रहण लगा था, जिसका भारत में इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा था, लेकिन इस बार आषाण शुक्ल पक्ष पूर्णिमा के दिन यानी 16 जुलाई को चंद्र ग्रहण लगने वाला है। जिसका असर इस बार भारत में भी पड़ने वाला है। चंद्रग्रहण का सुतक काल 16 जुलाई 2019 यानी मंगलवार को शाम 4:32 से प्ररांम्भ होगा। जोकि 16 जुलाई और 17 जुलाई के मध्य रात्रि में दिखाई देगा यानी मंगलवार रात 1 बजकर 32 मिनट से शुरू होगा और 4 बजकर 30 मिनट तक चलेगा। 

चंद्र ग्रहण के दिन करें  इन नियमों का पालन

भारतीय धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सूतक काल को अशुभ मुहूर्त समय माना जाता है। इस समय के दौरान कोई भी शुभ कार्य करना वर्जित होता है। सूतक काल खत्म होने के बाद धर्म स्थलों को फिर से पवित्र किया जाता है। इस काल के दौरान कोई भी अच्छा कार्य नहीं किया जाता है। यही नहीं चंद्र ग्रहण के दौरान मंदिर के पट भी बंद हो जाते हैं और इस समय पूजा पाठ नहीं किया जाता है। इस समय पर आप घर पर बैठकर धार्मिक ग्रंथों का पाठ कर सकते हैं, यह शुभ होता है। 

चंद्र ग्रहण के दिन ये उपाय करने से आपको मिलेगा लाभ

  • ग्रहण के समय मंत्रो का जाप करना चाहिए।
  • इसके दौरान स्नान भी नहीं करना चाहिए। ग्रहण खत्म होने के बाद या इससे पहले स्नान कर लेना चाहिए। 
  • ग्रहण के दौरान भोजन या जल ग्रहण नहीं करना चाहिेए।
  • किसी भी ग्रहण को दौरान कभी भी खुली आंखों से नहीं देखना चाहिए। इससे आंखों पर बुरा असर पड़ता है।
  • ग्रहण से पहले ही जिस पात्र में पीने का पानी रखते हैं और भोजन के पात्र में भी तुलसी के कुछ पत्ते डाल देने चाहिए। 
ये भी पढ़ें -
आप हमें फेसबुक, ट्विटर और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।