GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

हिन्दी फिल्मों में डेब्यू करने के लिए इस फिल्म से बेहतर कुछ नहीं- नित्या मेनन

गरिमा अनुराग

8th August 2019

हिन्दी फिल्मों में डेब्यू करने के लिए इस फिल्म से बेहतर कुछ नहीं- नित्या मेनन

दक्षिण भारतीय फिल्मों की एक्टर नित्या मेनन इस फिल्म में सैटेलाइट डिज़ाइनर वर्षा गौड़ा की भूमिका से बॉलीवुड में डेब्यू करेंगी। ये पूछने पर नित्या को फिल्म के सेट पर कैसा लगा वो फिल्म की टीम की खुले दिल से तारीफ करती नज़र आईं। उन्होंने कहा कि फिल्म की पूरी टीम, अक्षय, विद्या ने सेट पर उन्हें बहुत कंफर्टेबल फील कराया था। उन्होंने कहा, मुझे बहुत अच्छा लगा कि वो मुझे और मेरे काम के बारे में जानते थे। पेश है उनसे बातचीत कुछ अंश-

बॉलीवुड में कदम रखने के लिए आपने ये फिल्म क्यों चुना?

हिन्दी में डेब्यू करने के लिए एक ऐसी फिल्म जो कि देश की सफलता दर्शाती हो उससे बेहतर क्या हो सकता है। हमारे वैज्ञानिकों के इस मिशन के बारे में मुझे इस फिल्म के बाद ही इतनी अच्छी तरह सब समझ में आया और फिल्म की स्क्रिप्ट को भी बहुत ही क्रिएटिव तरह से तैयार किया गया है। कैसे हमारे वैज्ञानिकों ने इतने कम बजट में मंगल पर यान भेजा, देश की इतनी बड़ी उपलब्धी, मैं इस स्क्रिप्ट को छोड़ ही नहीं सकती थी।

फिल्म के दूसरे एक्टर्स से कितनी दोस्ती हुई आपकी?

ये पहली फिल्म है जिसमें मैंने इतनी अच्छी टीम के साथ काम किया है। सभी लोग, अक्षय और विद्या, तापसी, कीर्ति, सोनाक्षी, बहुत ज़मीन से जुड़े लोग हैं और अपने आसपास किसी को असहज नहीं होने देते। उन्होंने मुझे महसूस नहीं होने दिया कि मैं उनके बीच नई हूं। सबने मेरी फिल्मों में मेरे काम की तारीफ की। सबका व्यवहार बहुत फ्रेंडली था। हम सबके बीच बहुत मजेदार समय बीता।

आगे किस तरह की फिल्मों में काम करना चाहती हैं। कुछ प्लान किया है आपने?

नहीं, मैं प्लान नहीं करती। मैं लाइफ जैसे आती है उसे वैसे ही एंजॉय करती हूं। फिल्म के मामले में मैं सिर्फ अच्छा काम करना चाहती हूं। मेरे लिए भाषा कोई अड़चन नहीं है क्योंकि मैं छह भाषाएं आराम से बोल लेती हूं। मेरे लिए जरूरी है कि मेरा काम अच्छा हो, मैं फिल्म के साथ अपना काम मैच करने की कोशिश करती हूं। बॉलीवुड में आगे जो भी होगा उसके लिए मैं एक्साइटेड हूं।

फिल्म के खट्टे मीठे पल दिखाता है मिशन मंगल का न्यू ट्रेलर, दिखेगी अक्षय और विद्या की केमिस्ट्री

दिनभर के थकान के बाद खुद को कैसे रिलैक्स करती हैं?

मैं उन लोगों में नहीं हूं जो हमेशा सिर्फ फिल्मों के बारे में सोचते हैं। मेरी नज़र में लाइफ में करने के लिए कई चीज़े हैं।  मैं आध्यात्म में भी बहुत रुचि रखती हूं। मैं प्रकृति, हरियाली से भी बहुत जुड़ाव महसूस करती हूं। मुझे प्रकृति के बीच समय बिताना अच्छा लगता है। 

अपनी स्किन और बालों का ख्याल कैसे रखती हैं, कोई होम रेमेडी?

मैं बहुत नैचुरल रहना पसंद करती हूं। मैंने कभी भी बालों पर कोई हेयर कलर या स्किन के लिए कोई केमिकल ट्रीटमेंट नहीं ट्राई किया है। चेहरे पर कुछ भी लगाना मुझे कुछ ही समय की खूबसूरती लगती है। मेरे लिए अंदरुनी चमक बहुत मायने रखती है जो कि गहरे सकारात्मक विचार से आते हैं। 

घर का खाना आपके लिए क्या है?

मेरे लिए घर का खाना कंफर्ट फूड है। हमारा जॉब ऐसा है कि दिनभर के भागदौड़ के बाद जब मैं घर का खाना खाती हूं तो वो मेरे लिए सुकून देने वाला, थकान मिटाने वाला और मुझे शांत करने वाला होता है। खाने को मैं कार्ब्स, फैट और प्रोटीन की तरह नहीं देखती। दाल-चावल मेरे लिए जीवनदायनी है, शरीर और आत्मा को पोषण देने वाला है।

 आप सिंगर भी हैं। सिंगिंग और एक्टिंग के बीच कैसे बैलेंस बनाती है?

देखिए आजकल मैं ज्यादा एक्टिंग ही कर रही हूं, लेकिन सिंगिंग मेरा पैशन है। आगे आने वाली लाइफ में म्यूज़िक के क्षेत्र में कुछ करने की कोशिश करूंगी, फिल्हाल मैंने अपनी फिल्मों में ही कुछ गाने गाएं हैं। मैं इंटरनैशनल म्यूज़िक से जुड़ने के लिए भी कोशिश कर रही हूं। 

 

ये भी पढ़े-

 

मिशन मंगल देश की उपलब्धि को बड़े पर्दे पर सेलिब्रेट करती है- तापसी पन्नु

ये कहानी देश पर गर्व करना सिखाती है- अक्षय कुमार

मिशन मंगल के लिए विद्या बालन ने बिना सोचे कहा था हां

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

केविनकेयर के...

केविनकेयर के "इनोवेटिव...

भारतीय एफएफसीजी ग्रुप केविनकेयर ने अभिनेता अक्षय कुमार...

इन व्यंजनों ...

इन व्यंजनों को बनाकर,...

सभी भारतीय त्यौहारों के उपवास और अनुष्ठानों के बाद...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription