GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

गर्भावस्था में चॉकलेट खाने के 5 बड़े फायदे

संविदा मिश्रा

8th August 2019

आपने अक्सर सुना होगा कि टेस्ट से भरी हुई चॉकलेट सेहत के लिए हानिकारक है।  लेकिन क्या आप जानते हैं कि सेहत को नुकसान पहुंचाने  वाली चॉकलेट के कुछ बड़े फायदे भी हैं।  सुनने में थोड़ा अटपटा ज़रूर लग रहा है लेकिन ये सच है। खासतौर पर प्रेगनेंसी में जब सब कुछ हेल्दी खाने की हिदायत दी जाती है तब चॉकलेट खाना गर्भवती और उसके गर्भ में पल रहे शिशु के लिए बहुत फायदेमंद है। 

गर्भावस्था में चॉकलेट खाने के 5 बड़े फायदे
 
अक्सर देखा गया है कि चॉकलेट्स बच्चों की फेवरिट होती हैं। बच्चों को इसका टेम्पटेशन इतना ज्यादा होता है कि बच्चे इसके लिए बड़े से बड़ा काम भी करने को तैयार हो जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसी चॉकलेट के गर्भवती महिला के लिए बहुत बड़े फायदे होते हैं। जब कोई महिला गर्भवती होती है तो वो हर वो चीज़ खाती है जो उसके गर्भ में पल रहे शिशु के लिए लाभदायक हो।  फिर जब बात चॉकलेट की हो तो बात ही कुछ और है। आइए आपको बताते हैं गर्भावस्था में चॉकलेट खाने के कुछ बड़े फायदे। 
 
 
 ब्‍लड सर्कुलेशन को  ठीक रहता है
चॉकलेट खाने से ब्लड सर्कुलेशन ठीक प्रकार से होता है जिससे गर्भ में पल रहे शिशु को ठीक प्रकार से ब्लड मिलता है। चॉकलेट में पाया जाने वाला ब्रोमीन  ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। यह ब्‍लड प्रेशर को मेंटेन करने के साथ तनाव के लेवल को भी कम करती है। 
 
 
आयरन और मैगनीशियम से भरपूर
इसमें बहुत सारा मैगनीशियम और आयरन मौजूद होता है, जिसकी वजह से महिला के शरीर में खून की कमी नहीं होती है. इसमें मौजूद मैग्नीशियम से फैटी एसिड कामेटाबॉलिज्म बढता है। 
 
दिल की बीमारी से राहत
चॉकलेट में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट फ्लेवोनॉयड प्रेगनेंसी के समय  दिल मजबूत बनाता  है।  जिसकी वजह से व्यक्ति को दिल से जुड़ी बीमारी नहीं होती है।  डार्क चॉकलेट को दिल के लिए ज्यादा अच्छा माना जाता है। 
 
कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाता है 
डार्क चॉकलेट में चीनी और वसा की मात्रा बेहद कम होती है जिसकी वजह से  शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नियंत्रित रहती है। 
 
इम्यून सिस्टम को ठीक करता है
प्रेगनेंसी में चॉकलेट खाने से इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होता है जो मां और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए लाभदायक है।