कुछ घरेलू नुस्खे अपनाएं और पाएं हिचकी से राहत

संविदा मिश्रा

2nd November 2019

आपने घर के बड़ों को अक्सर कहते सुना होगा कि हिचकी आने का मतलब कोई याद कर रहा है लेकिन वास्तविकता कुछ और ही होती है। अचानक से मौसम बदलने, गर्म के बाद कुछ ठंडा खा लेने, खाते समय कुछ अटक जाने से, सिगरेट पीने से और यहां तक कि अधिक चिंता करने से हिचकी आने लगती है ।

कुछ घरेलू नुस्खे अपनाएं और पाएं हिचकी से राहत
जब लगातार हिचकी आती है तो वो परेशान  भी करती है। आमतौर पर माना जाता है कि हिचकी आए तो कुछ पल के लिए सांसें थाम लेनी चाहिए या फिर  पानी पीना चाहिए। आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसे उपाय जिनकी मदद से कुछ ही सेकेंड्स में हिचकी बंद की जा सकती है। 

 ठंडा पानी पिएं

हिचकी आने पर तुरंत ठंडा पानी पिया जाए तो यह रुक जाती है।  पानी पीते समय आपको अपनी नाक भी बंद करनी चाहिए।   

थोड़ी देर के लिए सांस रोक लें 

जब हिचकी आए कुछ देर के लिए सांस रोक लेनी चाहिए इससे हिचकी बंद हो जाती है। 

एक चम्मच शहद

 हिचकी आने पर एक चम्मच शहद खाना फायदेमंद रहता है। अचानक से शरीर को मिलने वाली शहद की मिठास नर्व्स को संतुलित करती है.

घुटनों को छाती तक लाएं

जैसे ही हिचकी आए आप तुरंत बैठ जाएं और अपने घुटनों को सीने तक ले आएं।  इससे फेफड़ों पर दबाव पड़ता है और मांशपेशियों की सिकुड़न भी दूर होती है। 

ध्यान भटका लेना 

 जब हिचकी आए और उसी समय कोई आपका ध्यान कहीं और भटका दे तो इससे भी हिचकी रोकने में मदद मिलती है।

 

नींबू चबाना

अगर एल्कोहल पीने की वजह से हिचकी आ रही है तो नींबू चबाकर भी हिचकी रोक सकते हैं. नींबू का एक चौथाई टुकड़ा काट कर मुंह में डालें।  फौरन हिचकी में आराम मिल जाएगा। 

ये भी पढ़ें

गुड़हल का फूल कई बीमारियों से दिलाए छुटकारा

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

तन-मन को रखन...

तन-मन को रखना है जवां तो अपनाएं ये टिप्स...

कोहनी और घुट...

कोहनी और घुटने के कालेपन से छुटकारा पाने...

फटी एड़ियों स...

फटी एड़ियों से निजात दिलाए कुछ घरेलू उपाय...

फटी एड़ियों स...

फटी एड़ियों से निजात पाने के घरेलू नुस्खे...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

जन-जन के प्र...

जन-जन के प्रिय तुलसीदास...

भगवान राम के नाम का ऐसा प्रताप है कि जिस व्यक्ति को...

भक्ति एवं शक...

भक्ति एवं शक्ति...

शास्त्रों में नागों के दो खास रूपों का उल्लेख मिलता...

संपादक की पसंद

अभूतपूर्व दा...

अभूतपूर्व दार्शनिक...

श्री अरविन्द एक महान दार्शनिक थे। उनका साहित्य, उनकी...

जब मॉनसून मे...

जब मॉनसून में सताए...

मॉनसून आते ही हमें डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, जैसी...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription