GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

बच्चों की इन गलत आदतों का कारण आप तो नहीं हैं ?

Samvida Mishra

6th November 2019

बच्चों के लिए एक कहावत है कि उन्हें जिस सांचे में ढाला जाएगा वो आसानी से ढल जाएंगे। इसीलिए माता-पिता अपने बच्चों में हर तरह से अच्छी आदतें डालने की कोशिश करते हैं और अच्छे संस्कार के सांचे में ढालने के लिए निरंतर प्रयासरत रहते हैं।

बच्चों की इन गलत आदतों का कारण आप तो नहीं हैं ?
बच्चे में बहुत सी आदतें ऐसी होती हैं जो वो घर से सीखता है और कुछ ऐसी आदतें भी होती हैं जो वो बाहर के वातावरण से सीखता है। बच्चे बहुत जल्दी उस आदत को अपना लेते हैं जो उन्हें देखने में अच्छी लगती है ऐसे में पैरेंट्स को चाहिए कि वो बच्चों के सामने कोई भी गलत उदाहरण न प्रस्तुत करें। आइए आपको बताते हैं ऐसी कौन सी गलत आदतें हैं जिनके लिए जिम्मेदार कई बार  उनके पैरेंट्स  ही होते हैं -

गैजेट्स की लत 

अक्सर देखा जाता है कि बच्चों को स्मार्टफोन की लत उनके पैरेंट्स ही डलवाते हैं। पैरेंट्स अपने काम में बिजी होने की वजह से बच्चों को स्मार्टफोन में गेम्स खेलने के लिए बोल देते हैं जो बाद में बच्चों की आदत बन जाता है। 

दूसरों की इज़्ज़त न करना 

पैरेंट्स अपने रिश्तेदारों की बुराई बच्चों के सामने करते हैं और कई बार गलत शब्दों का प्रयोग भी करते हैं। जिसकी वजह से बच्चे भी ऐसा ही करना सीखते हैं और वो भी अपने से बड़ों की इज़्ज़त नहीं करते हैं। 

नशे की लत 

बहुत बार पैरेंट्स बच्चों के सामने किसी पार्टी में या फिर अकेले में  बैठकर ही शराब या  सिगरेट का सेवन करते हैं। जिसको देखकर बच्चे को ऐसा लगता है कि जो उसके पैरेंट्स कर रहे हैं वो उनके लिए भी अच्छा है और भविष्य में बच्चे भी इस आदत को अपना लेते हैं। 

झूठ बोलने की आदत 

कई बार ऐसा होता है कि पैरेंट्स किसी बात पर बच्चों के सामने झूठ बोलते हैं जबकि सच्चाई बच्चे को भी पता होती है।  जैसे यदि वो किसी व्यक्ति विशेष से बात नहीं करना चाहते हैं तो वो किसी झूठे बहाने से मन कर देते हैं। ऐसा देखकर बच्चे भी झूठ बोलने की आदत अपना लेते हैं। 

लड़ाई की आदत 

पैरेंट्स बच्चों के सामने ही आपस में लड़ाई करते हैं और किसी भी छोटी सी बात को बड़े झगडे का रूप दे देते हैं जिसकी वजह से बच्चों के मन में भी हिंसा और लड़ाई की भावना उत्पन्न होने लगती है और इस आदत को वो बाहर भी दूसरे लोगों पर अप्लाई करते हैं। 

बुजुर्गों के साथ खराब व्यवहार  

कई बार देखा गया है कि पैरेंट्स अपने माता-पिता के साथ गलत व्यवहार करते हैं जैसे गलत तरीके से बात करना , उनकी इज़्ज़त न करना उनका ख्याल न रखना आदि। ये सब देखकर बच्चे भी यही सीखते हैं और आगे चलकर वो भी अपने माता-पिता के साथ ऐसा ही रवैया अपनाते हैं। 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

बच्चे के विकास के लिए अपनाएं स्पिरिचुअल पैरेंटिंग...

default

बच्चों की 10 ऐसी आदतें जिन्हें छुड़ाना है...

default

कौन से संस्कार हैं जो बच्चों में ज़रूर होने...

default

क्या आपका बच्चा जानता है फर्स्ट एड के बारे...