GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

जानिए बचत और निवेश में क्या अंतर है

गृह लक्ष्मी

6th December 2019

जानिए बचत और निवेश में क्या अंतर है
इसमें कोई संदेह नहीं कि चत और निवेश एक ही समय पर होते हैं, पर असल में पैसे को बचाने के लिए बचत खाता एक जगह है और इस दौरान आप इस पर छोटी दर का ब्याज भी हासिल करते हो। हालांकि, यह ब्याज कोई ठोस रकम नहीं दिलाता। हां, बैंक खाता अपना पैसा जमा करने के लिए सुरक्षित जगह है, लेकिन याद रखें जो बात हम प्रत्येक दिन महसूस करते हैं, वह महंगाई है। अच्छी बचत की आदत के साथ भी जो ब्याज आप हासिल करते हैं, वह उस समय के दौरान महंगाई की कीमत की क्षतिपूर्ति करने के लिए कापफी नहीं हो सकता। 
तब आप आश्चर्य प्रकट कर सकते हैं कि सीधे निवेश करने के बजाय बचत करने के पूरे अनुभाग को लेकर क्यों परेशान हुआ जाए? आप सहज रहिए। अपने पैसे में इजापफा करने के लिए जो सबसे बड़ी गलती हम करते हैं, वह गाड़ी को घोड़े से आगे रखने का जोखिम है। किसी भी शख्स के लिए पहले बिना कुछ पैसे बचाए निवेश करना व्यावहारिक रूप से असंभव है। उदाहरण के तौर पर निवेश के एक जरिए बॉन्ड्स को ही ले लें। 
बॉन्ड्स को ज्यादातर लोग अपने पैसे को संरक्षित करने के लिए खरीदते हैं और फिर इसे बढ़ाते हैं। अगर आपके पास बचत नहीं है, तो आपके पास निवेश के लिए पूंजी नहीं होगी।
ऐसे में अब वास्तव में बचत के लिए आपके पास कुछ पैसा होता है, तो सवाल यह है कि पैसे की कीमत बढ़ाने के लिए मैं क्या निवेश करूं? आपका वित्तीय सलाहकार वित्तीय लेखपत्रों या प्रपत्रों जैसे पिफक्सड इनकम प्रपत्रा ;उदाहरण के तौर पर बाॅन्ड्सद्ध और शेयर ;कंपनी शेयरद्ध में निवेश के लिए आपसे बात कर सकते हैं। आपके मित्रा इस बात से सहमत हो सकते हैं कि समकालीन कला की कोई वस्तु खरीदना एक अच्छा निवेश हो सकता है। वजह यह है कि आपके पिता आपसे कह सकते हैं कि रियल स्टेट में निवेश से अलग आप किसी चीज के बारे में न सोचें।
अनिवार्य रूप से ये सभी अलग तरह की संपत्तियां-शेयर, बाॅन्ड्स, कला, संपत्ति-आदि हैं, जिनमें आप निवेश कर सकते हैं। क्या आप वह करते हैं, जिसे समझदारी भरा पफैसला कहा जा सकता है ;लेकिन आप इस बारे में कैसे तय करते हैं?सबसे ज्यादा मजेदार क्या है, किस विकल्प में आपको ज्यादा रिटर्न देने की गारंटी निहित है?
आने वाले अध्यायों में हम विभिन्न तरह के निवेश विकल्पों के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे जिन्हें कि आप चुन सकते हो और जो आपके सर्वश्रेष्ठ अनुकूल हों। 
किस वित्तीय संपत्ति में आपको निवेश करना चाहिए?
हालांकि, यहां अलग-अलग तरह के वित्तीय प्रपत्रा उपलब्ध हैं, जिनमें आप निवेश कर सकते हैं। हम व्यापक तौर पर प्रतिभूतियों, या उन संपत्तियों पर चर्चा करने या उनकी ओर देखने जा रहे हैं, जिनका व्यापार ;जैसे शेयर और बाॅन्ड्सद्ध किया जा सकता है। और उनका भी जिनका नहीं किया जा सकता ;जैसे रियल स्टेटद्ध। सामान्य तौर पर कहें, तो पारंपरिक रूप से यहां संपत्ति की चार श्रेणियां हैं, जिनमें निवेश किया जा सकता है। 
ट्टण प्रतिभूतियां
ट्टण प्रतिभूति निवेश का एक ऐसा जरिया है, जो आपको अपने पैसे को कपंनी, या सरकार को एक तय अवधि के लिए देने का मौका उपलब्ध कराता है। रिटर्न में कंपनी या सरकार आपको ब्याज देती है। 
इसीलिए इसे पिफक्सड इनकम एसेट के रूप में भी जाना जाता है। और अब क्योंकि कपंनी आपके कर्ज में है, तो इसे ‘डेब्ट सिक्योरिटी' ;ट्टण प्रतिभूतिद्ध के नाम से भी जाना जाता है। आखिर में कंपनी या सरकार आपको वो पैसा वापस लौटाएंगे, जो आपने उन्हें दिया था। 
ऋण प्रतिभूति में बैंक नोट, सरकारी और कंपनी बाॅन्डस और कंपनी डिबेंचर शामिल होते हैं।
पूंजी बाजार के जरिए सामान्य तौर पर सरकारी बाॅन्डस को हासिल किया जा सकता है।
शेयर प्रतिभूतियां, या स्टाॅक अनिवार्य तौर पर आपको एक खास कंपनी के शेयर खरीदने का मौका प्रदान करता है। यह आपको उस कंपनी के शेयरधारकों की मीटिंग में वोट डालने का अधिकार देता है। साथ ही, यह आपको उस लाभ में भी हिस्सेदार बनाता है, जिसे कंपनी अपने शेयरधारकों में बांटने का पफैसला लेती है। इस तरह के लाभ को डिविडेंड्स के नाम से जाना जाता है।
जब हम शेयरों के बारे में बात करते हैं, तो हम सार्वजनिक सूचीब( कंपनियों के शेयरों के बारे में बात करते हैं। कोई भी निवेशक पूंजी बाजार के जरिए इन शेयरों को खरीदने के लिए स्वतंत्रा है। 
म्युचुअल फंड

म्युचुअल फंड अनिवार्य तौर पर एक शेयर और बॉन्ड्स का संग्रह होता है। जब आप म्युचुअल पफंड खरीदते हो, तो आप अन्य निवेशकों के समूह में शामिल हो जाते हो। ये सभी निवेशक पेशेवर पफंड मैनेजर को भुगतानकरने के लिए अपने पैसे को इकट्ठा करते हैं।इस मैनेजर का काम इन तमाम निवेशकों के बदले ट्टण और शेयर प्रतिभूतियों की खास श्रेणी को चुनना और इसका प्रबंध करना होता हैये प्रबंधक एक खास निवेशक रणनीति पर इकट्ठा किए गए पफंड को निवेश करते हैं।ये बड़े और छोटे शेयर,सरकारी,या कंपनी बाॅन्ड्स चुन सकते हैंसाथ ही,ये मैनेजर पश्चिम एशिया के उभरते हुए बाजार,किसी खास उद्योग आदि में पैसा लगा सकते हैं। 

म्यूचुअल पफंड के बारे में अच्छी बात यह है कि यह आपको शेयर और बाॅन्ड्स दोनों में निवेश करने का विकल्प प्रदान करता है वहीं,आपको किसी एक शेयर या बाॅन्ड में निवेश करने के लिए समय भी नहीं खपाना पड़ता ही ज्यादा प्रयास करने पड़ते और  ही इसमें ज्यादा कागजी कार्यवाही की भी जरूरत पड़ती है। शोध करने और निवेश के प्रबंधन के लिए किसी पेशेवर को भुगतान करना आपको लंबे समय के लिहाज से बेहतर रिटर्न दिला सकता है।

हालांकि,आपको निवेश के लिए इनका चयन करने से पहले आपको इनके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानना चाहिएआप अपना स्वतंत्रा शोध करने में कोई हिचकिचाहट  दिखाएं और इस बारे में कोई भी पफैसला लेने से पहले उपलब्ध विकल्पों के बारे में अपने सलाहकार के साथ विचार-विमर्श करें। 

ये भी पढ़े-

महिलाएं कैसे करें सही बैंक का चयन

मेंटल हेल्थ की दिशा में डॉ. प्रकृति पोद्दार फैला रही हैं जागरुकता

स्वाति भार्गव ने अंकों से डरकर नहीं, खेलकर पाई सफलता

 

 

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

निवेश करने से पहले ध्यान रखें ये 9 जरूरी...

default

कैसे करें अपने पैसे का प्रबंधन

default

महिलाएं कैसे करें सही बैंक का चयन

default

निवेश के सुरक्षित विकल्प

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

पूजा में बां...

पूजा में बांधा जाने...

किसी भी पूजा की शुरुआत या समाप्ति के बाद या फिर किसी...

इन हाथों में...

इन हाथों में लिख...

हर दुल्हन अपने होने वाले पति का नाम लिखवाना पसंद करती...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription