GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सर्दियों के लिए रामबाण है आंवला, जानिए इसके चमत्कारी लाभ

गृहलक्ष्मी टीम

13th January 2020

सर्दियों के मौसम में जुकाम, खांसी, जोड़ों में दर्द जैसी कई समस्याओं से जूझना पड़ता है। शरीर कमजोर होने लगता है। ऐसे में अगर आप आंवले का सेवन करते हैं तो आपके शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है और आप इन छोटी-मोटी बीमारियों से आसानी से पार पा सकते हैं। जानें इस लेख से।

सर्दियों के लिए रामबाण है आंवला, जानिए इसके चमत्कारी लाभ
यह नेचुरल एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण रक्त शोधन का कार्य करता है और विषाक्त पदार्थों, लवण व यूरिक एसिड को बाहर निकालने में मदद करता है। साथ ही आयरन से समृद्ध होने के कारण रक्त में हिमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है।कैल्सियम का अच्छा स्रोत होने के कारण यह वात-रोधक गुणों से परिपूर्ण है। इससे हड्डियां मजबूत होती हैं और जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। इसमें प्रचुर मात्रा में पोटैशियम होता है जिससे यह तंत्रिका तंत्र को मजबूत करता है। इसके नियमित सेवन से पैरालिसिस से भी मुक्ति पायी जा सकती है। यह स्वाभाविक रूप से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है।
  • विटामिन सी से भरपूर आंवला दांतों और मसूड़ों के विभिन्न विकारों जैसे पायरिया, खून आना आदि में भी लाभदायक है।
  • विटामिन ए की प्रचुरता के कारण यह आंखों के लिए लाभकारी है। 
  • फाइबर और एंटी-इम्फ्लेमेंटरी गुणों के कारण यह पाचन तंत्र मजबूत करता है और कब्ज को दूर करता है। साथ ही यह प्रदाह व बवासीर में भी लाभदायक है। 
  • यह घातक लवण रस छोड़कर बाकी पाचों रस (कटु, कषाय, खट्टा, मीठा और खारा) से समृद्घ है।इसे नियमित सेवन से रक्त चाप नियंत्रित रहता है और दिल की बीमारी नहीं होती। 
  • यह खराब कोलेस्ट्राल को कम कर अच्छा कोलेस्ट्रॉल बनाता है व धमनियो का अवरोध कम करता है।
  • यह पुरानी खांसी, दमा, टीबी, अस्थमा, थायरॉइड, पीलिया, हेपेटाईटिस, बवासीर, गुर्दे की बीमारी, अल्सर व 
  • कैंसर जैसी बीमारियों से भी मुक्ति दिलाता है।
  • आंवले के सेवन के बाद पानी न पिएं और अत्यधिक मात्रा में न खाएं। जूस बनाकर, चूर्ण बनाकर, मुरब्बा बनाकर या आंवले को सुखाकर भी आप आंवले का सेवन कर सकते हैं।
(बिना औषधि स्वस्थ व निरोग जीवन जीने की कला पुस्तक से साभार)

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

सुपर फूड्स से थामें बढ़ती उम्र

default

जनें कैसे करें इम्युनिटी पावर मज़बूत...

default

अपनी डायट में शामिल करिए ये 5 सुपर सीड्स...

default

एंटी-एजिंग विटामिन्स से थामें उम्र

पोल

अगर पेपर लीक हो जाए तो क्या फिर से एग्ज़ाम होना चाहिए?

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

पूजा में बां...

पूजा में बांधा जाने...

किसी भी पूजा की शुरुआत या समाप्ति के बाद या फिर किसी...

इन हाथों में...

इन हाथों में लिख...

हर दुल्हन अपने होने वाले पति का नाम लिखवाना पसंद करती...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription