जानिए मेष राशि के लिए कैसा रहेगा साल 2020

गृहलक्ष्मी टीम

16th January 2020

नववर्ष सभी के जीवन में एक रंग, तरंग एवं उमंग लेकर आता है और सभी चाहते हैं कि हमारा नववर्ष हमारे लिए अच्छा रहे, इसी आशा में सभी लोग अपना आने वाला समय कैसा होगा यह जानने की इच्छा करते हैं और अपने ग्रह-नक्षत्रों को अपने पक्ष में करने की बात सोचते हैं। पं. रमेश द्विवेदी बता रहे हैं कि कैसा रहेगा नववर्ष में आपका भाग्य।

जानिए मेष राशि के लिए कैसा रहेगा साल 2020
मेष राशि वाले जातकों के लिए यह शानदार वर्ष रहेगा। वर्षारंभ में शनि नवम स्थान में गतिशील रहेंगे। 24 जनवरी से शनि दशम स्थान में प्रवेश कर जाएंगे। स्वास्थ्य में सुधार होगा, पिछले काफी समय से जो रोग व अस्वस्थता की स्थिति चली आ रही थी, वह समाप्त हो जाएगी। वर्षारंभ में नवम स्थान में पांच ग्रहों की युति है। भाग्योन्नति होगी। उन्नति से संबंधित शुभ समाचारों की स्थिति रहेगी। धर्म-कर्म, आध्यात्म आदि में रुचि रहेगी। किसी विशेष महापुरुष या विचारक का सान्निध्य प्राप्त होगा। इस साल आपको खर्चों पर भी नियंत्रण रखने की आवश्यकता है, अन्यथा ऋण लेने की नौबत आ सकती है। काम-काज में गंभीरता से ठोस निर्णय अमल में लाएंगे। मंगल वर्षारंभ में आठवें स्थान में है, अत: वाहन सावधानी पूर्वक चलाएं, मशीन द्वारा कोई क्षति या हानि हो सकती है। विद्यार्थी अपने लक्ष्यों पर ध्यान केन्द्रित करेंगे।इस वर्ष 30 मार्च से 30 जून तक देवगुरु बृहस्पति दशम स्थान में चलायमान रहेंगे। इस दरम्यान आजीविका व काम-काज में अवरोध पैदा हो सकते हैं। कार्यों में रुकावटें आएंगी। आप इस दौरान कर्मच्युत हो सकते हैं। अपने काम को गंभीरता से अंजाम दें। व्यस्तताओं के बावजूद घर-परिवार आपकी प्राथमिकता पर होंगे। 24 जनवरी के बाद घर के किसी वरिष्ठ सदस्य का स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। 

स्वास्थ्य:-

राशि स्वामी मंगल वर्षारंभ में आठवें हैं, अत: स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से यह वर्ष मिश्रित फलप्रद है। इस साल आपको मौसमी बीमारियों से सतर्क रहना है। किसी गंभीर व घातक रोग की स्थिति नहीं बन पाएगी। मेष राशि के जातक प्राय: साहसी व स्वास्थ्य के मामले में लापरवाह होते हैं। लापरवाही आपके लिए घातक हो सकती है। समय-समय पर स्वास्थ्य की नियमित जांच करवाते रहें। 11 मई से 29 सितंबर के मध्य शनि वक्र स्थिति में चलायमान रहेंगे, इस दौरान डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, थायराईड व हड्डियों के रोगों से परेशानी हो सकती है। मेष राशि के जातकों की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होती है और वही चीज इस साल आपका सबसे बड़ा हथियार होगी।

व्यापार एवं धन:-

आर्थिक मामलों के लिए 2020 लाभ का साल है। व्यापार में उचित निर्णयों के माध्यम से आप धनार्जन करेंगे। व्यापार विस्तार की नई-नई संभावनाओं पर आप विचार करेंगे। नए करार व अनुबंधन होंगे। इस वर्ष दशम भाव में शनि का परिक्रमण आपके उत्साह, जोश में कहीं कोई कमी नहीं आने देगा। हालांकि 11 मई से 29 सितंबर के मध्य शनि के वक्रत्व काल में व्यावसायिक प्रतिद्वन्दी व प्रतिस्पर्धी आपके सामने कड़ी चुनौती प्रस्तुत कर सकते हैं। इसी दरम्यान कोई व्यावसायिक षड्यंत्र का भी योग बन रहा है। आपके प्रोडक्ट की गुणवत्ता में कोई कमी आपकी परेशानी के मूल में रह सकती है। धन के निवेश को लेकर थोड़ा-सा सचेत रहें। नौकरी में बॉस व अधिकारी आपके काम से संतुष्ट रहेंगे। सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। इस साल आपकी पदोन्नति का रास्ता आसान होगा। 22 मार्च से 4 मई के मध्य आपके राशिपति मंगल अपनी उच्च राशि में गतिशील रहेंगे, आप भी इस दौरान सफलता के ऊंचे पायदानों को स्पर्श करेंगे। व्यापार टैक्स, जी-एस-टी- कस्टम, आयकर आदि से संबंधित कोई समस्या खड़ी हो सकती है। अत: इनसे जुड़े कागजात भी तैयार रखें।

घर-परिवार एवं रिश्तेदार:-

इस साल पारिवारिक सुख-शांति में बढ़ोतरी होगी। आप बुद्घिमान हैं, धर्मशील हैं तथा विपरीत से विपरीत परिस्थिति का आप डटकर मुकाबला करते हैं। आप इस साल परिस्थिति व समय के साथ तालमेल बिठाकर कार्य करेंगे। दाम्पत्य जीवन में सामंजस्य रहेगा। घर के वरिष्ठ सदस्य माता-पिता व बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा का भाव रहेगा, परंतु उनका गिरता हुआ स्वास्थ्य भी आपकी चिंता के केन्द्र में रहेगा। संतान के अध्ययन, करियर को लेकर कुछ चिंताएं व असमंजस इस साल आपको रहेंगे। जहां तक रिश्तेदारों व सगे संबंधियों का प्रश्न है, उनसे किसी भी प्रकार की उम्मीद करना बेमानी ही कहा जाएगा। प्रेम-प्रसंगो से दूरी बनाकर रखें, अन्यथा प्रेम प्रसंग पारिवारिक जीवन में जहर घोल सकते हैं।

नौकरी व कार्यक्षेत्र में 

निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए आप पूरी शिद्दत व गंभीरता से प्रयास करेंगे। फलत: आपको तयशुदा लक्ष्य भी प्राप्त हो जाएंगे। 14 मई से 13 सितंबर के मध्य गुरु के वक्रत्व काल में विद्यार्थियों का ध्यान अपने लक्ष्य से भटक सकता है। लक्ष्य को आंखों से ओझल नहीं होने दें। यदा-कदा एकाग्रचित्तता का अभाव रहेगा। इस समय गायत्री मंत्र का जाप करें, मेडीटेशन (ध्यान) करें।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

जानिए इस साल...

जानिए इस साल शनि किस पर बरसाएंगे कृपा और...

राशिनुसार जा...

राशिनुसार जाने फरवरी का भविष्यफल

जानिए कैसा र...

जानिए कैसा रहेगा धनु राशि के लिए साल 2018...

जानिए कैसा र...

जानिए कैसा रहेगा वृषभ राशि के लिए साल 2018...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

क्या आप भी स...

क्या आप भी स्किन...

स्किन केयर डिक्शनरी

सुपर फूड्स फ...

सुपर फूड्स फाॅर...

माइग्रेन का सिरदर्द अक्सर सुस्त दर्द के रूप में शुरू...

संपादक की पसंद

क्या आज जानत...

क्या आज जानते हैं,...

आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक नायाब घड़ी के बारे में।...

महिलाएं पीरि...

महिलाएं पीरियड्स...

मासिक धर्म की समस्या

सदस्यता लें

Magazine-Subscription