GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

आफ्टर सेक्स ध्यान रखें ये 7 बातें

संविदा मिश्रा

29th January 2020

जब बात आती है सेक्स की तो सबसे पहले ख्याल आता है सेक्स ड्राइव को शुरू कैसे किया जाए। इसके लिए अपने साथी के साथ रूमानी पलों में खो जाने के लिए इंटरकोर्स से पहले फोरप्ले बहुत ज़रूरी होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं दो दिलों के बीच प्यार के बंधन को और ज्यादा मजबूत बनाने के लिए फोरप्ले के साथ ये बात भी मायने रखती है कि सेक्स के बाद क्या किया जाए। आप सेक्स के बाद क्या करते हैं इस बात की भी आपके और पार्टनर के बीच के रिश्ते को मजबूत बनाने में अहम् भूमिका है। साथ ही सेक्स के बाद हाईजीन मेन्टेन करना भी जरूरी है।

आफ्टर सेक्स ध्यान रखें ये 7 बातें
ज़िंदगी में सेक्स का अपना एक अलग महत्त्व है । ऐसा माना जाता है कि सेक्स दो दिलों को और करीब लाने का एक बेहद खूबसूरत जरिया है । एक ऐसा एहसास जिसकी अनुभूति से ही शादीशुदा जोड़े का रोम-रोम ख़ुशी से खिल उठता है और मन हर पल अपने पार्टनर को अपनी बाहों में समा लेना चाहता है । सेक्स दो जिस्मों के बीच का एक ऐसा  रूमानी एहसास है जो दो दिलों को और करीब लाता है।  दो प्यार करने वाले जब एक दूसरे  के आगोश में आते हैं तो वो दो जिस्म एक जान होते हैं।  ये वो खुशनुमा एहसास होता है जो दो लोगों के बीच की दूरियों को मिटा देता है और दोनों इस पल के आगोश में सराबोर हो जाते हैं। जितना महत्त्वपूर्ण सेक्स के पलों का एहसास है उससे कहीं ज्यादा मायने रखता है सेक्स के बाद क्या करना है। यह एक अहम् प्रश्न है कि सेक्स के तुरंत बाद क्या करें क्योंकि ज्यादातर कपल सेक्स का मजा उठाने के बाद और  इंटरकोर्स के बाद अपनी दुनिया में खो जाते हैं। एक बेड के इस कोने में सो जाता है तो दूसरा बेड के दूसरे कोने में चला जाता है जबकि ऐसा करना गलत है।  हम आपको बता रहे हैं उन बेहद जरूरी चीजों के बारे में जिन्हें आपको आफ्टर सेक्स  यानि कि  सेक्स के तुरंत बाद जरूर करना चाहिए...

यूरिन पास करें 

सेक्स के बाद यूरिन पास करना बहुत जरूरी है। महिलाओं को ऐसा जरूर करना चाहिए क्योंकि ऐसा न करने से यूटीआई का खतरा बढ़ जाता है। महिलाओं के  वेजाइना में बहुत से बैक्टीरिया पाए जाते हैं। सेक्स के दौरान ये बैक्टीरिया अंदर चले जाते हैं जिससे इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए सेक्स के तुरंत  बाद यूरिन पास जरूर कर लें जिससे ब्लैडर प्राकृतिक रुप से साफ हो जाए। 

सफाई करें 

हालांकि सेक्स के बाद आप एक दूसरे में इतना खोए रहते हैं कि उठकर वाशरूम भी नहीं जाना चाहते। लेकिन हाईजीन मेन्टेन करना भी जरूरी है। इसलिए इंटरकोर्स के तुरंत बाद वाशरूम जरूर जाएं। सेक्स के दौरान आने वाले पसीने से कई तरह की त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं इसलिए अच्छी तरह से चेहरा और हाथ पैर साफ़ कर लें।  खासतौर पर महिलाओं में इन्फेक्शन के खतरे को रोकने के लिए बहुत जरूरी है कि वो सेक्स के बाद अपने प्राइवेट पार्ट्स की अच्छी तरह से सफाई कर लें इसके अलावा पुरुषों को भी प्राइवेट पार्ट को क्लीन कर लेना चाहिए। 

साथ में शावर लें 

सेक्स के बाद रिलैक्स्ड फील करने के लिए एक साथ शावर लेने का मजा उठाएं। हल्का गर्म पानी और बाथरूम में एक दूसरे  के शरीर का आलिंगन  सेक्स के रंग को और ज्यादा बेहतरीन बना देता है। आप बाथ टब  में भी एक साथ  स्नान का मज़ा उठा सकते हैं। 

एक दूसरे से बातें करें 

जैसे अधिकांश चीजों के लिए फीडबैक जरूरी है उसी तरह सेक्स के बाद भी पार्टनर से ये पूछना मायने रखता है कि उनके लिए सेक्स ड्राइव का एहसास कैसा था ? अपने पार्टनर से दूर होकर सोने की बजाय उसको बाहों में भरकर एक दूसरे से बातें करें और अपने अनुभव को शेयर करें। ऐसा करने से सेक्स का मज़ा दोगुना हो जाता है और दोनों के बीच का प्यार और गहरा होता चला जाता है। सेक्स ड्राइव  खत्म होते ही अंतरंगता बनाने का एक अच्छा तरीका है। 

कडलिंग करें 

आप जब अपने पार्टनर के साथ सेक्स करते हैं तब वो आपसे यही उम्मीद करता है कि कुछ पल ऐसे हों जिनमें आप दोनों के अलावा कोई और न हो। इसलिए सेक्स के बाद एक दूसरे को आलिंगन में लेने से सेक्स का एहसास और ज्यादा खूबसूरत हो जाता है। सेक्स ड्राइव का मज़ा लेने के लिए अपने पार्टनर को सेक्स  के बाद अपनी ओर खींचें और कडलिंग करें। यकीन मानिए जब आप एक दूसरे की धड़कनों को अपने कानों में सुनेंगे तो एक दूसरे के आगोश में खो जाएंगे।  

मसाज करें 

सेक्स एक ऐसा जरिया माना जाता है जो स्ट्रेस लेवल को कम कर देता है। अगर ऐक्ट के बाद आपको अपने पार्टनर से एक रिलैक्सिंग मसाज मिल जाए तो इससे अच्छा भला क्या हो सकता है । पार्टनर को एक रिलैक्सिंग मसाज दें या उनसे कहें कि वह भी ऐसा ही करे । खासतौर पर  फुट मसाज और बैक मसाज, पूरे माहौल को और ज्यादा हसीन बना देता है। 

आफ्टरप्ले पर ध्यान दें 

जिस तरह सेक्स ड्राइव में फोरप्ले बहुत जरूरी है उसी तरह आफ्टरप्ले का अलग  ही मज़ा है। आफ्टरप्ले में भी दोनों पार्टनर फिजिकली और मेंटली- दोनों ही तरीके से  स्टिम्यूलेट हो जाते हैं जिससे दोनों को सुखद अनुभूति होती है । एक  बेहतरीन फोरप्ले और इंटरकोर्स  के बाद भी पूरा  सेक्स सेशन का मज़ा किरकिरा हो सकता है अगर सेक्स के बाद दोनों पार्टनर के बीच सामंजस्य न हो। आफ्टरप्ले में कडलिंग, किसिंग ,टॉकिंग इत्यादि शामिल हैं। आफ्टर प्ले  पार्टनर्स के बीच इमोशनल बॉडिंग को और ज्यादा मजबूत करता है। 
 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

सेक्स में फो...

सेक्स में फोरप्ले की तरह आफ्टरप्ले भी है...

7 टिप्स, जो ...

7 टिप्स, जो जरिए बोरिंग सेक्स लाइफ में भर...

महिलाओं की स...

महिलाओं की सेक्स में कम होती रुचि

इस साल अपने ...

इस साल अपने रिश्ते को दें एक नया आयाम

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription