GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

गाजर खाएं रोग भगाएं

डॉ. सुनील कुमार प्रियबच्चन

13th February 2020

सलाद, सब्जी या जूस किसी भी रूप में गाजर का नियमित इस्तेमाल करने से बहुत सी बीमारियों से निजात पाया जा सकता है। विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर होने की वजह से गाजर शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अत्यंत लाभकारी है।

गाजर खाएं रोग भगाएं
गाजर एक फल ही नहीं अपितु सब्जी व औषधियुक्त प्राकृतिक उपहार भी है। इसे कई घरों में अन्य सब्जियों के साथ प्रयुक्त किया जाता है तो कई लोग इसका सलाद एवं सूप लेना पसंद करते हैं। ऐसे इसका हलवा लाजवाब होता है। कई विशेष गुणों की खान होने के कारण इसे व्यापक स्तर पर मान्यता प्राप्त है। गंजन हो या सेठी, मोल या सन्नी गाजर के ही रूप हैं। आज विलायती नारंगी से लेकर देश बैगनी व लाल गाजर की मांग इसकी विशेषताओं के कारण बढ़ती जा रही है। आइए जानें इसके गुणों के बारे में-

कई रोगों में लाभदायक

नियमित रूप से कच्चे व पके गाजर के सेवन से व्यक्ति निरोगी रहता है, जिसके कारण कुछ लोग इसे टॉनिक ही नहीं अपितु कई बीमारियों के लिए रामबाण भी समझते हैं। गाजर वस्तुत: मधुर, तीक्ष्ण, स्वादिष्ट, उष्ण एवं सुपाच्य है, जिसमें कई प्रकार के आवश्यक विटमिन खनिज एवं अन्य कई रोग नाशक तत्व पाए जाते हैं। आयुर्वेद के अंतर्गत इसे अर्श, रतौंधी, रक्तपित्त, ग्रहणी, कफ, स्नायु रोग, वात रोग, मानसिक थकान, ब्लड प्रेशर, प्रमेह एवं नपुंसकता आदि रोगों के लिए एक जमाने से प्रयोग में लाया जा रहा है।

रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

गाजर में हमारे शरीर के कोषों एवं धमनियों को संजीवन प्रदान करने की क्षमता होती है। नियमित रूप से गाजर का शरबत पीने से आंखों की रोशनी बढऩे के साथ-साथ हमारा पाचन तंत्र भी मजबूत होता है। वैज्ञानिकों ने साबित कर दिया है कि गाजर मंबिजा-केरोटिन नामक औषधीय तत्व है, जो हमारे रोग-प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है तथा यह कैंसर पर नियंत्रण करने में भी सक्षम है।

रक्तचाप नियंत्रित करे

सुबह-शाम गाजर एवं मौसम्मी का रस यदा-कदा ग्रहण करते रहने से निम्न रक्त चाप को नियंत्रित किया जा सकता है। आज ब्लड प्रेशर के लिए कई प्रकार के हेल्थ प्लस एवं हेल्थ एड टेबलेट एवं कैपसूल बाजार में आ गए हैं, जिनमें अन्य तत्वों के अलावा गाजर के भी अंश होते हैं।

विटामिन्स से भरपूर

गाजर के रस में अन्य विटामिनों के अलावा विटामिन-ए सर्वाधिक मात्रा में पाया जाता है। साथ ही इसमें कैरोटीन काफी अंश में पाया जाता है। गाजर में पाया जाने वाला कैरोटीन का कुछ अंश हमारे शरीर में पहुंच कर विटामिन-ए में बदल जाता है। हमारे शरीर को विटामिन-ए से भरा-पूरा रखने में गाजर का कैरोटीन काफी मददगार है।

बढ़ते बच्चों के लिए गुणकारी

यह बढ़ते बच्चों के लिए भी काफी असरकारक है, क्योकि इसमें पर्याप्त मात्रा में कार्बोहाइड्रेट एवं प्रोटीन भी पाए जाते हैं। यह हमारे शरीर में रक्त की कमी को दूर करता है एवं एनीमिया जैसे रोग पास में नहीं आने देता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद

गाजर के नियमित प्रयोग से चर्म रोग पर भी काबू पाया जा सकता है। साथ ही, सूखी खुश्क एवं खुरदरी त्वचा को इसके सेवन से ठीक किया जा सकता है। यदि दवाई के रूप में रोजाना गाजर का रस लिया जाए तो हमारी त्वचा की स्निग्धता एवं नमी बनी रहती है, साथ ही खुजली, फोड़े-फुंसी व दाद आदि रोग भी भाग जाते हैं।

डायबिटीज नियंत्रित करे

यह बहुत ही कम लोगों को मालूम होगा कि गाजर में एक महत्वपूर्ण तत्व टोकोकिनिन पाया जाता है, जिसे हमारे वैज्ञानिक इंसुलिन से काफी मिलते-जुलते पाए हैं। अत: मधुमेह के रोगियों के लिए गाजर रामबाण है। ऐसे व्यक्तियों को कच्चा-पका गाजर का नियमित सेवन करने के साथ-साथ प्रात: खाली पेट एक कप गाजर का रस लेना उचित होता है।

अन्य लाभ

गाजर यकृत एवं पाचन संस्थान की बीमारियों में भी फायदेमंद है। गाजर कृमिनाशक एवं कब्जनाशक भी है। यह तपेदिक, नकसीर, दमा, छाले, सूखा, मूत्र रोग एवं गठिया आदि रोगों में भी लाभप्रद है। इसलिए कहा जाता है 'निरोग बनाए गाजर।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

टीनएजर्स की 10 प्रॉब्लम्स

default

हैल्थ को लेकर न दोहराएं 8 गलतियां

default

पौष्टिकता, स्वाद और गुणों से भरपूर वॉलनट...

default

महिलाओं की सेक्स में कम होती रुचि

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

कम हो गया है...

कम हो गया है अब...

‘‘मैंने सुना है कि आजकल एपिसिओटॉमी का चलन नहीं रहा...

सेक्स ना करन...

सेक्स ना करने के...

यूं तो हर इंसान अपने जीवन में सेक्स ज़रूर करता है,...

संपादक की पसंद

केविनकेयर के...

केविनकेयर के "इनोवेटिव...

भारतीय एफएफसीजी ग्रुप केविनकेयर ने अभिनेता अक्षय कुमार...

इन व्यंजनों ...

इन व्यंजनों को बनाकर,...

सभी भारतीय त्यौहारों के उपवास और अनुष्ठानों के बाद...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription