GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

कोरोना की दहशत से न लें तनाव ,ये टिप्स अपनाएं

संविदा मिश्रा

19th March 2020

आजकल टीवी में, न्यूज़ पेपर में यहां तक कि सोशल नेटवर्किंग साइट्स में भी एक ही विषय चर्चा में है " कोरोना वायरस "। कोरोना ने चारों तरफ लोगों को अपने प्रकोप में जकड़ लिया है।

कोरोना की दहशत से न लें तनाव ,ये टिप्स अपनाएं
आज जब हम डिजिटल एरा में रह रहे हैं तब कोई भी खबर बहुत जल्दी ही लोगों तक पहुंच जाती है।  ऐसे में किसी अच्छी खबर से जहां एक ओर लोगों के बीच ख़ुशी का माहौल बन जाता है वहीं कोई बुरी खबर लोगों के मन में डर और दहशत भी पैदा कर सकती है। कुछ ऐसी ही खबर है कोरोना वायरस की।  जिससे लोग बहुत ज्यादा डरे हुए तो हैं ही और ये दिन प्रतिदिन चिंता का विषय बनता जा रहा है। इस खबर की वजह से लोगों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। आइए आपको बताते हैं इस तनाव भरे माहौल से कैसे बचा जाए और इस महामारी का कैसे डट कर सामना किया जाए। 

कुछ ख़बरों को अनदेखा करें 

आए दिन देश विदेश से कोरोना से जुडी ख़बरें आती हैं और अपने और अपने परिवार की चिंता में हम  सभी को ऐसी खबरें विचलित भी करती हैं। कई बार कुछ लोग कई तरह की अफवाहें भी फैला देते हैं जिससे आम जनता के बीच डर  का माहौल पैदा हो जाता है। इसलिए अपने बचाव के बारे में जरूर सोचें लेकिन कुछ खबरों को अनदेखा करें जिससे तनाव की स्थिति न बन सके।  

सोशल मीडिया भी बन सकता है तनाव का कारण 

जैसे ही कोई नई  खबर आती है सोशल मीडिया सबसे ज्यादा एक्टिव नज़र आने लगता है। जहां दिनभर में हमें 100 मैसेजेस आते थे वहीं कोरोना की वजह से  अब इनकी संख्या 1000 हो गई  है।  सोशल मीडिया में सभी अपने बचाव के तरीके बताते हैं और साथ ही इस वायरस का खौफ भी इतना ज्यादा कायम कर देते हैं की टेंशन होना लाज़मी है। ऐसे में जहां तक संभव हो सोशल मीडिया से दूरी बना लें और बेकार के संदेशों को नज़रअंदाज़ करें।  जब देश में कोई बड़ी घटनाएं होती हैं तो  व्हाट्सएप पर कई ग्रुप सक्रिय हो जाते हैं जो भ्रमित करने लगते हैं। ऐसे ग्रुप से बाहर निकल जाएं जिनमें कोई भी विचलित करने वाली खबरें आ रही हों।  

लोगों से दूरी बनाएं लेकिन अकेले न रहें 

कोरोना की वजह से कहीं भी ज्यादा लोगों से मिलने में पाबंदी लगा दी गई है। लेकिन सेल्फ आइसोलेशन का मतलब पूरी दुनिया और परिवार से दूर हो जाना नहीं है। आप किसी भी व्यक्ति विशेष से मिल नहीं पा  रहे हैं तो फ़ोन कॉल्स पर कनेक्टेड रहें। किसी से भी बातचीत करें लेकिन लगभग 3 मीटर की दूरी बनाए रखें। 

घर पर ही मेडिटेशन और योग करें 

जब आप किसी पब्लिक  प्लेस में नहीं जा रहे हैं और लोगों से मिलना जुलना भी कम हो गया है ऐसे में तनाव की स्थिति होना संभव  है लेकिन इस स्थिति से बाहर निकलने के लिए घर पर ही मेडिटेशन और योग करते रहें।  जब आप पूरी तरह से सक्रिय रहेंगे तब तनाव भी कम होगा। 

बच्चों को समय दें 

यदि आप तनाव से मुक्त रहना चाहते हैं तब घर पर अपने बच्चों को समय देने की पूरी कोशिश करें। बच्चों के साथ गेम्स एक्टिविटीज में इन्वॉल्व होने का प्रयास करें।  उन्हें बैठकर कोरोना वायरस के बारे में सजग करें और हाईजीन मेन्टेन करना सिखाएं।  जिसमें बच्चों को हैंडवॉश और सैनिटाइज़र का इस्तेमाल करना सिखाएं।  जब आप एक्टिविटीज में इन्वॉल्व होंगे तब आपकी टेंशन भी कम हो जाएगी। 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

कोरोना के डर को दूर करना है तो ऐसे करें फैमिली...

default

क्या वर्क फ्रॉम होम बन रहा है पार्टनर से...

default

फ़ैमिली से दूर हैं तो लॉकडाउन में कैसे रखें...

default

पॉजिटिव थिंकिंग अपनाएं , बीमारियों को दूर...

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription