GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

बच्‍चे को सिखाएं अच्छे संस्कार - मीरा राजपूत

आभा यादव

3rd April 2020

बॉलीवुड एक्टर शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत दो बच्चों की मां है। उनकी बड़ी बेटी मीशा और छोटा बेटा जैन है। मीरा अपने बच्चों की परवरिश को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा में रहतीं हैं। सोशल मीडिया पर अक्सर उनसे यूजर्स पेरेंटिंग टिप्स पर सलाह करते नजर आते हैं। मीरा राजपूत कैसे दोनों बच्चों की परवरिश करतीं है और क्या हैं उनके पेरेंटिंग टिप्स आइये जाने-

बच्‍चे को सिखाएं अच्छे संस्कार - मीरा राजपूत

बॉलीवुड एक्टर शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत अपने फैशन सेन्स के कारण हमेशा सुर्खियां बटोरती रहतीं है अक्सर उनका स्टाइल और ग्लैमर बीटाउन हसीनाओं तक को टक्कर देता हुआ दिखाई देता हैं। शाहिद कपूर और मीरा राजपूत बॉलीवुड इंडस्ट्री के सबसे पॉपुलर और अडोरेबल कपल हैं। दोनों ने साल 2015 में शादी की थी। शाहिद से उम्र में 13 साल छोटी मीरा और शाहिद के बीच की बॉन्डिंग, दोस्ती और प्यार जबरदस्त है।कि  आज मीरा राजपूत दो बच्चों की मां बन चुकी है। 

खुद पर दें खास ध्यान

बच्चे के जन्म के बाद एक मां की जिंदगी उसके इर्द-गिर्द ही घूमती है। बच्‍चे के खाने पीने से लेकर उसके सोने तक का ख्‍याल मां को रखना होता है। ऐसे में माएं अपना ख्याल रखना छोड़ देती हैं  जोकि सही नहीं है। यह बात सच है कि प्रेग्नेंसी के बाद हार्मोन्स बदलने के कारण महिलाओं का वजन बढ़ना शुरू हो जाता है इसलिए ऐसे में चिंता न करें बल्कि ये सोचे कि आप अपने बढ़ते वजन को कैसे कम कर सकती हैं ?  इसके लिए आप  6 महीने बाद वर्कआउट शुरू कर दें या फिर योगा करना भी आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। इसके अलावा इस समय तेजी से हेयरफॉल होने शुरू हो जाते हैं तो ऐसे में आपको घबराने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि महीने बाद सब कुछ नॉर्मल हो जाता है। 

जरुरी है आराम करना व खुश रहना

मेरा मानना है कि मां बनने वाली महिलाओं को कभी भी किसी तरह का स्ट्रेस नहीं लेना चाहिए क्योंकि ऐसा करना उनके स्वास्थ को नुकसान पहुंचा सकता है। बच्चे के जन्म के बाद एक मां को आराम करना व खुश रहना बहुत जरुरी है क्योंकि जब मां आराम करेगी और खुश रहेगी तो बच्चा भी हेल्दी रहेगा। 

 

बड़ों का अनुभव जरुरी

अक्सर महिलाएं जब मां बनने वाली होती हैं उस वक्त वह प्रग्नेंसी से और बच्चों से जुड़ी कई तरह की किताब पढ़ना शुरू कर देती हैं लेकिन मैंने ऐसा बिल्कुल भी नहीं किया। मैंने हमेशा अपनी मां और बड़ी बहन की बताई हुई बातों को माना और वही मेरे लिए फायदेमंद भी रहा। बड़ों का अनुभव ही बहुत खास होता है, जो आपको अपने बच्चे की परवरिश में बहुत सहयोग देता है।

स्वस्थ आहार ले

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं का खाने-पीने के प्रति स्वाद बदलने लगता है। उस समय कुछ महिलाओं को इंडियन फ़ूड तो कुछ को चाइनीज खाने का मन करता है। ऐसे में महिलाओं को चाहिए कि वो ज्यादा से ज्यादा हेल्दी डाइट ही लें, क्योंकि ये आपके बच्चे के लिए भी फायदेमंद होता है। इसके अलावा जैसे ही मौका मिले नींद जरूर पूरी करें क्‍योंकि एक मां के लिए अच्‍छी नींद लेना बहुत जरूरी है। 

बच्चे के लिए ब्रेस्ट फीडिंग हैं बेस्ट गिफ्ट

मेरा मानना है कि जो महिलाएं नवजात शिशु की मां बनी हैं उन्‍हें सबसे ज्‍यादा ध्‍यान बच्‍चे को ब्रेस्‍टफीडिंग कराने में देना चाहिए क्योंकि बच्चे के लिए ब्रेस्ट फीडिंग हैं बेस्ट गिफ्ट।  ब्रेस्‍टफीडिंग से आपका बच्‍चा और आप दोनों ही स्‍वस्‍थ रहेंगी। पर बहुत सी महिलएं ऐसा नहीं करती हैं उन्‍हें अपने फिगर के खराब होने का डर होता है। मगर ब्रेस्‍टफीडिंग कराने से आपकी बॉडी का शेप अच्‍छा हो जाता है। 

मेरे लिए मेरे बच्चे ज्‍यादा जरुरी है 

मेरी लाइफ में मेरे लिए सबसे ज्‍यादा जरुरी मेरे बच्‍चे हैं। उनकी जिम्‍मेदारी पूरी होने के बाद ही मैं कुछ और करना चाहती हूं। मैं यही कहूंगी कि अगर आपने बच्‍चे को जन्‍म दिया है तो उसके जरुरी काम तो आपको करने ही पड़ेंगे, उससे आप भाग नहीं सकतीं। फिर मेरे तो अब दो बच्‍चे हैं और मुझे दोनों पर बराबर ध्‍यान देना है। बच्चों की परवरिश में शाहिद मेरी पूरी मदद करते हैं और मेरा मानना है कि सारे हसबैंड्स को बच्‍चों को संभालने में अपनी वाइफ की हेल्‍प करनी चाहिए तभी बच्चे की परवरिश अच्छी तरह से हो सकेगी। 

बच्‍चे को सिखाएं अच्छे संस्कार

मैं और मेरी बेटी मीशा बहुत ज्‍यादा धार्मिक हैं और मैं अपने बेटे जैन को भी ये ही सिखाया क्योंकि बच्‍चे को अच्‍छे संस्‍कार और अपने कल्चर के बारे में बताना बहुत जरूरी है। इससे उसकी परवरिश बेहतर होती है और ये काम मां से बेहतर और कोई नहीं कर सकता है।   

ये भी पढ़ें  -

सौम्या टंडन - बेटा मिरान मेरी दुनिया है

स्नेह का बंधन मां और बच्चे का रिश्ता

ब्रेस्ट फीडिंग कब से कब तक

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

मां बनने के बाद मेरी दुनिया ही बदल गई - जेनेलिया...

default

बच्चों की परवरिश को संवारते ग्रैंड पैरेंट्स...

default

बच्चों के लिए जरूरी हैं एक्टिव लिसनिंग हैबिट्स...

default

बच्चे पढाई में हैं कमजोर तो बसन्त पंचमी के...

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription