GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

लॉकडाउन में बच्चों को दिखाएं ये इंस्पिरेशनल बायोपिक्स

संविदा मिश्रा

11th April 2020

कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव को रोकने के लिए पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है। सारे स्कूल्स भी बंद हैं और बच्चे घर पर ही हैं। कुछ स्कूल्स में ऑनलाइन क्लासेज शुरू कर दी गई हैं। बच्चों के मनोरंजन के लिए पैरेंट्स अलग -अलग एक्टिविटीज ढूढ़ते रहते हैं।

लॉकडाउन में बच्चों को दिखाएं ये इंस्पिरेशनल बायोपिक्स

यदि आप भी बच्चों के लिए कुछ नया करने का सोच रहे हैं तो आप बच्चों को कुछ इन्स्पिरेटिव बायोपिक्स  दिखा सकते हैं। इससे बच्चों को बदलाव तो लगेगा ही साथ ही इंस्पिरेशनल कैरेक्टर से मोटिवेशन भी मिलेगा। तो आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसी ही बायोपिक्स जिनसे आप बच्चों को मोटीवेट कर सकते हैं -

भाग मिल्खा  भाग 

भाग मिल्खा भाग भारत के सुप्रसिद्ध धावक मिल्खा सिंह के जीवन पर बनी फ़िल्म है। यह फिल्म  2013 में रिलीज़ हुई बेहतरीन फिल्मों में से एक है । इसका निर्देशन राकेश ओमप्रकाश मेहरा ने किया है। इस पूरी फिल्म में मिल्खा सिंह के बचपन से लेकर बड़े होने तक के संघर्ष को बेहद प्रेरणापूर्ण ढंग से दिखाया गया है। इसकी पटकथा और अभिनय की वजह से फिल्म को कई अवार्ड्स भी मिले। ये फिल्म बच्चों के लिए काफी प्रेरणाप्रद साबित हो सकती है। 

एम एस धोनी -द अनटोल्ड स्टोरी 

यह फिल्म इंडिया के मशहूर क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक है। इस फिल्म में धोनी के बचपन से शुरू हुए संघर्ष और क्रिकेट के लिए उसके जूनून को बखूबी दर्शकों के सामने दिखाया गया है। इसलिए यह फिल्म अनटोल्ड स्टोरी होकर भी बहुत कुछ बयां करती है। आप बच्चों को ये फिल्म जरूर दिखाएं इससे बच्चों की क्रिकेट के प्रति रूचि तो जागृत होगी साथ ही प्रेरणा भी मिलेगी। 

नीरजा 

यह फिल्म नीरजा भनोट की आत्म कथा को दिखाती है। यह  फ़िल्म 5  सितम्बर 1986  को मुम्बई-न्यूयॉर्क उड़ान के आतंकवादियों द्वारा कराची में अपहृत होने पर अपनी जान गंवाने  वाली नीरजा भनोट के जीवन पर आधारित फ़िल्म है। इस फिल्म को देखकर बच्चों में इंस्पिटेशन और साहस जगाया जा सकता है। 

मैरी कॉम 

मैरी कॉम एक भारतीय हिन्दी बॉलीवुड फ़िल्म है जो 2014  में सिनेमा घरों में प्रदर्शित हुई थी। इस फिल्म का निर्देशन ओमंग कुमार ने किया था। यह एक बायोपिक  फ़िल्म है जो मुक्केबाज मैरी कॉम पर आधारित है। यह फिल्म भी बच्चों के लिए प्रेरणा दायक साबित हो सकती है।

 

ये भी पढ़ें  -

बच्‍चे को सिखाएं अच्छे संस्कार - मीरा राजपूत

सौम्या टंडन - बेटा मिरान मेरी दुनिया है

ब्रेस्ट फीडिंग कब से कब तक

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

हॉलीवुड की चार ऐसी फिल्में, जिन्होनें किया...

default

बड़े पर्दे पर जल्द ही दिखेगी रामायण की भव्य...

default

इंडस्ट्री के ये मशहूर चेहरे रखते हैं संबंध...

default

बच्चों के लिए जरूरी हैं एक्टिव लिसनिंग हैबिट्स...

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

अच्छे शारीरि...

अच्छे शारीरिक, मानसिक...

इलाज के लिए हर तरह के माध्यम के बाद अब लोग हीलिंग थेरेपी...

आसान बजट पर ...

आसान बजट पर पूरा...

आपकी शादी अगले कुछ दिनों में होने वाली है। आपने इसके...

संपादक की पसंद

आध्यात्म ऐसे...

आध्यात्म ऐसे रखेगा...

आध्यात्म को कई सारी दिक्कतों का हल माना जाता है। ये...

बच्चों को हा...

बच्चों को हाइड्रेटेड...

बच्चों के लिए गर्मी का मौसम डिहाइड्रेशन का कारण बन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription