GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

पलकें झपकाने से लॉकडाउन के दौरान भी सलामत रहेंगी आपकी खूबसूरत आंखें

Priyanka Verma

13th April 2020

पलकें झपकाने से लॉकडाउन के दौरान भी सलामत रहेंगी आपकी खूबसूरत आंखें

तेज़ी से फैल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन के दौरान ज़्यादातर समय मोबाइल, टीवी और कंप्यूटर पर ही गुज़रता है ऐसे में सबसे ज़्यादा आंखों पर दुष्प्रभाव पड़ता है। नेत्र रोग विशेषज्ञों के मुताबिक, बहुत देर तक टीवी के सामने बैठने और मोबाइल देखने से आंखों में जलन, भारीपन, लाली और आंसू सूखने की शिकायत बढ़ रही है। ऐसे में अगर आप थोड़ी-थोड़ी में पलकें झपकाते रहेंगे तो इससे आपकी आपकी आंखों को आराम मिलेगा।


नेत्र रोग विशेषज्ञों का मानना है कि 40 से अधिक की उम्र के लोगों को इसकी शिकयत होने का खतरा सबसे ज़्यादा होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि भारत में यह समस्या हाई रिस्क पर है। ऐसा मानना है कि व्यक्ति 1 मिनट में करीब 12 से 15 बार पलकें झपकाता है लेकिन टीवी, कंप्यूटर या मोबाइल देखने के दौरान लोगों सिर्फ 3 से 4 ही ऐसा करते हैं। यही कारण है कि आंखों में दर्द होता है और वे जल्दी लाल हो जाती है।



तो आइये जानते हैं कि आंखों में असमय होनी वाली इन परेशानियों से बचने के लिए हम क्या कर सकते हैं और कौन से ऐसे काम हैं जिन्हें नहीं करना चाहिए।


क्या करें--

1. एक समय में आधे या एक घंटे से ज़्यादा मोबाइल, टीवी या कंप्यूटर में न देखें।
2. बीच-बीच में पलकों को झपकाते रहे ताकि आंखों में बनने वाला तरल पदार्थ सूखने न पाए और वह आंखों में आसानी से फैल जाए।
3. अगर आंखों में दर्द हो रहा हो तो साफ हाथों से इन्हें 2 से 3 मिनट तक बंद रखें। इससे जल्दी आराम मिलेगा।
4. मुंह में पानी भरकर चेहरे और आंखों को साफ पानी धोए। ऐसा करने से आंखों का दर्द चंद मिनटों में गायब हो जाएगा।
5. सिर दर्द, आंखों में जलन या आंखें लाल होने पर डॉक्टर के पास जाए और उनके द्वारा बताए गए आई ड्राप का तय समय पर इस्तेमाल करें।


क्या न करें--


1. बार-बार हाथों से आंखों को न रगड़े बल्कि जब भी आंखों को छुए तो अपने हाथों को किसी अच्छे साबुन या सैनिटाइज़र से साफ ज़रूर कर लें।
2. अगर आंखों में दर्द हो या वो लाल हो गई हों तो गुलाब जल या बर्फ का ठंडा पानी कभी भी आंखों में न डालें। ऐसा करने से जलन या लालिमा अधिक बढ़ सकती है।
3. बिना डॉक्टर की सलाह लिए कभी भी कोई एंटीबायोटिक ड्राप न डालें।
4. आंखों से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी होने पर नेत्र रोग विशेषज्ञ से सलाह लें।

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

अपने शरीर की रोज करें जांच

default

डार्क सर्कल्स हो या आंखों की पफीनेस, आलू...

default

शिशु के जन्म के बाद कुछ ऐसा होता है पहला...

default

कंप्यूटर नैविगेशन से कराएं घुटना प्रत्यारोपण...

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription