GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

ज्यादा खर्च की आदत जाएगी छूट

Chayanika Nigam

7th May 2020

ज्यादा खर्च की आदत जाएगी छूट
खर्च करने की आदत आपको परेशान किए हुए है। न कभी बजट के हिसाब से महीना बीत पाता है और न ही आपकी मर्जी की सारी खरीदारी ही हो पाती है। पैसे तो मानो जेब से फुर्र ही हो जाते हैं। आप अपनी इस आदत से इतनी परेशान हैं कि अब तो ऑनलाइन शॉपिंग करने में भी डर लगता है। तो अब समय है कि अपनी इस आदत से छुटकारा पा लिया जाए। खुद को खर्चेलू वाले टैग से अलग करना है तो आपको कुछ सुधार अपनी दिनचर्या में शामिल कर लेने होंगे। सुधार के टिप्स ऐसे हैं कि आप इन्हें आसानी से अपनी लाइफ में शामिल कर सकती हैं। चलिए पहले इन्हें पहचान लीजिए-
जितना सामान,उतने पैसे-
याद रखिए अगर आप मार्केट में कार्ड से पेमेंट करेंगी तो हमेशा जरूरत से ज्यादा ही समान खरीदेंगी। वजह,आपको पैसों की लिमिट के बारे में सोचना ही नहीं पड़ेगा। आप तो अनगिनत सामान खरीदती चली जाएंगी। इसके साथ ही अगर आप कैश लेकर बाजार जाएंगी तो भी ये दिक्कत हो सकती है। लेकिन सिर्फ तब जब आप जरूरत से ज्यादा पैसे लेकर निकली हों। इसलिए जो सामान लेने बाजार जाएं सिर्फ उतने के पैसे ही जेब में रखें फिर देखिएगा कि कैसे पैसे सिर्फ जरूरत की चीजों पर ही खर्च होते हैं।
पैसे बचाने क्यों हैं?
खर्चे अगर कम होंगे तो पैसे ज्यादा बचेंगे और पैसे बचेंगे तो आप भविष्य के लिए जोड़ पाएंगी। अब यहां ये भी हो सकता है कि आप किसी खास चीज के लिए पैसे जोड़ रहीं हों। अब खर्चों में कटौती का कारण यही खास चीज है। है न। तो आप घर के जिस कोने में सबसे ज्यादा बैठती हैं,वहां नोट्स चिपका सकती हैं कि आपको ये खास चीज चाहिए। ये नोट्स आपको आपके मकसद से पलटने नहीं देंगे। ये आपको खर्चा ना करने की लिए समझाते रहेंगे।
लिस्ट हो तैयार-
बाजार खरीदारी करते जाते समय अक्सर सामान की लिस्ट साथ ले जाने की सलाह दी जाती है। माना जाता है कि इस तरह से आप बाजार में कोई सामान भूलेंगे नहीं। सबकुछ खरीद लाएंगी। लेकिन इसका एक फायदा खर्चे में भी होगा। आप सिर्फ वही खरीदेंगी,जिनकी आपको असल में जरूरत है। आप कोई भी खरीदारी बेकार की नहीं करेंगी। लेकिन इस वक्त आपको भी लिस्ट के साथ दृढ़ रहना होगा। लिस्ट से इतर किसी भी आइटम को नहीं खरीदना है,ये याद कर लीजिए।
कमजोरी पहचान लीजिए-
कई लोग ऐसे होते हैं,जो किसी खास चीज को देखते ही खरीदने से खुद को रोक ही नहीं पाते हैं। फिर चाहे जरूरत हो या नहीं,जैसे चॉकलेट या फिर कपड़े। आपकी भी ऐसी कोई कमजोरी जरूर होगी। इसको पहचानिए। और कोशिश कीजिए,इनकी मार्केट या शॉप की ओर जरूरत के समय ही जाएं इससे पहले नहीं।
 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

त्योहार पर ख...

त्योहार पर खर्च करें पर सोच समझ कर

बजट के अनुसा...

बजट के अनुसार करें शॉपिंग

जानिए बचत और...

जानिए बचत और निवेश में क्या अंतर है

7 जरूरी बाते...

7 जरूरी बातें ट्रेवल चेकलिस्ट की

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription