मॉनसून में आपका इंतजार करेंगी ये खूबसूरत डेस्टिनेशन

चयनिका निगम

14th May 2020

अभी घूमें नहीं जा सकते लेकियन लॉकडाउन खत्म होने के बाद मॉनसून के मौसम में तो जाएंगे ही। तब बेस्ट डेस्टिनेशन कौन सी होंगी, जान लीजिए।

मॉनसून में आपका इंतजार करेंगी ये खूबसूरत डेस्टिनेशन
गर्मी की छुट्टी में घूमने जाने का प्लान किया था? क्या हुआ नहीं जा पाए। लॉकडाउन की वजह से कहीं बाहर क्या, अपने शहर में घूमना भी मुश्किल हो रहा है। लेकिन कुछ महीनों बाद लॉकडाउन खुलेगा। तब तो घूमने जांगे न। अगर कोरोना अगले कुछ दिनों में हमारी जिंदगियों से चला जाता है तो मॉनसून ही वो पहला मौसम होगा, जब हम कहीं भी जाने को आजाद होंगे। तो फिर आप कहां जाएंगे। भाई, मॉनसून में इतनी बारिश के बीच कोई कैसे घूमने जा सकता है? आप यही सोच रहे होंगे। लेकिन यकीन मानिए अपने देश में ऐसी कई जगह हैं, जो मॉनसून के मौसम में इतनी खूबसूरात हो जाती हैं कि वहां घूमे बिना आप रहा ही नहीं सकते। चलिए इन जगहों के बारे में जान लें-
लोनावला का प्यारा-प्यारा मौसम-
मुंबई से सिर्फ करीब 2 घंटे की दूरी पर बना है लोनावला। सड़क से मुंबई और लोनावला की दूरी करीब 84 किलोमीटर है। जबकि पुणे से यही दूरी 67 किलोमीटर हो जाती है। मॉनसून के मौसम में यहां का तापमान 25 डिग्री के आस-पास रहता है। बारिश भी बहुत ज्यादा नहीं होती। फुहार के साथ हल्की बारिश यहां महसूस की जा सकती है। यहां पर ट्रेकिंग, साइटसीइंग, कैम्पेनिंग के साथ हॉर्स राइडिंग का मजा भी यात्री खूब लेते हैं। यहां की चिक्की काफी पसंद की जाती है। 
सदाबहार गोवा-
गोवा एक ऐसी जगह है, जहां लोग हर मौसम में जाना पसंद करते हैं। यहां के बीच और मौसम दोनों ही लोगों को बहुत भाते हैं। मॉनसून में भी यहां का मौसम देखने वाला होता है। इस वक्त यहां का मौसम हल्का गरम लेकिन अच्छा होता है। तापमान भी 30 डिग्री के आस-पास ही रहता है। गोवा आकर लोग कई सारे अनोखे अनुभव करते है, जैसे दूधसागर वॉटर फॉल पर ट्रेकिंग, अक्वेडा फोर्ट पर डॉल्फ़िन शो और क्रूज की सैर। मॉनसून में गोवा आना आपको घाटे का सौदा बिलकुल नहीं लगेगा। 
प्रिंसेस ऑफ हिल स्टेशन कोडाइकनाल -
तमिलनाडू के इस हिल स्टेशन को ‘प्रिंसेस ऑफ हिल स्टेशन' यूंही नहीं कहा जाता है। पलानी हिल्स पर बने कोडाइकनाल में कई सारे झरने हैं तो झीलें भी। हरियाली के तो कहने ही क्या। बोटिंग, साइटसीइंग और ट्रेकिंग करके आप को जरूर अच्छा महसूस होगा। यहां से सबसे करीबी एयरपोर्ट 135 किलोमीटर दूर मदुरैई है। वहीं कोयंबटूर 170 किलोमीटर दूर है। बेंगलुरु से सड़क के रास्ते यहां पहुंचने में 9 घंटे का समय लग जाता है। यहां की बेरिजेम और कोडाई झील सच में आपकी यात्रा यादगार बना देंगी। 
अंडमान निकोबार-
570 आईलेंड से मिलकर बनी ये जगह वाइल्डलाइफ, समुंदर और वॉटर स्पोर्ट्स के लिए जानी जाती है। मॉनसून में यहां का तापमान करीब 35 डिग्री रहता है। यहां आने के लिए देश के कई हिस्सों से पोर्ट ब्लेयर के लिए सीधी फ्लाइट मिल जाती हैं। यहां आकर जेट स्कीइंग, स्कूबा डाइविंग और ट्रेकिंग का मजा लिया जा सकता है। 
ये भी पढ़ें-

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

मॉनसून में आ...

मॉनसून में आपका इंतजार करेंगी ये खूबसूरत...

मॉनसून में क...

मॉनसून में कीजिए पहाड़ों की सैर और लीजिए...

जन्नत देखनी ...

जन्नत देखनी है? चोपटा घूम आइए

वन्य जीवन से...

वन्य जीवन से रूबरू कराता हेमिस नेशनल पार्क...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

समृद्धिदायक ...

समृद्धिदायक लक्ष्मी...

यू तो लक्ष्मी साधना के हजारों स्वरूपों की व्याख्या...

कैसे करें लक...

कैसे करें लक्ष्मी...

चौकी पर लक्ष्मी व गणेश की मूर्तियां इस प्रकार रखें...

संपादक की पसंद

कैसे दें घर ...

कैसे दें घर को फेस्टिव...

कैसे दें घर को फेस्टिव लुक

घर पर भी सबक...

घर पर भी सबकुछ और...

‘जब से शादी हुई है सिर्फ लाइफ मैनेज करने में ही सारी...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription