GREHLAKSHMI

FREE - On Google Play
OPEN

सौंदर्य से जुडी 8 आम परेशानियाॅ और उनके समाधान

Poonam Mehta

14th May 2020

कुछ ऐसी सौंदर्य समस्याएं हर उम्र में होती ही हैं जिनसे हम सबको रूबरू होना पडता है। आइए जानते है इन समस्याओं के बारे में और ढूंढते हैं उनके हल।

सौंदर्य से जुडी 8 आम परेशानियाॅ और उनके समाधान

सौंदर्य हम सभी को लुभाता है। यह मनुष्य का ऐसा गुण है जो उसके आत्मविश्वास का कारक भी है। सुंदरता के प्रति यूॅ तो आजकल हर कोई सजग है पर भी कुछ ऐसी सौंदर्य समस्याएं हर उम्र में होती ही हैं जिनसे हम सबको रूबरू होना पडता है। आइए जानते है इन समस्याओं के बारे में और ढूंढते हैं उनके हल।
बेजान त्वचा - किसी भी उम्र में यह समस्या हरेक को हो सकती है। न्यूट्रीशन की कमी, अत्याधिक धूप में रहना, तनाव, बीमारी, मौसम की मार...... कारण कोई भी हो सकता है।
समाधान - चेहरे को कच्चे दूध से साफ करें। यह एक क्लेंजर की तरह कार्य करता है। तत्पश्चात् शहद, सेव, पपीता, आम का गूदा, टमाटर या फ्रूट मिक्स लगाएं। फलों और सब्जियों का पेस्ट जो आपको सूट करे उसे 10-15 मिनट लगाकर छोड दें एलोवेरा का गूदा ज्यादा देर तक लगा रहने दे सकती हैं। तत्पश्चात् ठंडे पानी से धो लें। चेहरे का पी.एच. बैलेंस देखते हुए क्रीम भी जो आपको सूट करती हो लगाई जा सकती है।
झडते बाल - किशोर से लेकर एक वृद्ध तक यह आज सभी की आम समस्या है। बालों की असमयी सफेदी की समस्या, डैंड्रफ भी इससे जूडी है। रोज़ बालों का झडना नैचुरल है पर जब मात्रा ज्यादा हो तो परेशानी बन जाता है।
समाधान - अपना स्वास्थ्य चैक करें। लम्बी बीमारी, तनाव से तो हेयरफाॅल नहीं हो रहा। पानी जिससे आप बाल धोते हैं यदि कठोर है तो भी फर्क पडेगा। घरेलू चीजें जैसे काली मिट्टी रीठा आवंला, शिकाकाई से सिर धोइए। मीठा नीम और गुडहल के फूल उबाल के उसके पानी से सिर धोइए। बालों पे एक्सपेरीमेंट मत कीजिए। कलर, पर्म, सटैªटनिंग कुछ दिन रहने दें। प्रोटीन रिच डाइट लीजिए। बालों को कस के, गीले न बांधिए। ज्यादातर हेयर फाल हमारी चिंता और गलत रख रखाव से होता है।
एक्ने - युवा जिस उम्र में बेहतर लगना चाहते हैं मुहांसे उसी उम्र में चेहरे के शो को खराब कर देते हैं। हीन भावना व आत्महत्या तक का कारण यह कई बार बन जाते हैं।
समाधान - डेयरी प्रोडक्ट, अत्याधिक मीठा, तला भुना खाने से बचें, पेट साफ रखें। चेहरे पर कुछ न लगाएं। चेहरे को माइल्ड क्लेंजर से साफ करते रहें। मुहासों पर मुल्तानी मिट्टी(केवल उसी जगह) लगाकर कुछ घंटे छोड दें। मुल्तानी मिट्टी तेल सोख लेती है और मुहांसे की सूजन कम हो जाती है। इससे त्वचा पे दाग भी नहीं रहता। ध्यान रखें मुहासे फोडें नहीं, न अनावश्यक उसे हाथ लगाएं।
पीले दांत - हम में से बहुत कम लोग भाग्यशाली हैं जिनकी दंत पंक्ति अच्छी है। अधिकांश के दूध के दांत टूटने पर दांत अच्छे नहीं आते लिहाजा खुलकर मुस्कुराने में भी हमें संकोच होता है।
समाधान - भली प्रकार दो बार ब्रश करें। बेकिंग सोडा से कभी कभार पेस्ट करें, दातों पर नींबू छिलके रगडे जा सकते हैं पर बहुत ध्यान से धीरे धीरे अंगुलियों से मंजन करें।
टूटते नाखून - लम्बे नाखून किसी भी सौंदर्य प्रेमी व्यक्ति के लिए गर्व का विषय होते हैं पर यही टूटे फूटे कटे हों तो हाथों की सुंदरता खत्म कर देते हैं। गृहणियों से लेकर कार्यशील महिलाओं तक यह समस्या आम हैं।
समाधान - कोल्ड़ क्रीम से मसाज करें, नारीयल तेल लगाएं, हैण्ड क्रीम लगाएं।
सूखे होंठ - मौसम के बदलते ही होंठ अक्सर पपडीदार हो जाते हैं। सूखे होंठ रूप गर्विताओं के लिए परेशानी होते हैं।
समाधान - । नारियल तेल से होंठों को माईस्चराइज करिए। हल्के हाथों से चीनी होठों पे फेर कर मृत त्वचा निकालिए। तत्पश्चात् कोल्ड क्रीम या मलाई लगा लिजिए। नाभि में तेल या घी लगाने से भी होठों पे फर्क पडता हैं
चेहर पे लाइनें - अक्सर उम्र बढने पर और कभी कभी वजन कम होने से चेहरे पे आखों के आस पास, माथे पे, होठों के चारों ओर लकीरें दिखती हैं। इन्हें क्रोज़ फीट, लाॅफ लाइन कहते हैं।
समाधान - फेशियल एक्सरसाइज़ करिए और चेहरे को माइसचराइज़ड रखिए।
तिल - सही स्थान पर तिल हमारे लिए ब्यूटी स्पाट्स है पर हर जगह लाल भूरे काले तिल सौंदर्य के शत्रु भी हैं। हर व्यक्ति इनसे परेशान मिलेगा।
समाधान - धूम में कम निकलिए, निकलना पडे तो देख भाल के सनस्क्रीन लगाएं। आवश्यकता पडे तो कास्मैटिक सर्जरी का सहारा ले सकते हैं।


कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

default

ए.एच.ए. क्रीम गर्दन व चेहरे पर लगाएं

default

पोस्ट और प्री प्रेग्नेंसी में ऐसे करें स्किन...

default

रिमझिम फुहारों में त्वचा रहे जवां

default

त्वचा को निखारती है नाइट क्रीम

पोल

सबसे अछि दाल कौन सी है

गृहलक्ष्मी गपशप

जानिए बॉलीवु...

जानिए बॉलीवुड की...

चलिए जानते हैं कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में जिन्होंने...

चाणक्य के अन...

चाणक्य के अनुसार...

सदियों से ये सोच चली आ रही है महिलाएं शारीरिक और मानसिक...

संपादक की पसंद

रामायण: घर-घ...

रामायण: घर-घर में...

रामानंद सागर की 'रामायण' लॉकडाउन में जब दोबारा प्रसारित...

खाद्य पदार्थ...

खाद्य पदार्थ जो...

आजकल आप थके-थके रहते हैं। रोमांस करने की आपकी इच्छा...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription