मानसून में हेल्थ और स्वच्छता के लिए टिप्स

मोनिका अग्रवाल

18th May 2020

झमझम बारिश की बूंदों के साथ आप रोमांचित होते हैं और गर्मागर्म पकोड़ों का भी आनंद ले लेते हैं। लेकिन क्या आप हेल्थ और हाइजीन का ध्यान रखते हैं? आप पकवानों उसका मजा जरूर लें, लेकिन स्वाद के साथ सेहत का भी ख्याल रखें। क्या आप जानते हैं कि यह बरसात का मौसम अपने साथ कई बीमारियां भी लेकर आता है? दरअसल, इस मौसम को बीमारियों का मौसम भी कहा जाता है। अधिकांश बीमारियां अनजाने में खाने-पीने की लापरवाही की वजह से ही होती हैं।

मानसून में हेल्थ और स्वच्छता के लिए टिप्स

monsoon

मानसून वर्ष के सबसे प्रतीक्षित समय होता है, जो की गर्मी की चिलचिलाती धूप से बहुत वांछित और आवश्यक राहत लाता है। लेकिन जैसा कि वे कहते हैं "अच्छी और बुरी चीजें हमेशा साथ साथ आती हैं", इसलिए अधिकांश ताज़ा समय के साथ, मानसून बीमारियों और समस्याओं को भी अपने साथ लाता  है। बरसात के बाद, मच्छर काफी बड़ जाते है  व् मच्छरों से संबंधित विभिन्न संक्रमण, जैसे कि मलेरिया, डेंगू, वायरल आदि जैसी बीमारिया बहुत तेज़ी से फ़ैल जाती है।  

Health N Hygeine

इसके अलावा, असहनीय नमी के परिणामस्वरूप कई त्वचा रोग और बैक्टीरियल फंगल संक्रमण हो सकते हैं। लगातार त्वचा की स्थिति जैसे कि मुँहासे, कवक मानसून के मौसम के दौरान तेज होते हैं। इसके अलावा, कई बीमारियां भी हवा से पैदा होती हैं और संक्रमित पानी और भोजन से आसानी से फैलती हैं। फिट रहने के लिए हम सभी के लिए स्वस्थ पोषण आहार बनाना अनिवार्य हो जाता है।

आइए जाने-माने एक्ट्रेस व् न्यूट्रीशनिस्ट पवलीन गुजराल से सुनते हैं कि हमें मॉनसून के दौरान क्या लेना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।

 

  1. भरपूर पानी लें: मानसून में सबसे पहला और महत्वपूर्ण कदम यह है कि आप अपने शरीर को हाइड्रेट रखें। नमी के उच्च स्तर के कारण, हम दिन भर पसीना बहाते हैं और परिणामस्वरूप, हमारा शरीर निर्जलित हो जाता है। बहुत सारा पानी पीना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह शरीर से सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करेगा और आपको संक्रमणों से लड़ने के लिए बढ़ावा देगा।

भरपूर पानी लें
  1. हमेशा घर के पके हुए भोजन का पालन करें: मानसून का मतलब है कि हवा में अधिक नमी, जो बैक्टीरिया को जन्म दे सकती है इसलिए इस मौसम में केवल घर का बना साफ़ सुथरा पक्का हुआ भोजन ही खाए।  यह सबसे ज़्यादा फायदेमंद होता ह। इसके साथ साथ  बाहर के खाने से भी बचें।

हमेशा घर के पके हुए भोजन का पालन करें
  1. जितना हो सके ताजे भोजन का सेवन करें: मानसून के दौरान फेश फ्रूट्स और वेजिटेबल सलाद की बहुत अधिक सलाह दी जाती है क्योंकि यह आपके इम्युनिटी लेवल को बढ़ाने में मदद करता है, लेकिन सुनिश्चित करें कि ये ताजा कटे हुए हो और हाइजीनिक रूप से परोसे जाएं। उन फलों से बचें जो पहले से कटे हुए या छिलके वाले और खुले में रखे गए हों क्योंकि इसमें कई बैक्टीरिया होते हैं।

जितना हो सके ताजे भोजन का सेवन करें
  1. स्ट्रीट फूड को ना कहें: मानसून के दौरान स्ट्रीट फूड से बचने की कोशिश करें क्योंकि वे बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देते हैं। अधिकांश स्ट्रीट फूड विक्रेता अपने भोजन को बाहर रखते हैं, जिससे यह संदूषण के संपर्क में आता है। अगर ज़रूरत हो तो इसे घर पर बनाये, पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए एक अच्छा विकल्प है अपने चाट में हिंग और भरपूर जीरा का उपयोग करे। 

स्ट्रीट फूड को ना कहें
  1. हाथ धोना प्राथमिकता पर होना चाहिए: हमेशा और हमेशा कुछ भी खाने से पहले हाथ धोना न भूलियें।  यह बहुत ही आवश्यक है।  बिना धुले हुए और गंदे हाथो में कही प्रकार के बैक्टीरिया लग जाते है जिस से विभिन्न प्रकार की बीमारियों हो सकती है।  

हाथ धोना प्राथमिकता पर होना चाहिए
  1. बचे हुए फ्रिज खाद्य पदार्थों से बचने की कोशिश करें: लंबे समय तक रेफ्रिजरेटर में रखे खाद्य पदार्थों से दूर रहें। यह उल्टी या दस्त के रूप में हो सकता है। उन खाद्य पदार्थों से दूर रहें जो कि फफूंदीयुक्त, मुरझाए हुए या सड़ चुके हो। 

बचे हुए फ्रिज खाद्य पदार्थों से बचने की कोशिश करें
  1. तले हुए व्यंजनों से दूर रहे :  फ्राइड फ़ूड हमेशा  लुभावने व् स्वादिष्ट लगते है। पर यह सबसे ज़्यादा नुक्सानदायिक होते हैं मानसून के मौसम मे।  इससे आपके शरीर का वजन बढ़ने लगता है। इसलिए हमेशा तला हुआ और तैलीय भोजन से बचने की सलाह दी जाती है और, सुनिश्चित करें कि आप कुछ स्वस्थ और स्वादिष्ट भोजन विकल्पों का चयन करके इन प्रलोभनों के खिलाफ पर्याप्त रूप से निर्धारित हों।

तले हुए व्यंजनों से दूर रहे
  1. हैल्थी सब्ज़ियां सबसे अच्छी: बॉटल गोर्ड (लौकी), बिटर लौकी (करेला), इंडियन स्क्वैश (टिंडा), पॉइंटेड लौकी (परवल) को अपनी डाइट में शामिल करें क्योंकि ये डाइटरी फाइबर से भरपूर होते हैं और हेल्दी पाचन क्रिया को बनाए रखने में मदद करते हैं। साथ ही, यह आपके पेट को हल्का रखता है।

हैल्थी सब्ज़ियां सबसे अच्छी
  1. सी फूड: मानसून के दौरान सीफूड से जरूर बचना चाहिए। इसका कारण, मानसून मछलियों और समुद्री जीवों के अन्य रूपों के प्रजनन का मौसम है। मछलियों के शरीर के अंदर अंडे होते हैं जिनका सेवन करने पर पेट में संक्रमण या गंभीर खाद्य विषाक्तता हो सकती है।

सी फूड
  1. अधिक मशरूम नहीं: जैसा कि हम सभी जानते हैं कि नमी वाले क्षेत्रों में मशरूम उगते हैं जिन्हें उपभोग से पहले उचित सफाई की आवश्यकता होती है। लेकिन मानसून के मौसम में, मशरूम को न खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि बारिश के दौरान वे बैक्टीरिया के शिकार हो जाते हैं।

अधिक मशरूम नहीं
  1.  तत्व जिन्हें आपको शामिल करना चाहिए: हल्दी, काली मिर्च, अदरक, लहसुन जैसे तत्व प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करते हैं और अपच से छुटकारा पाने में मदद करते हैं। ऐसे अवयवों का सेवन मानसून में बहुत उपयोगी साबित हो सकता है।

मसाले

इस तरह के सुझावों के अलावा, अपने आप को साफ और स्वच्छ रखना बहुत महत्वपूर्ण है। जितना अधिक आप अपने आप को स्वस्थ रखेंगे, संक्रमण होने की संभावना उतनी ही कम होगी। सबसे अच्छा तरीका है कि आप घर में प्रवेश करते ही वॉशरूम पर तुरंत हमला करें, अपने हाथों को अच्छी तरह से धोएं, और साथ ही चेहरा, इसके साथ साथ स्नान भी आवश्यक है  और अपने आप को पूरी तरह से सूखा लें। यह आपको सभी प्रकार के बैक्टीरियल संक्रमणों को रोकने में मदद करेगा।

यह भी पढ़ें--

 

  1. डाइट स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए

  2. वीकेंड या हालिडे को बदलें फनडे में 

  3. टिप्स जो मानसून में रोमांस को लगा देंगे चार चांद

  4. क्या कोविड-19 के संक्रमण के फैलते हुए सुरक्षित है सेक्चुअल इंटरकोर्स

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

कोविड-19 : स...

कोविड-19 : समान स्टोर करते समय ही नहीं, बल्कि...

सेक्स के लिए...

सेक्स के लिए ये इशारे देते हैं पति

सेक्स से पहल...

सेक्स से पहले क्या खायें

गर्मी में त्...

गर्मी में त्वचा की देखभाल

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

समृद्धिदायक ...

समृद्धिदायक लक्ष्मी...

यू तो लक्ष्मी साधना के हजारों स्वरूपों की व्याख्या...

कैसे करें लक...

कैसे करें लक्ष्मी...

चौकी पर लक्ष्मी व गणेश की मूर्तियां इस प्रकार रखें...

संपादक की पसंद

कैसे दें घर ...

कैसे दें घर को फेस्टिव...

कैसे दें घर को फेस्टिव लुक

घर पर भी सबक...

घर पर भी सबकुछ और...

‘जब से शादी हुई है सिर्फ लाइफ मैनेज करने में ही सारी...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription