आत्मविश्वास की कमी - बेटियों को सलाहकार बनाईये

Poonam Mehta

21st May 2020

यदि आप कान्फीडेन्ट होना चाहती हैं और आपके घर में टीनएज बेटियां हैं तो उन सब माँओ से आप अधिक भाग्यवान है जिनकी बेटियाँ नहीं हैं।

आत्मविश्वास की कमी - बेटियों को सलाहकार बनाईये

गृहणी हो या वर्किंग वुमन, उद्यमी हो या समाज सेवी नारी तो है ही खूबसूरती का पर्याय। सजना सवरँना, प्रेजेन्टेबल लगना उस की महत्ती आवश्यकता है।
प्रेजेन्टेबल लगने से व्यक्ति में आत्मविश्वास जगता हैं। यही आत्मविश्वास सफलता को आकर्षित करता है। यदि आप कान्फीडेन्ट होना चाहती हैं और आपके घर में टीनएज बेटियां हैं तो उन सब माँओ से आप अधिक भाग्यवान है जिनकी बेटियाँ नहीं हैं।

कल तक तो आप अपनी बेटियों का ध्यान रखती थी। कौनसी ड्रैस उन पर फबेगी, कैसा हेयरस्टाइल जँचेगा पर अब जब बेटियां बड़ी हो गयी हैं तो उनकी मदद से आप ना केवल सुन्दर बन सकती हैं बल्कि अपनी प्रतिभा को भी निखार सकती हैं।

किशोरवय बेटियाँ न केवल आपका आत्मविश्वास बढाती हैं बल्कि आपकी हमराज़, दोस्त, सलाहकार बनकर आपके व्यक्तित्व को निखारती भी हैं।

वे फैशन समझती हैं - किशोरवय बेटियां लेटैस्ट फैशन से परिचित होती हैं। उन्हें मार्ड़न कपडों से भी हिचक नहीं होती। उनकी पसंद के कपडे पहन के आप अपनी उम्र से छोटी व स्मार्ट लग सकती हैं।

उन्हें लेटैस्ट ट्रैडंस पता होते हैं - क्या ‘इन‘ है क्या ‘आउट‘ बेटियों को पता होता हैं। किट्टी पार्टी या सोशल गैदरिंग में आपको उनके रहते शर्मिन्दा होने की आवश्यकता नहीं। कौनसे कलर, कौनसा फैब्रिक चल रहा है, किस कपड़े को कैसे पहना जाए आप उनसे पूछें, पहने और फिर देखिए सबकी नजरें आप ही का पीछा करती आप पायेगीं।

वे आपकी खूबियां बता देगी:- आपका रंग हो या फीचर्स, फिगर हो या बाल बेटियाँ आपकी सुन्दरता के वो पहलू ढूँढ लेंगी जिनका आपको भी शायद पता न हो। फेशियल, मेकअप टूल्स... बेटियों से आपको सच्ची सही सलाह ही मिलेगी।

आपके टैलेंट को वे प्लैटफोर्म देती हैं - किसी ने घर में भले ही कभी तारीफ न की हो पर बेटियां अपनी सहेलियों में आपको नायिका बना देती हैं। गायन हो या पाक कला, वाद्य यंत्र बजाना हो या सिलाई-कढाई, वे दोस्तों में, समाज में, आपके सर्किल में आपकी तारीफ करके आपकी छिपी प्रतिभाओं को ढूँढ ही निकालती हैं।

आपको कैरियर ओरियेन्टेड बना सकती है - बच्चों की पढ़ाई के लिए नौकरी, रिसर्च या व्यापार अगर आपने छोड़ा था तो बेटियाँ आपको मानसिक सम्बल दे कर पुनः ज्वाइन करवा सकती है। आप में हुनर हैं तो उनके प्रोत्साहन से आप नौकरी, छोटा मोटा बिज़नस या समाज सेवा शुरू कर सकती हैं।

घर में एड़जस्टमेन्ट करवाती हैं - आपको अपनी आहत भावनाएं अब कहीं ले जाने की जरूरत नहीं। बच्चे जब बड़े हो जाते है खासतौर से बेटियाँ तो घर का माहौल जान कर आपकी मन की बातें समझती हैं। कोई आपकी तरफ से भी सोचता है जानकर आपको तसल्ली हो जाती है।

आपमंे आत्मविश्वास पनपाती हैं - बड़ी होती बेटियां सखियाँ बन जाती है। आप उनसे नजदीक होती हैं। वो आपका घर के कामों में भी हाथ बंटाती हैं। झगडा होने पर आपकी साइड़ भी लेती हैं। आप उनसे सभी तरह की बातें शेयर कर सकती हैं।
   

जब घर में सच्चा मित्र, असली हमदर्द कान्फीडेन्स बढाने वाला दोस्त आपकी बेटियां मौजूद हो तो क्यों नहीं आपका व्यक्तित्व निखरेगा, आप खुश रहेगीं आपका आत्मबल बढेगा, बेटियों को सलाहकार बनाइये वे कमाल कर देंगी.............।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

गर्भावस्था म...

गर्भावस्था में हुई हानि जैसे मिसकैरिज या...

घूंघट से बाह...

घूंघट से बाहर निकल रहा है देश का भविष्य

शिशु के जन्म...

शिशु के जन्म के समय प्रेगनेन्ट वुमन और उनके...

पत्नी की डिल...

पत्नी की डिलीवरी के बाद पुरुष के सामने होते...

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

वोट करने क लिए धन्यवाद

सारा अली खान

अनन्या पांडे

गृहलक्ष्मी गपशप

ऑनलाइन दोस्त...

ऑनलाइन दोस्ती के...

इंटरनेट के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर अगर आप भी बढ़ा चुके...

व्रत में लिए...

व्रत में लिए बना...

कई महिलाएं सावन का सोमवार करती हैं और ऐसे में उन दिनों...

संपादक की पसंद

प्रेग्नेंसी ...

प्रेग्नेंसी के दौरान...

प्रेगनेंसी में अक्सर हर कोई अपने क्या पहनने क्या नहीं...

क्रेश डाइट क...

क्रेश डाइट के क्या...

क्रैश डाइट क्या होता है और क्या ये इतना खतरनाक है कि...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription