प्रेग्नेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स से इन 5 तरीकों से पाएं छुटकारा

मोनिका अग्रवाल

23rd May 2020

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कई बदलाव आते हैं। इनमें से एक मां बनने के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स भी शामिल हैं। ज्यादातर महिलाओं को डिलीवरी के बाद , स्ट्रेच मार्क्स की समस्यायों को झेलना पड़ता है। प्रेग्नेंसी के दौरान पेट पर खिंचाव से स्ट्रेच मार्क्स आ जाते हैं।

प्रेग्नेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स से इन 5 तरीकों से पाएं छुटकारा

स्ट्रेच मार्क्स

ज्यादातर महिलाओं को डिलीवरी के बाद , स्ट्रेच मार्क्स की समस्यायों को झेलना पड़ता है।  प्रेग्नेंसी के दौरान पेट पर खिंचाव से स्ट्रेच मार्क्स आ जाते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कई बदलाव आते हैं। इनमें से एक मां बनने के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स भी शामिल हैं। स्ट्रेच तब होते हैं जब शरीर का वजन अचानक से बढ़ता है या फिर घटता है। प्रेग्नेंसी के दौरान जब बच्चा गर्भ में बढ़ता है तो त्वचा अपनी छमता से ज्यादा स्ट्रेच होती है और इससे कमर पर बुरे दिखने वाले स्ट्रेच मार्क्स उभर आते हैं।अगर समय रहते इन्हें हटाने का प्रबंध कर लिया जाए तो ठीक है वरना लंबे समय बाद इन्हें हटाना संभव नहीं होता है। इन्हें हटाने के लिए कई कैमिकल और सर्जिकल ट्रीटमेंट जैसे कि वस्कुलर लेज़र, फ्रैक्शनल लेज़र ट्रीटमेंट, एब्डोमिनोप्लास्टी(टमी टक) आदि उपलब्ध हैं लेकिन यह ट्रीटमेंट्स रिस्की होने के साथ-साथ खर्चीले भी होते हैं। इसलिए स्ट्रेच मार्क्स को हटाने के लिए अगर घरेलू नुस्खे अपनाए जाएं तो उससे बेहतर परिणाम सामने आते हैं। आइये नजर डालते हैं कुछ घरेलू उपायों पर…

स्ट्रेच मार्क्स

ऑइल मसाज से होगा फायदा

नारियल तेल, बादाम का तेल, एवोकाडो का तेल या सरसों का तेल स्ट्रेच मार्क्स को हटाने में बेहद फायदेमंद साबित होते हैं। दरअसल, तेल की मसाज से स्किन मोइस्चराइज होती है जिससे उसका लचीलापन बढ़ता है और स्ट्रेच मार्क्स जल्दी हटते हैं। साथ ही इनसे त्वचा को पोषण के साथ-साथ हाइड्रेशन भी मिलता है क्योंकि तेलों में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं। इसलिए स्ट्रेचिंग के बाद त्वचा में वापस कसाव लाना है तो दिन में दो बार मसाज जरूर करें। 

ऑइल मसाज

एलोवेरा

 स्ट्रेच मार्क्स को हटाने में एलोवेरा बहुत ही कारगर साबित होता है। एलोवेरा त्वचा की हीलिंग में सहायक होता है। इससे त्वचा हाइड्रेट भी होती है। आप बस एलोवेरा को काटकर उसका ताज़ा जेल निकाल लें फिर उसे प्रभावित त्वचा पर लगाकर कुछ मिनटों तक मसाज करें। फिर इसे धो लें। दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएँ।  

एलोवेरा

 हल्दी और चंदन का पेस्ट

हल्दी और चंदन त्वचा को कोमल और मुलायम और चमकदार बनाने के साथ-साथ प्रेग्नेंसी स्ट्रेच मार्क्स को हटाने में भी कारगर साबित होते हैं। चंदन की लकड़ी घिस लें और उसे हल्दी और पानी मिलाकर प्रभावित जगह पर लगा लें तो आपको स्ट्रेच मार्क्स कम होते दिखने लगेंगे।

हल्दी और चंदन का पेस्ट

कॉफ़ी

कॉफ़ी में कैफीन मौजूद होता है जो कि त्वचा के अंदर जाकर इसकी कोशिकाओं में रक्त के सर्कुलेशन को स्मूथ करता है। आप कॉफ़ी बीन्स को ऑलिव या नारियल तेल में मिलाकर स्ट्रेच मार्क्स के ऊपर लगाएं। कॉफ़ी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को प्रेग्नेंसी के दौरान हुए नुकसान को भरने में कारगर साबित होता है और इससे आपको फायदा देखने को मिलेगा।  

कॉफ़ी

बेकिंग सोडा और नींबू

 एक चम्मच नींबू के रस को एक चम्मच बेकिंग सोडा में मिलाएं और इस मिश्रण को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इसे 10-15 मिनट स्ट्रेच मार्क्स पर स्क्रब करें और हफ्ते में 3-4 बार इस प्रक्रिया को दोहराएँ। बेकिंग सोडा एक नैचुरल स्किन एक्सफोलियेटर होता है। यह डेड स्किन सेल्स की परत को हटाता है जबकि नींबू में ब्लीचिंग प्रॉपर्टी होती हैं जिससे स्ट्रेच मार्क्स दूर हटने में मदद मिलती है।

बेकिंग सोडा और नींबू

यह भी पढ़ें-

  1. इन तीन तरीकों से मिल्क पाउडर के जरिए कीजिए त्वचा की देखभाल, चमक उठेगा चेहरा

  2. मानसून में हेल्थ और स्वच्छता के लिए टिप्स 

  3. मोटापा कम करना चाहती हैं तो अपनाएं ये टिप्स 

  4. जब आसपास मौजूद लोग ना करें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो अपनाएं यह टिप्स 

  5. सेक्स के तुरंत बाद महिलाओं को इन्फेक्शन से बचने के लिए बरतनी चाहिए ये 4 सावधानियां 

  6. लॉकडाउन में इस तरह करें कलर्ड बालों की देखभाल

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

स्ट्रेच मार्...

स्ट्रेच मार्क्स से मुक्ति पाने के 6 घरेलू...

गर्मी में त्...

गर्मी में त्वचा की देखभाल

लॉकडाउन के द...

लॉकडाउन के दौरान पति-पत्नी अपने रिश्ते को...

ज़िद्दी मच्छ...

ज़िद्दी मच्छरों से बच्चे की सुरक्षा के लिए...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

रम जाइए 'कच्...

रम जाइए 'कच्छ के...

गुजरात का कच्छ इन दिनों फिर चर्चा में है और यह चर्चा...

घट-कुम्भ से ...

घट-कुम्भ से कलश...

वैसे तो 'कुम्भ पर्व' का समूचा रूपक ज्योतिष शास्त्र...

संपादक की पसंद

मां सरस्वती ...

मां सरस्वती के प्रसिद्ध...

ज्ञान की देवी के रूप में प्राय: हर भारतीय मां सरस्वती...

लोकगीतों में...

लोकगीतों में बसंत...

लोकगीतों में बसंत का अत्यधिक माहात्म्य है। एक तो बसंत...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription