जाने पीरियड्स की सही उम्र और उसके बाद लड़की के शरीर आने वाले बदलाव

Richa Mishra Tiwari

28th May 2020

हर लड़की को एक उम्र के बाद पीरियड्स होना शुरु हो जाते हैं। पीरियड्स होने के बाद हर लड़की के शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं। जिन लड़कियों को इस बारे में पहले से जानकारी नहीं होती वो शरीर में आ रहे नए बदलावों से घबरा जाती हैं। क्या आप जानती हैं कि पीरियड्स आने की सही उम्र क्या है।

जाने पीरियड्स की सही उम्र और उसके बाद लड़की के शरीर आने वाले बदलाव

हर लड़की को एक उम्र के बाद पीरियड्स होना शुरु हो जाते हैं। पीरियड्स होने के बाद हर लड़की के शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं। जिन लड़कियों को इस बारे में पहले से जानकारी नहीं होती वो शरीर में आ रहे नए बदलावों से घबरा जाती हैं। क्या आप जानती हैं कि पीरियड्स आने की सही उम्र क्या है। अगर आपको सही उम्र में पीरियड्य आने शुरू नहीं हुए तो इससे आपके शरीर को किस तरह के नुकसान हो सकते हैं। दिल्ली के नर्चर आईवीएफ सेंटर की एक्सपर्ट अर्चना धवन बजाज, कंसल्टेंट ऑब्स्टीट्रीशियन, गायनेकोलॉजिस्ट एंड आईवीएफ से जब हमने लड़कियों को पहली बार होने वाले पीरियड्स के बारे में पूछा तो उन्होंने हमें बेहद जरुरी जानकारी दी। 

पीरियड्स की सही उम्र क्या है

डॉक्टर अर्चना धवन बजाज ने बताया कि लड़कियों में आमतौर पर 10 साल से 14 साल की उम्र में पीरियड्स आने शुरु हो जाते हैं।

खतरा?

अगर लड़की को 9 साल में ही पीरियड्स आने शुरु हो जाएं या फिर देरी से पीरियड्स आने लगें तो इसका मतलब है कि आपके हार्मोन्स में कुछ कमी है जिसके लिए आपको डॉक्टर के पास जाकर अपना टेस्ट जरुर करवाना चाहिए। पीरियड्स जल्दी शुरू होना या देर से आने की कई वजह भी हो सकती हैं इसलिए आप लोगों की कही सुनी बातों से ज्यादा खुद डॉक्टर के पास जाकर इसकी सही वजह जरूर जानें। 

1) पीरियड्स आने के बाद में लड़की के शरीर में कई तरह के हार्मोन्स बदलाव आते हैं। 

2) लड़की को पीरियड्स आने के बाद उसके बालों की ग्रोथ पर असर पड़ता है। कई बार लड़की के बाल झड़ने लगते हैं तो कई बार बाल कुछ समय के लिए कम बढ़ते हैं। लेकिन ये जरुरी नहीं है कि हर लड़की के शरीर में ये बदलाव हो। हर किसी के हार्मोन्स के हिसाब से ही उनके शरीर में बदलाव आते हैं। 

3) ब्रेस्ट की शेप बननी शुरू हो जाती है। जब तक लड़कियों को पीरियड्स आने शुरू नहीं होते तब तक उनका शरीर एक जैसा ही लगता है लेकिन उसके बाद उनके शरीर के कुछ हिस्सों में खास बदलाव आने लगते हैं। ये बदलाव हर लड़की के लिए जरूरी होते हैं इसलिए इनसे घबराने की जरूरत नहीं है। 

4) त्वचा तैलिये होने लगती है। पीरियड्स के दौरान या उससे पहले कई लड़कियों को पिंपल्स हो जाते हैं। ये भी हार्मोन्स में बदलाव की वजह से ही होते हैं आपकी त्वचा ऑयली हो जाती है जिस वजह से पीरियड्स के दौरान मुंहासे होने का खतरा रहता है। 

5) हाइट बढ़ती है। अगर आपने नोटिस किया हो तो कई लड़कियों की हाइट एक दम से एक उम्र के बाद बढ़नी शुरू होती है। लड़कियों की हाइट खासकर पीरियड्स आने के बाद काफी बढ़ती है। पहली बार पीरियड्स आने पर घबराने की जरुरत नहीं है। 

 

पहली बार पीरियड्स के समय 

डॉक्टर अर्चना धवन बजाज ने बताया कि अकसर लड़कियों को जब पहली बार पीरियड्स होते हैं तो उन्हें कुछ खास बातों का ध्यान जरुर रखना चाहिए। साफ-सफाई का ध्यान रखें। गंदे कपड़े ना पहनें और साफ सेनीटरी नेपकिन का इस्तेमाल करें। पीरियड्स के दौरान डेली नहाएं। इस दौरान इन्फेक्शन होने का खतरा होता है इसलिए साफ-सफाई का खास ख्याल रखना जरूरी है। 

पीरियड्स के दौरान क्या खाएं क्या ना खाएं 

लड़कियां अकसर ये जरूर जानना चाहती हैं कि पीरियड्स के दौरान क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए। हमने जब ये सवाल डॉक्टर अर्चना से पूछा तो उन्होंने बताया कि ऐसा कुछ नहीं है आप सब खा सकती हैं। खाने पीने का कोई परहेज नहीं होता। जितना हो सके इस दौरान हेल्दी डायट जरुर लें।

जिन्हें वॉटर रिटेंशन की दिक्कत है उन्हें इस दौरान चीनी, नमक, कॉफी, चॉकलेट कम लेने चाहिए ऐसे नहीं है कि खाएं ही नहीं अगर आपको ये दिक्कत रहती है तो आप इस दौरान इन चीज़ों को कम कर सकती हैं। 

ज्यादा मिर्ची मसाले वाला खाना या तेल वाला खाना चाहें तो इस दौरान कम कर दें खासकर तब जब आपकी स्किन सेंसिटिव हो तो क्योंकि हो सकता है कि शरीर में आ रहे नए बदलावों से मिर्ची की वजह से एलर्जी महसूस हो।

यह भी पढ़ें -पीरियड्स यानी मासिक धर्म में कैसा हो खान-पान

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें-editor@grehlakshmi.com

 

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

उन दिनों को ...

उन दिनों को कैसे बनाएं सुरक्षित

माहवारी चक्र...

माहवारी चक्र मिथक और सत्य

लॉकडाउन स्ट्...

लॉकडाउन स्ट्रेस - महिलाएँ कैसे करें इसका...

कहीं पीरियडस...

कहीं पीरियडस में दर्द का कारण ये तो नहीं...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

क्या है वॉटर...

क्या है वॉटर वेट?...

आपने कुछ खाया और खाते ही अचानक आपको महसूस होने लगा...

विजडम टीथ या...

विजडम टीथ यानी अकल...

पिछले कुछ दिनों से शिल्पा के मुंह में बहुत दर्द हो...

संपादक की पसंद

नारदजी के कि...

नारदजी के किस श्राप...

कहते हैं कि मां लक्ष्मी की पूजा करने से पैसों की कमी...

पहली बार खुद...

पहली बार खुद अपने...

मेहंदी लगाना एक कला है और इस कला को आजमाने की कोशिश...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription