रिश्तेदार ही बन जाए बॉस तो ऐसा हो आपका 'स्टैंड'

चयनिका निगम

5th June 2020

ऑफिस में कम करने का अच्छा माहौल बहुत जरूरी होता है। लेकिन कोई रिश्तेदार ही आपका बॉस बन जाए तो...

रिश्तेदार ही बन जाए बॉस तो ऐसा हो आपका 'स्टैंड'
पांच साल से स्वाति एक ही संस्थान में नौकरी कर रही हैं। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है, जब उन्हें खुद की छवि की चिंता हो रही है। काम में सबकी चहेती स्वाति को आखिर इतना क्यों सोचना पड़ रहा है। क्योंकि उनके नए बॉस उनकी मामी के भतीजे हैं। जी हां, पहली बार उनका बॉस उनका ही एक रिश्तेदार है। स्थिति ऐसी है कि अभी तक बॉस एक साथ सीनियर-जूनियर वाला व्यवहार रखने वाली स्वाति अब इस सोच में हैं कि बॉस से बात कैसे करेंगी? कहीं वो स्वाति के व्यवहार के हिसाब से ही उनकी फैमिली के बारे में कोई राय तो नहीं बना लेंगे? परिवार की औरतों के बीच होने वाली गॉसिप को इससे बढ़ावा तो नहीं मिल जाएगा। बस इन्हीं उधेड़बुन में आजकल उनका दिन कट रहा है। लेकिन वो बेकार टेंशन में हैं, वो तो आसान तरीके से इस स्थिति को हैंडल कर सकती हैं। आसान तरीका क्या है, जान लीजिए-
प्रोफेशनल और पर्सनल-
ये तो हमेशा से ही कहा जाता है कि प्रोफेशनल और पर्सनल को हमेशा अलग-अलग रखना चाहिए। जब रिश्तेदार ही बॉस बन जाए तो भी यही फलसफा आजमाइए। उनसे जब ऑफिस में मिलिए तो उन्हें बॉस कहिए, फिर जब पारिवारिक कार्यक्रमों में मिलिए तो परिवार की तरह ही मिलिए। उन्हें लगे ही न कि आप वही ऑफिस वाली मेहनती लड़की हैं। बल्कि उन्हें आपका ऑफिस से बाहर का अलहदा रूप नजर आए। देखिएगा कैसे, वो घर की बात ऑफिस में और ऑफिस की बात घर पर करने के बारे में सोचेंगे भी नहीं। 
परिवार अलग, ऑफिस अलग-
रिश्तेदार अगर बॉस बनकर आ जाए तो एक चिंता और बढ़ जाती है कि आपकी छवि आपके परिवार की छवि से जोड़ कर देखी जाएगी। आप सोचती होंगी कि अब आप कोई गलती करेंगी तो बॉस सोचेंगे कि आपके माता-पिता ने कुछ सिखाया नहीं। या वो आप पर थोड़ा भी ध्यान नहीं देते। मगर इस जगह पर आप गलत हैं। अगर बॉस थोड़ा भी प्रोफेशनल होंगे तो वो परिवार और आपकी प्रोफेशनल छवि को हमेशा अलग-अलग करके ही देखेंगे। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो वो गलत करते हैं और आपको फिर उनकी इस आदत के बारे में सोचना भी नहीं चाहिए। उन्हें उनके हाल पर छोड़ देना ही सही रहेगा। 
आपको फायदा?-
इस वक्त दोस्तों को लग सकता है कि आपको रिश्तेदार के बॉस बन जाने का कोई ना कोई फायदा मिलेगा ही। ये स्थिति आपके सामने आ ही सकती है। इसकी संभावना पूरी है। इसलिए इसका सामना कैसे करेंगी? ये जरूर आप चाहें तो प्लान कर सकती हैं। वैसे तो किसी को भी जवाब देने के लिए आप बाध्य नहीं हैं लेकिन फिर भी अगर जवाब देना पड़े तो खुद को साबित करने की तैयारी करिए। जैसे मीटिंग में अपना बेस्ट दीजिए। काम में 100 प्रतिशत देना भी आपकी काबलियत साबित करेगा। लोगों को दिखेगा कि बॉस कोई भी हो आप बेस्ट हैं हीं।

ये भी पढ़ें-

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

ससुराल में ऐ...

ससुराल में ऐसे बताएं, कितनी अच्छी हैं आप...

जब गोद लें ब...

जब गोद लें बच्चा तो ऐसे सिखाएं उसे प्यार...

पापा बनें बे...

पापा बनें बेस्ट जब मां की मिले मदद

शादी हो धमाल...

शादी हो धमाल, गिफ्ट हों कमाल

पोल

आपकी पसंदीदा हिरोइन

गृहलक्ष्मी गपशप

पहली बार घर ...

पहली बार घर रहे...

लाॅकडाउन से पहले अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी रीलीज़...

अनलाॅक 2 में...

अनलाॅक 2 में 31...

मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स ने कहा है कि जो डोमैस्टिक...

संपादक की पसंद

गुरु एक सेतु...

गुरु एक सेतु है,...

गुरु तो एक सेतु है, एक संभावना है। गुरु एक तरह की रिक्तता...

दिल जीत लेंग...

दिल जीत लेंगे जयपुर...

जयपुर को गुलाबी शहर कहा जाता है लेकिन ये महलों का शहर...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription