खाएं इन दालों से तैयार एक कटोरी स्प्राउट्स और रहें हेल्दी

Jyoti Sohi

13th June 2020

अंकुरित भोजन में मैग्नीशियम, कॉपर, फोलेट, राइबोफ्लेविन, विटामिन, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी -6, नियासिन, थायमिन और प्रोटीन होता है। अंकुरित दालों का सेवन सुबह यां शाम के नाश्ते में सबसे फायदेमंद माना जाता हैं और इनमें दो यां तीन प्रकार की दालें और सब्जियां मिलाकर खा सकते हैं।

खाएं इन दालों से तैयार एक कटोरी स्प्राउट्स और रहें हेल्दी
हेल्दी और झटपट नाश्ते की बात करें, तो ज़हन में सबसे पहले अंकुरित भोजन का ही ख्याल आता है। इसे चाहे नाश्ते के तौर पर लें, सलाद के तौर पर खाएं या फिर सूप के रूप में। हर तरह से ये हमारे शरीर को पौष्टिकता प्रदान करता है।  अंकुरित भोजन में मैग्नीशियम, कॉपर, फोलेट, राइबोफ्लेविन, विटामिन, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी -6, नियासिन, थायमिन और प्रोटीन होता है। 
अंकुरित दालों का सेवन सुबह यां शाम के नाश्ते में सबसे फायदेमंद माना जाता हैं और इनमें दो यां तीन प्रकार की दालें और सब्जियां मिलाकर खा सकते हैं।
पहला - गेहूं और काले चने
सबसे पहले गेहूं और काले चनों को अंकुरित करके एक साथ लिया जा सकता है। इसके अलावा इसमें बारीक कटी हुई गाजर, खीरा और उबले हुए आलू भी मिला सकते हैं।
खड़े अनाज व दालों के अंकुरण में आयरन और कार्बोहाइड्रेटस के साथ प्रोटीन जैसे पोषक तत्व भी मिलते है। दरअसल, प्रोटीन की मदद से आयरन आसानी से शरीर में घुल जाता है और शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है। सब्जियां मिलाने से विटामिन सी, और आयरन की मात्रा दोगुनी हो जाती है। इसके साथ ही शरीर में विटामिन ए के निर्माण में सहायक केरोटीन की मात्रा में भी वृद्धि होती है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी इज़ाफा होता है और शरीर के हानिकारक तत्वों को बाहर निकालने में मदद मिलती है। 
दूसरा- ज्वार और मोठ
इसके अवाला ज्वार और मोठ को भी एक साथ अंकुरित करके खा सकते हैंे। इसके साथ साथ मटर, टमाटर, गाजर, खीरा ककड़ी और नींबू मिलाकर खाना स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक होता है। 
इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में होता है। इसे खाने के बाद आपका पेट भर जाता है। इसके अलावा टमाटर यां नींबू के सेवन से अंकुरित भोजन में मौजूद आयरन षरीर में ही घुल जाता है। 
त्वचा पर दिखाई देने वाले बढ़ती उम्र के निशान को दूर करने के लिए भी आहार को अंकुरित करके खाया जाता है। 
तीसरा - सोयाबीन और मकई के दाने
अंकुरित सोयाबीन और मकई के दाने भी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। इसके अलावा पौष्टिकता को बढ़ाने के लिए ब्रोकली, मटर और धनिया मिला सकते हैं। इससे शरीर को एंटी आॅक्सीडेंटस की भरपूर मात्रा मिलती है। 
इसमें दूध और अंडे से कहीं ज्यादा प्रोटीन पाया जाता है। इसके अलावा रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने का काम करता है। वहीं मकई के दानों से बदहज़मी, गैस और कब्ज जैसी बीमारियां दूर होती हैं। बच्चों की सेहत के लिए भी बेहद फायदेमंद है।
अंकुरित भोजन खाते समय बरतें सावधानियां
राजमा को कभी भी अंकुरित करके नहीं खाना चाहिए। अंकुरित राजमा विषैला हो सकता है। 
अधिक मात्रा में स्प्राउटस खाना नुकसानदेह है।
यदि एलर्जी की समस्या है, तो स्प्राउटस नहीं खाने चाहिए। 
यदि अंकुरित भोजन खाने से पेट दर्द यां फिर गैस होती है, तो इन्हें लहसुन और टमाटर के साथ मिलाकर खास जा सकता है।
अंकुरित भोजन को हमेशा भूनकर खाएं।
इसके अलावा माइक्रोओरगेनिज़म की मात्रा को बढ़ने से रोकने के लिए अंकुरित आहार को खाने से पहले गर्म पानी में डालें और फिर छानकर सेवन करें।
अंकुरित भोजन के फायदे
मधुमेह के रोगी
अंकुरित मूंग की दाल में ग्लूकोज़ लेवल बहुत कम पाया जाता है। इसकी वजह से मधुमेह के रोगी इसे आसानी से खा सकते हैं। अंकुरित दाल में ऐसे गुण होते हैं, जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देते हैं। 
नाश्ता-आमतौर पर अंकुरित अनाज नाश्ते के रूप में लिया जाना चाहिए। आपको नाश्ता हैवी करना चाहिए। ऐसे में आप अंकुरित अनाज से नाश्ता करेंगे तो आपको बहुत फायदा होगा। इतना ही नहीं आप यदि सोयाबीन, काले चने, मूंग दाल, मोंठ, इत्यादि को अंकुरित करके खाएंगे तो इन खाघ पदार्थों में मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा दोगुनी हो जाएगी।
पाचन तंत्र बनता है मजबूत-अंकुरित अनाज खाने से आपकी पेट संबंधी समस्याएं दूर हो जाती हैं। फाइबरयुक्त रेशेदार अंकुरित अनाज खाने से आपका पाचनतंत्र मजबूत बनता है।
पोषक तत्वों से भरपूर-अंकुरित अनाज एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन ए,बी,सी, ई से भरपूर होता है। इतना ही नहीं इसमें फास्फोरस, आयरन, कैल्शियम, जिंक और मैग्नीशियम जैसी पौष्टिक तत्व भी होते हैं। एंटीऑक्सीडेंट से जहां व्यक्ति का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है वहीं कैल्शियम से हड्डियों में ताकत आती है। आयरन रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में सहायक है। अन्य पोषक तत्व व्यक्ति को स्वस्थ और फिट रखने में कारगर है।
प्रोटीन युक्त -अंकुरित अनाज में बहुत सारे प्रोटीन होते हैं जो कि शरीर को मजबूत रखने और बीमारियों से बचाने के लिए जरूरी है।
कम कैलोरी युक्त -अंकुरित अनाज में कैलोरी बहुत कम होती है जो कि मोटे लोगों के लिए बहुत फायदेमंद हैं। इतना ही नहीं जो लोग नहीं चाहते कि उनका वजन बढ़े, उन्हें भी अंकुरित अनाज खाना चाहिए।
अंकुरित अनाज के अन्य फायदे 
यह रक्त को साफ करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
यह एक प्राकृतिक पौष्टिक आहार है, इसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं है।
यह वसायुक्त है और व्यक्ति को मोटापे से बचाता है।
यह बहुत ही स्वादिष्ट फूड है।
इस आसानी से पचाया जा सकता है।
दालों इत्यादि को अंकुरित करने से इनकी पौष्टिकता अधिक बढ़ जाती है।
व्यक्ति को चुस्त-दुरूस्त और स्वस्थ रहने के लिए अंकुरित अनाज से बढ़िया कोई उपाय नहीं।
यदि आपको भूख ना लगने की समस्या है तो अंकुरित अनाज खाकर इस समस्या को हल किया जा सकता है।
नवजात शिशु में मानसिक, शारीरिक दुर्बलताओं को दूर किया जा सकता है यदि गर्भवस्था के दौरान महिला अंकुरित अनाज का सेवन करती है।
अंकुरित अनाज को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसमें टमाटर,प्याज,धनिया,खीरा,नींबू,काली मिर्च और नमक जैसी चीजों को मिलाया जा सकता है।
अंकुरित भोजन पाचन तंत्र को मज़बूत बनाता है। इसमें फाइबर की बहुत अधिक मात्रा होती है, जो पाचन क्रिया को स्वस्थ बनाए रखती है। 
अंकुरित अनाज में कई प्रकार के प्रोटीन पाए जाते हैं, जिसकी वजह से शरीर को ताकत मिलती है और माॅसपेशियां भी मज़बूत होती हैं। 
कैसे करें अंकुरित
मूंगदाल के दानों को पानी में डालकर अच्छी तरह से धो लें, ताकि जह़रीले पदार्थ पूरी तरह से निकल जाएं।
इस बाद अंकुरित करने वाली दाल का पानी में भिगोएं।
धुली हुई मूंग को किसी साफ यां स्वच्छ बर्तन यां कटोरे में रखें और दाल की जितनी मात्रा हो, उससे दो यां तीन गुना पानी ज्यादा होना चाहिए।
6 से 12 घंटे के बीच दाल फूल जाती है। मगर कभी कभी बाहरी तापमान यां फिर दाल का प्रकार इस प्रक्रिया को प्रभावित करता है। 
दाल अंकुरित होने के बाद जिस पानी में दाल डूबी है उसे अच्छी तरह से निकाल दें और एक मलमल के कपड़े में बांध दें
अब बंधे हुए भोजन को 8 से 9 घंटे के लिए छोड़ दें।
आपके खाने के लिए स्प्राउटस तैयार हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

प्रोटीन से क...

प्रोटीन से कैसे बढ़ाएं इम्यूनिटी, क्यों है...

ये हैं भारती...

ये हैं भारतीय आहार में शामिल होने वाली पांच...

जानें कैसे प...

जानें कैसे प्रोटीन युक्त आहार खाने से वजन...

त्वचा की समस...

त्वचा की समस्यांए,,,, कहीं आप कुपोषित तो...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

टमाटर से फेस...

टमाटर से फेस पैक...

 अगर आपको भी त्वचा से संबंधी कई तरह की परेशानी है तो...

पतले और हल्क...

पतले और हल्के बालों...

 तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता...

संपादक की पसंद

टीवी की आदर्...

टीवी की आदर्श सास,...

हर शादीशुदा महिला के लिए करवा चौथ का त्योहार बेहद ख़ास...

मैं एक बदमाश...

मैं एक बदमाश (नॉटी)...

आप लॉकडाउन कितना एन्जॉय कर रही है... मेरे लिए लॉकडाउन...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription