ब्राइडल मेकअप के लिए चुनना हो सैलून तो आजमाएं ये टिप्स

चयनिका निगम

23rd June 2020

शादी के लिए ब्राइडल लुक तो बेस्ट होना चाहिए। मगर इस बेस्ट का चुनाव होगा कैसे? तरीका बहुत कठिन नहीं है। कुछ टिप्स आपको ध्यान रखने होंगे।

ब्राइडल मेकअप के लिए चुनना हो सैलून तो आजमाएं ये टिप्स
आपकी शादी बिलकुल तय है बस अब कोरोना का असर कम होने का इंतजार है। पर तैयारियां तो चल ही रही होंगी। कभी कपड़ों की शॉपिंग तो कभी वेन्यू का निर्णय...कभी कैटरर से बातचीत तो कभी खुद के लुक को लेकर ढेरों सवाल। ये दौर कई सारे निर्णय लेने का है। इन्हीं निर्णयों में से एक है ब्राइडल आर्टिस्ट का चुनाव। कौन आपको तैयार करेगा? इस सवाल के जवाब में छुपे हैं कई सारे दूसरे सवालों के जवाब भी, जैसे आपका लुक कैसा आएगा? आपके चेहरे के हिसाब से मेकअप हो पाएगा या नहीं, आप सबसे सुंदर दुल्हन लगेंगी या नहीं? अब अगर ये जवाब साकारत्मक चाहिए तो आपको ब्राइडल आर्टिस्ट का चुनाव बहुत सलीके से करना होगा। आपको ब्राइडल आर्टिस्ट के चुनाव के समय कुछ टिप्स ध्यान रखने होंगे। ध्यान रखना होगा कि आप जो चुनें वो आपके लिए बेस्ट हो-
विज्ञापन पर ना जाएं-
अक्सर वेडिंग सीजन आते ही शहर भर में सैलून के विज्ञापन लग जाते हैं। जिनमें कई सारे डिस्काउंट और ऑफर देकर ब्राइडल मेकअप वहीं से कराने का लालच दिया जाता है। जबकि इन विज्ञापनों को सच मान लेना आपको सिर्फ पछतावा ही करवाएगा। आपको इनकी फैन्सी टैगलाइन से बच कर रहना होगा। इसके लिए उन दोस्तों से संपर्क करें जिन्होंने इन जगहों पर कभी कुछ ट्रीटमेंट करवाया हो। उनसे उनके अनुभवों के आधार पर ही निर्णय लें ना कि विज्ञापनों को सच मान कर। 
सैलून की सुंदरता-
आपको एक्सपर्ट कैसे तैयार करेगा? इसका सैलून की सुंदरता से कोई लेना-देना नहीं होता है। बल्कि पार्लर भले ही छोटा हो लेकिन इसमें साफ-सफाई, सुविधाएं और अच्छे एक्सपर्ट की मौजूदगी ज्यादा जरूरी होती है। 
पार्लर में ज्यादा समय-
जब भी पार्लर का चुनाव करने के लिए निकलें तो थोड़ा ज्यादा समय साथ लेकर जाएं। याद रखें पार्लर को चुनते समय कभी जल्दी में ना रहें। इस काम का निर्णय लेने में थोड़ा ज्यादा समय भी लग सकता है। इसलिए जल्दी में ये काम करने से अच्छा है कि थोड़ा रुकें और सोच-समझ कर ही बेस्ट वाले को चुन लें। 
आपकी बात सुन रहे-
आप जिस भी सैलून में विजिट करें, वहां लोग आपकी बात कितनी सुन रहे हैं, इस बात को तवज्जो दें। ध्यान दें आपकी राय उनके लिए जरूरी है या नहीं। क्या वो आपकी बातों को काट कर आगे बढ़ जाती हैं या फिर आपकी राय के आधार पर ही आगे के निर्णय लिए जा रहे हैं। अगर सामने वाला आपकी बात सुन रहा है तो समझ लीजिए कि यहां आपके हिसाब से ही चीजें होंगी। 
साफ-सफाई-
आपको पार्लर की एक जरूरी चीज पर ध्यान देना होगा। आपको देखना होगा कि वहां पर साफ-सफाई कैसी है? तौलीए साफ इस्तेमाल किए जाते हैं या नहीं। समय-समय पर सेनीटाइजेशन हो रहा है या नहीं। या फिर हाथों के हाइजीन पर ध्यान देना भी एक जरूरी काम होता है। 

यह भी पढ़ें -Wedding Special: देखिए स्टाइलिश वरमाला

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

नई नवेली दुल...

नई नवेली दुल्हन को टिप्स

मल्टीटास्किं...

मल्टीटास्किंग के साइड-इफेक्ट्स

Wedding Spec...

Wedding Special: देखिए स्टाइलिश वरमाला

सेहतमंद रहे ...

सेहतमंद रहे रिश्ता

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

बच्चे के बार...

बच्चे के बारे में...

माता-पिता बनना किसी भी वैवाहिक जोड़े के लिए किसी सपने...

धन की बरकत क...

धन की बरकत के चुंबकीय...

पैसे के लिए पुरानी कहावत है जो आज भी सही है कि "बाप...

संपादक की पसंद

परिवार के सा...

परिवार के साथ करेंगे...

कोरोना काल में हम सभी ने अच्छी सेहत के महत्व को बेहद...

इन डीप नेक ब...

इन डीप नेक ब्लाउज...

यूं तो महिलाएं कई तरह के वेस्टर्न वियर को अपने वार्डरोब...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription