हर माता पिता के लिए एक प्रेरणा है-नीना गुप्ता का यह विडियो(celebrity parenting)

मोनिका अग्रवाल

3rd July 2020

नीना की बेटी मसाबा गुप्ता एक प्रसिद्ध फैशन डिज़ाइनर हैं।जिन का खुद का एक ब्यूटी ब्रांड है। नीना ने अपनी बेटी के ब्रांड को बहुत बार सपोर्ट किया है .

हर माता पिता के लिए एक प्रेरणा है-नीना गुप्ता का यह विडियो(celebrity parenting)

अभिनेत्री नीना गुप्ता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। उन्होंने अपनी बेटी को एक सिंगल पेरंट बन कर पाला है जिस वजह से उन्हें बहुत सी प्रशंसा मिली है। अब इस 60 वर्षीय अभिनेत्री ने एक रोचक टोपिक की शुरूआत की है कि हर मां बाप को अपने बच्चे की प्रशंसा व केयर करने की जरूरत है। इस विचार धारा को हर मां बाप को अपनाना चाहिए। 

ब्यूटी ब्रांड है

नीना की बेटी मसाबा गुप्ता एक प्रसिद्ध फैशन डिज़ाइनर हैं।जिन का खुद का एक ब्यूटी ब्रांड है। नीना ने अपनी बेटी के ब्रांड को बहुत बार सपोर्ट किया है और दोनों के बीच एक बहुत प्यारा रिश्ता है।  हाल ही में नीना ने एक विडियो शेयर किया है जिस में वह अपनी बेटी के सफल करियर की बहुत सराहना कर रही हैं। वह विडियो में बता रही हैं कि उन को अपनी बेटी पर बहुत गर्व है। 

विडियो में नीना ने बताया कि कैसे उन की बेटी ने फैशन जगत में चढ़ाई की। विडियो में उन्होंने मसाबा द्वारा डिज़ाइन की गई ही एक ड्रैस पहनी थी। वह विडियो इस बारे में ही थी कि हमें कैसे अपने बच्चों का हर चीज में साथ देना चाहिए ताकि उन्हें महसूस हो कि पेरेंट्स बच्चों से कितना प्यार करते हैं। 

बच्चों को  ट्रीट करना

नीना ने बताया कि कैसे वो और उन के भाई उन के घर वालों के साथ लड़ते झगड़ते थे।उन्हें उतना प्यार व दुलार नहीं मिलता था जितना मिलना चाहिए। नीना ने अपनी बेटी के साथ बिलकुल ऐसा नहीं किया। नीना के फाॅलोअर्स ने नीना को इस बात के लिए सराहा है और कहा है कि हर माता पिता को नीना से प्रेरणा लेनी चाहिए और अपने बच्चों को इसी तरह ट्रीट करना चाहिए। 

अभिनेत्री नीना गुप्ता

सिंगल पेरेंट होने में गिल्ट

पिछले एक इंटरव्यू में नीना गुप्ता ने कहा था कि उन्हें सिंगल पेरेंट होने में गिल्टी महसूस होता था। उन्होंने कहा कि यह मसाबा के लिए बिलकुल भी ठीक नही था। सिंगल पेरेंट होना बच्चे के लिए अनफेयर होता है। उन्हें लगता था कि यह उन का स्वार्थ है ( नीना का )। नीना के कुछ फ्रैंड्स ने भी उस को कहा कि सिंगल पेरेंट होना बच्चे के लिए अनफेयर होता है। पर उस वक्त कौन सुनता है सब अंधे होते हैं। नीना कहती हैं कि अपनी बच्ची को अकेला व दुखी देख कर उन्हे भी बुरा लगता था। वह चाहतीं थी कि मसाबा के लिए कोई भाई-बहन हो लेकिन परिस्थितियों ने उन का साथ नहीं दिया। 

नीना गुप्ता हर माता पिता के लिए एक प्रेरणा हैं। 

यह भी पढ़ें- 

  1. कोडिपेंडिंग पेरेंटिंग टिप्स और सलाह

  2. बच्चे को गलती की सजा से भी मिल सकती है सीख और सबक, अपनाएं ये टिप्स

  3. बच्चों की डाइट और फिजिकल एक्टिविटी का रखें ध्यान,लॉकडाउन में

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

गृहलक्ष्मी क...

गृहलक्ष्मी के साथ खूबसूरत अदाकारा पौलोमी...

माता पिता सि...

माता पिता सिर्फ़ बेटे की ज़िम्मेदारी नहीं...

बच्चों के लि...

बच्चों के लिए कुछ बातें जानना है जरूरी, जानें...

कहीं आपका बच...

कहीं आपका बच्चा झगड़ालू तो नहीं

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

घर पर वाइट ह...

घर पर वाइट हैड्स...

वाइट हैड्स से छुटकारा पाने के लिए 7 टिप्स

बच्चे पर मात...

बच्चे पर माता-पिता...

आपकी यह कुछ आदतें बच्चों में भी आ सकती हैं

संपादक की पसंद

तोहफा - गृहल...

तोहफा - गृहलक्ष्मी...

'डार्लिंग, शुरुआत तुम करो, पता तो चले कि तुमने मुझसे...

समझौता - गृह...

समझौता - गृहलक्ष्मी...

लेकिन मौत के सिकंजे में उसका एकलौता बेटा आ गया था और...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription