जानें कौन सी उंगली देती है अशुभ संकेत

Jyoti Sohi

3rd March 2021

हमारी उंगलियों की बनावट, और उनका आकार भी हमारे जीवन से जुड़ी कई जरूरी जानकारी हमें देती हैं। हस्तरेखा शास्त्र में हथेली की रेखाओं और बनावट से व्यक्ति के जीवन और भविष्य में आने वाली परिस्थितियों से जुड़ी तमाम बातों की भविष्यवाणी की जाती है। वहीं, हाथ की उंगलियां भी व्यक्ति का भाग्य बताने में मदद करती हैं।

जानें कौन सी उंगली देती है अशुभ संकेत
कहते हैं कि हमारे हाथों की लकीरें हमारा भविष्य ब्यां करती हैं और जीवन में हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती हैं। दरअसल, हमारे हाथों की हथेलियों में कई तरह की रेखाएं होती है जो हर व्यक्ति के जीवन काल में हर विषय की भविष्यवाणी करते है। चाहे करियर हो यां लव लाईफ, स्वास्थ्य हो यां सम्पंति। ये रेखाएं जीवन से जुड़ी सभी अहम जानकारियां हम तक पहुंचाती है। अब इन्हीं रेखाओं के साथ साथ हमारी उंगलियों की बनावट, और उनका आकार भी हमारे जीवन से जुड़ी कई जरूरी जानकारी हमें देती हैं। हस्तरेखा शास्त्र में हथेली की रेखाओं और बनावट से व्यक्ति के जीवन और भविष्य में आने वाली परिस्थितियों से जुड़ी तमाम बातों की भविष्यवाणी की जाती है। वहीं, हाथ की उंगलियां भी व्यक्ति का भाग्य बताने में मदद करती हैं। हाथ की कनिष्ठिका, अनामिका, मध्यमा, तर्जनी और अंगूठा इन पांचों उंगलियों का व्यक्तित्व से गहरा संबध होता है। आइए जानते हैं, वो कौन से उंगलियां है, जिनकी बनावट हमारे लिए शुभ और अशुभ संकेत लेकर आती हैं।  
तर्जनी उंगली 
हस्तरेखा के अनुसार यदि किसी व्यक्ति की तर्जनी उंगली अनामिका से छोटी हो तो ये अशुभ संकेत है। माना जाता है कि ऐसे लोग जल्दी निराश और उदास हो जाते हैं। साथ ही अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में दूसरों को नुकसान पहुंचने की भी परवाह नहीं करते है। इस तरह के लोग बेहद स्वार्थी भी होते हैं।
अगर किसी जातक की तर्जनी उंगली मध्यमा से अधिक लंबी हो तो ऐसे व्यक्ति काफी लकी होते हैं। हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार ये जिस भी काम को हाथ में लेते हैं उसे पूरा करके ही दम लेते हैं। इन्हें हर क्षेत्र में सफलता मिलती है। वहीं जिन लोगों की तर्जनी अनामिका के बराबर होती है वह बेहद ईमानदार और वफादार होते हैं।
हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार अगर किसी जातक की तर्जनी उंगली मध्यमा की ओर मुड़ी हुई हो तो यह अशुभ संकेत माना जाता है। मान्यता है कि ऐसे व्यक्ति निराशावादी होते हैं। कहते हैं कि अगर थोड़ा सा भी वाद विवाद हो जाए तो यह अपना सिर पकड़कर बैठ जाते हैं। या फिर अगर एक बार किसी काम में इन्हें सफलता न मिले तो यह फिर कभी उठकर खड़े नहीं होते। यानी कि छोटी सी असफलता से इन्हें स्ट्रेस हो जाता है।
6 उंगलियों वाले लोग 
हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार 6 उंगलियों वाले लोग बड़े ही भाग्यशाली होते है। कुछ हाथों में छोटी उंगली के पास छठी उंगली होती है और वहीं कुछ हाथों में अंगूठे के पास में होती है। हाथों के अलावा कुछ लोगों के पैरों में भी 6 उंगलियां होती है।
हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार जिन लोगों के हाथ में 6 उंगलियां होती हैं वह काफी भाग्यशाली होते हैं। ऐसा व्यक्ति अधिक फायदा कमाने वाला होता है। ऐसे व्यक्तियों का दिमाग काफी तेज चलता है। ये लोग अपना काम पूरी मेहनत और ईमानदारी से करते है।
अनामिका उंगली
अनामिका और तर्जनी की लंबाई बराबर होना दर्शाता है कि व्यक्ति स्वतंत्रताप्रिय है। ऐसा व्यक्ति अपने काम में किसी का हस्तक्षेप पसंद नहीं करता है और न दूसरों के काम में दखलंदाजी करता है। यह अपने व्यक्तिगत जीवन में खुश रहते। जिनकी अनामिका उंगली मध्यमा के बारबार होती है वह स्वार्थी और धूर्त होते हैं। ऐसे लोग परंपरा और नैतिकता को ताक पर रखकर कई कार्य कर बैठते हैं। अनामिका उंगली का छोटा होना हस्तरेखा में अच्छा नहीं माना जाता है।
जिनकी अनामिका उंगली छोटी होती है वह ठगी, चोरी एवं कला का गलत इस्तेमाल करके धन कमाने की प्रवृति रखने वाले व्यक्ति होते हैं। अनामिका उंगली का झुकाव छोटी उंगली की ओर होने पर व्यक्ति व्यवसाय के माध्यम से खूब धन अर्जित कर सकता है। 
सूर्य की उंगली के पहले पोर पर तिल
सूर्य की उंगली पर तिल का मतलब है कि ऐसे व्यक्ति को समाज से सम्मान खोने की संभावना है और यह उनके द्वारा किए गए गलत कार्यों और निर्णयों के कारण होगा। जिन लोगों के इस स्थान पर तिल होता है वे गर्म दिमाग के भी होते हैं।
 
सूर्य की उंगली के दूसरे पोर पर तिल
ऐसा कहा जाता है कि जिन लोगों के इस स्थान पर तिल होता है उनके दूसरे लोगों से रिश्ते कमज़ोर होते हैं साथ ही ऐसे लोगों की सामाजिक प्रतिष्ठा को भी नुकसान होता है।
सूर्य की उंगली के तीसरे पोर पर तिल
ऐसा देखा गया है कि जिन लोगों के इस स्थान पर तिल होता है उनके अंदर आत्मविश्वास कमी और मन से सम्बंधित समस्याएं रहती है। इसका यह भी मतलब है कि वह व्यक्ति लालच में आके कोई काम करेगा और कुछ दिनों तक फ़ायदा भी उठाएगा लेकिन लंबे समय के लिए नहीं।
सूर्य के पर्वत पर एक तिल
ऐसा कहा जाता है कि जिन व्यक्ति के इस स्थान पर तिल होता है उनके अपने पिता या सागे भाई.बहनों से रिश्ते ख़राब हो जाते हैं। साथ ही ऐसे लोगों को उनकी प्रतिष्ठा को लेकर भी सावधान रहना चाहिए।
बुध की उंगली के पहले पोर पर तिल
जिन लोगों के बुध की उंगली के पहले पोर पर तिल होता है वे पैसा खूब कमाते हैं और इसी से वे लालची हो जाते हैं। इसलिए ये आर्थिक रूप से संबृद्ध होते हैं।
अंगूठे के पहले पोर पर तिल
ऐसे लोग में निर्णय लेने की क्षमता कम होती है साथ ही इनमें सहज शक्ति नहीं होती है। इनको चुनौतियों से डर लगता है और ये निर्णय लेने में कमजोर होते हैं।
अंगूठे के दूसरे पोर पर तिल
ऐसा कहा जाता है कि जिन लोगों के अंगूठे के दूसरे पोर पर तिल होता है उन्हें यात्रा से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन ये बहुत कल्पनाशील होते हैं और बहुत सारी चीजों की योजना बनाते हैं। इन्हें किसी भी संबंधों में कोई दिलचस्पी नहीं होती है इसमें विवाह भी आता है।
जानें क्या कहती हैं आपके पैरों की उंगलियां
जिस इंसान के पैर में अंगूठा छोड़ कर सारी उंगलियां बराबर हों और अंगूठा उनमें सबसे लंबा हो तो ऐसा व्यक्ति कलाप्रेमी होता है। इनमें आकर्षण बहुत होगा और ये खोजी प्रकृति के व्यक्ति होंगे। यानी हर चीज में रिसर्च करते होंगे। बहुत ही शांत रहना इनकी आदत होगी।
जिनके पैर में अंगूठे की बगल की उंगली यदि बराबर हो तो ऐसा व्यक्ति बहुत रोबिला होता है। इन्हें दूसरों पर प्रभाव दिखाने की आदत होती है। ऐसा व्यक्ति बेहतर लीडर होता है। ये अपनी बात मनवाने का गुण बेहतर तरीके से जानते हैं। बस इनके अंदर जिद्द सवार होनी चाहिए। जिद्द जो ठान ली वह पूरा करके रहते हैं। कई बार अपनी जिद्द को पूरा करने में ये खुद को भी हानि पहुंचा लेते हैं।
जिनके अंगूठे और उंगलियों के बीच गैप ज्यादा हो ऐसे लोग हमेशा अपने परिवार से अलग.थलग ही रहते हैं। बड़े परिवार के बाद भी इनका लगाव परिवार से नहीं होता। उनके साथ लोग जुड़ते हैं लेकिन जल्दी ही साथ छोड़ देते हैं। ये एकांत में रहते हैं।
अगूंठा अगर आगे से गोल है खास कर पुरुषों का तो ऐसे लोग बहुत धनी होते हैं। 
यदि आपके पैर की एड़ी हमेशा फटी रहती है तो समझ लें ये किस्मत फटी होने का संकेत है। ऐसे लोग पुरानी चीजों को साथ लेकर चलते हैं। यही कारण है कि आपके ऊपर किसी न किसी का श्राप लिए हुए हैं। इस कारण आपकी सफलता रुक रही है। 
यदि आपके पैर हमेशा गर्म रहते हैं या पसीना आता है उसमें तो समझ लें कि आप को जीवन में कुछ भी आसानी से नहीं मिलने वाला। आपकी तमाम मेहनत का फल बहुत कम मिलेगा। 
यदि पैरे में अंगूठे से घटते क्रम में उंगलियां हो तो ऐसे लोग भी प्रभावशाली प्रकृति के होते हैं। ये अपनी बात ही सही मानते हैं और दूसरों की बात को तवज्जो नहीं देते। यही कारण है कि गृहस्थ जीवन इनका बहुत सुखमय नहीं होता।
यदि पैर में अंगूठा और बगल की दो उंगलियां बराबर हों तो ऐसा इंसान मेहनती, नम्र तथा जिम्मेदार प्रवृति का होता है। ये किसी विवाद में नहीं पड़ते न ही किसी को परेशान करते हैं। ये एक अच्छे जीवनसाथी होते हैं।
यदि किसी के पैर में अंगूठे के पास वाली उंगली अंगूठे तथा अन्य सभी उंगलियों से भी अधिक लंबी हो] तो ऐसा व्यक्ति काफी एनर्जेटिक होता है। ये किसी भी काम को ठान लें तो करने से पीछे नहीं हटते। इनके अंदर अजीब सी स्फूर्ति होती है और ये इनके लिए सकारात्मक होती है।
धर्म -अध्यात्म सम्बन्धी यह आलेख आपको कैसा लगा ?  अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही  धर्म -अध्यात्म से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com
ये भी पढ़े

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

पांव के तलवे...

पांव के तलवे से जानिए कैसा है आपका भविष्य...

मुद्राएं जो ...

मुद्राएं जो रोग मिटाएं

नाखून देखकर ...

नाखून देखकर पहचानें रोग

हथेली में छि...

हथेली में छिपा आपका स्वास्थ्य

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

घर पर वाइट ह...

घर पर वाइट हैड्स...

वाइट हैड्स से छुटकारा पाने के लिए 7 टिप्स

बच्चे पर मात...

बच्चे पर माता-पिता...

आपकी यह कुछ आदतें बच्चों में भी आ सकती हैं

संपादक की पसंद

तोहफा - गृहल...

तोहफा - गृहलक्ष्मी...

'डार्लिंग, शुरुआत तुम करो, पता तो चले कि तुमने मुझसे...

समझौता - गृह...

समझौता - गृहलक्ष्मी...

लेकिन मौत के सिकंजे में उसका एकलौता बेटा आ गया था और...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription