होम मेड ड्रिंक्स से करें बाडी डिटाक्स

Jyoti Sohi

21st April 2021

खराब लाइफस्टाइल और खानपान से शरीर में गंभीर बीमारियां हो सकती हैं, इसलिए समय समय पर डिटॉक्सीफिकेशन करना जरूरी है। ऐसा करने से किडनी, लिवर, डाइजेशन सिस्टम, फेफड़े और स्किन में मौजूद विषैले टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते है। जब शरीर के ये पार्ट्स स्वस्थ रहेंगे तो आप खुद ब खुद सेहतमंद रहेंगे। डिटॉक्स ड्रिंक पसीने और यूरिन के जरिए शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकाल देते है।

होम मेड ड्रिंक्स से करें बाडी डिटाक्स

शरीर को  मज़बूत रखने के लिए उसे समय समय पर डिटॉक्सीफाई करना बेहद जरूरी होता है। दरअसल, टॉक्सिक चीजें हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है। अक्सर कहा जाता है कि अत्यधिक मात्रा में पानी पीने से शरीर से मौजूद विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते है। खराब लाइफस्टाइल और खानपान से शरीर में गंभीर बीमारियां हो सकती हैं, इसलिए समय समय पर डिटॉक्सीफिकेशन करना जरूरी है। ऐसा करने से किडनी, लिवर, डाइजेशन सिस्टम, फेफड़े और स्किन में मौजूद विषैले टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते है। जब शरीर के ये पार्ट्स स्वस्थ रहेंगे तो आप खुद ब खुद सेहतमंद रहेंगे। डिटॉक्स ड्रिंक पसीने और यूरिन के जरिए शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकाल देते है। साथ ही इससे कैलोरी बर्न होती है और मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है जिससे वजन कंट्रोल में रहता है। शरीर को डिटॉक्सीफाई करने के लिए पानी में हर्ब्स, फल और सब्जियों की मदद से ड्रिंक तैयार किया जाता है। आइए जानते हैं, कुछ खास ड्रिंकस 

 

हल्दी और पालक से बना डिटॉक्स वॉटर

हल्दी और पालक हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होते है। हल्दी में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जबकि पालक डिटॉक्सीफाइंग एजेंट है जो आपके सिस्टम को अच्छी तरह से साफ करने का काम करता है। आप हल्दी और पालक के पीसकर स्मूदी तैयार कर सकते हैं और आप इसे दिनभर में एक से दो कप पी सकते हैं। इसके अलावा रोजाना पालक के पत्ते खाएंए और आप चाहे तो सूप बनाकर या फिर किसी सब्जी के साथ मिलाकर खा सकते हैं। पालक आपकी इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करता है। हल्दी में विटामिन ए की भरपूर मात्रा होती है जो आपके सेहत के लिए बहुत जरूरी है।

 

नींबू की चाय

नींबू की चाय विटामिन सी से भरपूर होती है। अगर हम इसमें हल्दीए सादा पानी और थोड़ी सी काली मिर्च मिला देते हैए तो यह सबसे अधिक स्फूर्तिदायक ड्रिंक बन जाती है। नींबू आप के संपूर्ण इम्यून सिस्टम के लिए फायदेमंद होने के अलावा बहुत से गुणों के लिए जाना जाता है। यह आपके दिन की शुरुआत दैनिक आधार पर करने के लिए सबसे अच्छी चाय की किस्मोंमें से एक है।

 

पुदीना चाय

पुदीना कई स्वास्थ्य उपयोगी गुणों से भरपूर हैं। पुदीना में पाए जाने वाला विटामिन सी आपके शरीर की समग्र प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाता है। इसके अलावा यह वायु मार्ग को साफ करने में भी सहायक है जो खांसी के कारण अवरुद्ध हो सकता है। पुदीना में मौजूद मैंगनीज आपके शरीर में मुक्त कणों की गिनती करता है और उन्हें बेअसर करने में मदद करता है।

 

खीरे और पुदीने से तैयार डिटॉक्स ड्रिंक

ये डिटॉक्स ड्रिंक न केवल शरीर से हानिकारक विषैले तत्वों को बाहर निकालने में मददगार है बल्कि स्वाद और महक भी लाजवाब है। खीरा और पुदीना पानी में डाले जाने के बाद इनमें निहित पोषक तत्व पानी में घुल जाते हैं, जिससे आपका पाचन बेहतर होता है। इसको बनाने के लिए खीरे के कुछ टुकड़े और पुदीने की पत्तियां डालकर अच्छे से ब्लैंड करें। इसे सुबह खाली पेट लें या रात को सोने से आधां घंटा पहले भी पिया जा सकता है। 

 

दालचीनी डिटॉक्स ड्रिंक  

दालचीनी के ड्रिंक से आपका मेटाबॉलिज्म तो मजबूत होता ही है। साथ ही इसमें फैट को गलाने की ताकत भी होती है।

इसे तैयार करने के लिए एक कंटेनर में गुनगुना पानी लीजिए और इसमें एक छोटी चम्मच दालचीनी का पाउडर डालकर अच्छे से मिक्स करें। सोते वक्त इस डिटॉक्स ड्रिंक का सेवन रोजाना करें। इसके बेहतर रिजल्ट आपको जल्द दिखाई देने लगेंगे।

 

आम और तुलसी के पत्तों का डिटॉक्स वॉटर

तुलसी में एंटी ऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा होती है जो कैंसर के सेल्स को रोकने में मदद करते हैं। आम आपके पाचन को बढ़ाने के अलावा ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है। साथ ही खराब कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करता है।

 

शहद का पानी

अगर आपकी स्किन ड्राई है और आप पेट से जुड़ी समस्याओं से भी परेशान हैं तो आपको हर दिन सुबह गर्म पानी में शहद मिलाकर पीना चाहिए। शहद न केवल मिठास और स्वाद की सही मात्रा जोड़ता है, बल्कि यह टीशूज़ के रिक्रिएशन में भी मदद करता है और कुछ ही समय में आपके शरीर को सक्रिय कर देता है। यही कारण है कि कसरत से पहले शहद के साथ गर्म पानी पीने की सलाह दी जाती है। साथ ही, यह एक हाइड्रेटिंग एजेंट भी है, जो आपको चमकती त्वचा प्रदान करती है।

 

काला नमक का पानी

काला नमक शरीर के लिए कई मायनों में फायदेमंद है। इसमें कुछ ऐसे एंजाइम होते हैं, जो फैट बर्नर की तरह काम करते हैं। काला नमक का पानी आपका पेट साफ कर देता है और आपके मेटाबोलिज्म को भी तेज बना देता है। वहीं अगर आप इस पानी में नींबू का रस मिला दें, तो ये आपके इंसुलिन के स्तर को भी बनाए रखने में मदद करता हैए जिससे आपका ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है। इसका मतलब यह भी है कि आपका भोजन ठीक से पचता है और जारी की गई ऊर्जा शरीर में प्रत्येक कोशिका को वितरित हो जाती है, जिससे फैट का संचय नहीं होता है।

 

शरीर के लिए कैसे फायदेमंद है ये डिटॉक्स ड्रिंक 

इन ड्रिंकस को बनाने में कई सब्जियों, फलों और हर्बस का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें ढेर सारे एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइबर और मिनरल्स होते हैं। इसके अलावा इस ड्रिंकस में मिलाई जाने वाली चीजें एंटी.बैक्टीरियल, एंटी.वायरल और एंटी.इंफ्लेमेट्री गुणों से भी भरपूर है। 

 

किन लोगों को नहीं करना चाहिए इस ड्रिंक का सेवन

वैसे तो ये एंटीऑक्सीडेंट ड्रिंकस सभी के लिए फायदेमंद है, इसलिए इसे कोई भी पी सकता है। लेकिन कई बार इन ड्रिंकस को पीने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। गर्भवती महिलाओं को इस डिटॉक्स ड्रिंक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसके अलावा डायबिटीज के मरीजों को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें नैचुरल शुगर होता है। इसके अलावा जिन लोगों को आंतों में छालों की समस्या है, उन्हें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com

यह भी पढ़े

एवोकाडो है सेहत का खजाना, डाइट में ज़रूर करें शामिल

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

डिटॉक्स वाटर...

डिटॉक्स वाटर पीकर रहें विषैले तत्वों से मुक्त...

7 सावधानियां...

7 सावधानियां जो आपको मोटापे से बचा सकती हैं...

इम्यूनिटी बढ...

इम्यूनिटी बढ़ाएं 10 इम्यूनिटी बूस्टर फूड्स...

कैसे ईम्यूनि...

कैसे ईम्यूनिटी बढ़ाए मटके का पानी, जानें अन्य...

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

चित्त की महत...

चित्त की महत्ता...

श्री गुरुदेव की कृपा के बिना कुछ भी संभव नहीं। अध्यात्म...

तुम अपना भाग...

तुम अपना भाग्य फिर...

एक बार ऐसा हुआ कि पोप अमेरिका गए, वहां पर उनकी कई वचनबद्घताएं...

संपादक की पसंद

शांति के क्ष...

शांति के क्षण -...

मानसिक शांति के अत्यन्त सशक्त क्षण केवल दुर्बल खालीपन...

सुख खोजने की...

सुख खोजने की कला...

एक महिला बोली : मुनिश्री! मैं बड़ी दु:खी हूं। यों तो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription