सर्दी-जुकाम व बुखार का रामबाण इलाज है घर पर बनाया हुआ आयुर्वेदिक काढ़ा

Priyanka Verma

11th September 2020

सर्दी-जुकाम व बुखार का रामबाण इलाज है घर पर बनाया हुआ आयुर्वेदिक काढ़ा
'काढ़ा' कई सारी बीमारियों का रामबाण इलाज है जो कि किचन में प्रयोग होने वाले कई सामानों से बनाया जाता है। काढ़े से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और ये मौसमी बीमारियों विशेषकर सर्दी, जुकाम, बुखार आदि से बचने में भी काफी मदद करता है। तो आइये जानते हैं कुछ ऐसे काढ़ों के बारे में जिन्हें बस थोड़ी सी मेहनत कर आसानी से घर में बना सकते हैं।
रखें कुछ सावधानियां-- 
डॉक्टर के मुताबिक, काढ़े की तासीर गर्म होती है, इसलिए इसे बहुत अधिक सेवन से बचना चाहिए। अगर आप सर्दी, जुकाम या किसी अन्य बीमारी में इसका अधिक सेवन करते हैं तो इससे आपको सीने में जलन की भी परेशानी हो सकती है।
अदरक और गुड़ का काढ़ा--
सबसे पहले पानी को उबाल लें और फिर इसमें बारिक पिसी हुई लौंग, काली मिर्च, इलायची, अदरक और गुड़ डालकर इसे अच्छे से उबलने दें। थोड़ी देर बाद इसमें तुलसी की कुछ पत्तियां डाल दें और पानी उबलकर आधा हो जाने पर इसे ठंडा कर छान लें और दिन में करीब 2 बार पिए। इससे खांसी और जुकाम से तुरंत राहत मिलती है।  
काली मिर्च व नींबू का काढ़ा--
इस काढ़े को बनाने के लिए एक चम्मच काली मिर्च और 4 चम्मच नींबू का रस एक कप पानी में मिलाकर गर्म करें और इसे रोज सुबह पीना पिए। इस काढ़े को पीने से  सर्दी-जुकाम में आराम मिलता है और शरीर में अवांछित वसा भी कम हो जाता है।
लौंग-तुलसी और काला नमक का काढ़ा-- 
ये काढ़ा सबसे असरदार माना जाता है और इससे जल्दी आराम भी मिलता है। सर्दी-खांसी और ब्रोंकाइटिस के मरीजों में लिए यह काढ़ा बड़े काम का है। यह काढ़ा पीने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। 
इस काढ़े को बनाने के लिए धीमी आंच पर 2 गिलास पानी में 10-15 तुलसी की पत्तियां 4-5 लौंग पीसकर पानी में डालें और उबाल लें। जब यह पानी आधा हो जाए तो इसे छानकर पीएं। इससे शरीर का इम्यून सिस्टम बढ़ता है।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

इम्युन सिस्ट...

इम्युन सिस्टम को मजबूत करने में कारगर है...

मसाले बने से...

मसाले बने सेहत के रखवाले

'अदरक के 16 ...

'अदरक के 16 अनोखे फाय़दे'

12 मसाले जो ...

12 मसाले जो इम्यूनिटी मजबूत बनाने में आपकी...

पोल

आपको कैसी लिपस्टिक पसंद है

वोट करने क लिए धन्यवाद

मैट

जैल

गृहलक्ष्मी गपशप

रम जाइए 'कच्...

रम जाइए 'कच्छ के...

गुजरात का कच्छ इन दिनों फिर चर्चा में है और यह चर्चा...

घट-कुम्भ से ...

घट-कुम्भ से कलश...

वैसे तो 'कुम्भ पर्व' का समूचा रूपक ज्योतिष शास्त्र...

संपादक की पसंद

मां सरस्वती ...

मां सरस्वती के प्रसिद्ध...

ज्ञान की देवी के रूप में प्राय: हर भारतीय मां सरस्वती...

लोकगीतों में...

लोकगीतों में बसंत...

लोकगीतों में बसंत का अत्यधिक माहात्म्य है। एक तो बसंत...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription