World Health Day 2021: इन छोटी बातों को गांठ बांध लेंगे तो आप रहेंगे हमेशा हेल्दी

गरिमा अनुराग

5th April 2021

World Health Day 2021: इन छोटी बातों को गांठ बांध लेंगे तो आप रहेंगे हमेशा हेल्दी

हर साल 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है और विश्व स्वास्थ्य संगठन की और से साल 1950 में शुरू किए गए इस खास दिन के पीछे मुख्य उद्देश्य विश्वभर में स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानियों व उनके उपायों पर विचार करना था। आज जब कोरोना नामक वायरस दुनियाभर के 200 से अधिक देशों को अपनी चपेट में ले चुका है, तो इस दिन का महत्व और अधिक समझ में आता है।

जिस तरह से कोरोना ने दुनियाभर में कोहराम मचाया है, उसे देखकर, आब फिट रहना और एक हेल्दी लाइफस्टाइल का अनुसरण करना हमेशा से ज्यादा जरूरी लगता है। अपनी जीवनशैली में ये छोटे-छोटे बदलाव आपको कई तरह के स्वास्थ्य संबंधि परेशानियों से दूर रख सकते हैं, पढ़िए-

सुबह जल्दी उठें-

महानगरों में ऑफिस से देर से लौटने की वजह से ज्यादातर लोग सुबह देर तक सोते रहते हैं। हालांकि 8 घंटे की नींद सभी के लिए जरूरी है, लेकिन जो लोग सुबह देर तक सोते हैं उनमें जल्दी उठने वालों से एनर्जी कम रहती है। देर से उठने का मतलब है, देर से नाश्ता करना, देर से खाना खाना, एक्सरसाइज़ का समय भी न मिलना। सुबह अगर आप एक्सरसाइज़ न करें तो दिनभर आपकू ऊर्जा भी कम रहती है और आप अच्छा काम नहीं कर पाते हैं।

मेडिटेशन है मस्ट

नियमित मेडिशन यानि ध्.यान करने से व्यकित ब्लड प्रेशर, तनाव और डिप्रेशन से ऊबर सकता है। मेडिटेशन इंसान को बाहरी दुनिया से कटकर अपने अंदर से जुड़ने का मौका देता है। इंसान क्या चाहता, वो क्या कर सकता है, उसे ये समझने का मौका देता है। किसी चीज़ पर ध्यान केंद्रित करना, अपनी सांसों पर अपना ध्यान केंद्रित करना या किसी मंत्र का उच्चारण करने से मन और दिमाग दोनों शांत होते हैं। शुरूआत 10 मिनट से करके इस अवधि को समय के साथ बढ़ाएं।

फास्टिंग करना अच्छा है-

हमारे यहां पूजा अर्चना करने व अन्य धार्मिक मौकों पर फास्टिंग करने की प्रथा सदियों से चली आ रही है, लेकिन पहले फास्टिंग ज्यादातर औरतें ही करती थी या वो लोग फास्टिंग करते थे जो पूजा पाठ बहुत करते थे। लेकिन विशेषज्ञों के अनुसार फास्टिंग बूढ़े, बच्चों, जवान, हेल्दी लोग और जो बीमार हैं, उनके लिए भी अच्छा है। इससे पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है।

डिजिटल डिटॉक्स -

अपनी जरूरत और सेहत के अनुसार 15 दिनों या फिर सप्ताह में एक बार डिजिटल डीटॉक्स जरूर करें। जी हां, ये भी एक तरह का फास्टिंग है। एक दिन खुद को हर उस गैजेट से दूर रखें जो ब्लू लाइट रिलीज़ करता हो। खुद को टीवी, लैपटॉप, मोबाइल पर वेब सीरीज़ या विंडो शॉपिंग करने से रोकें, इससे आपकी नींद अच्छी होगी। गैजेट्स के जरूरत से ज्यादा यूज़ करने से नींद ने आने जैसी समस्या शुरू होने लगती है औऱ जहां नियमित नींद न आने लगे तो ब्लड शुगर बढ़ने, तनाव, चिड़चिड़ापन, वज़न बढ़ने, पीठ में दर्द जैसी समस्याएं भी शुरू हो जाती है।

पूरी तरह से फैट खाना बंद न करें- 

स्लिम ट्रिम रहने की कोशिश में हर तरह के फैट को अपनी डायट से न हटाएं। कई अच्छे फैट जैसे घी, अवोकैडो, कोल्ड प्रेस्ड नारियल तेल, फैटी मछलियां, नट्स, आदी पर्याप्त मात्रा में खाएं, लेकिन खाएं जरूर क्योंकि इनसे शरीर को हेल्दी फैट मिलते है। ये दिमाग के सेहत के लिए भी अच्छे होते हैं।

कमेंट करें

blog comments powered by Disqus

संबंधित आलेख

देर रात खाना...

देर रात खाना खाने से हो सकते हैं आपको ये...

वेट लॉस करने...

वेट लॉस करने के लिए वॉटर फास्टिंग, क्या हैं...

अनिद्रा से क...

अनिद्रा से कैसे पाएं निजात

वजन घटाने के...

वजन घटाने के लिए आसान और सरल 20 उपाय

पोल

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

वोट करने क लिए धन्यवाद

इंग्लैण्ड

जर्मनी

गृहलक्ष्मी गपशप

चित्त की महत...

चित्त की महत्ता...

श्री गुरुदेव की कृपा के बिना कुछ भी संभव नहीं। अध्यात्म...

तुम अपना भाग...

तुम अपना भाग्य फिर...

एक बार ऐसा हुआ कि पोप अमेरिका गए, वहां पर उनकी कई वचनबद्घताएं...

संपादक की पसंद

शांति के क्ष...

शांति के क्षण -...

मानसिक शांति के अत्यन्त सशक्त क्षण केवल दुर्बल खालीपन...

सुख खोजने की...

सुख खोजने की कला...

एक महिला बोली : मुनिश्री! मैं बड़ी दु:खी हूं। यों तो...

सदस्यता लें

Magazine-Subscription